मुख्य समाचार:

टाइटन: मुनाफे से घाटे में आई राकेश झुनझुनवाला की पसंदीदा कंपनी, क्या आपको लगाना चाहिए दांव

जून तिमाही के नतीजों के बाद टाइटन कंपनी के शेयरों में आज खासी गिरावट देखी जा रही है.

August 11, 2020 10:53 AM
Titan Company, Rakesh Jhunjhunwala, should you invest in Titan Company, Titan Company faces net loss in Q1, jewellery and watch making company, buy titan company, multibagger stocks, crorepati stocks, टाइटन कंपनी, राकेश झुनझुनवालाजून तिमाही के नतीजों के बाद टाइटन कंपनी के शेयरों में आज खासी गिरावट देखी जा रही है.

Titan Company Stock After Q1 Result:  जून तिमाही के नतीजों के बाद टाइटन कंपनी के शेयरों में आज खासी गिरावट देखी जा रही है. सेंसेक्स 30 का आज यह टॉप लूजर है. शेयर करीब 4.5 फीसदी टूटकर 1056 रुपये के भाव पर आ गया है. जबकि सोमवार को यह 1108 रुपये पर बंद हुआ था. आल में टाइटन कंपनी के कारोबार में लॉकडाउन की जमकर मार पड़ी है, जिससे कंपनी को जून तिमाही में घाटा हुआ है. वहीं मैनेजमेंट का मानना है कि यह दबाव मौजूदा तिमाही में भी दिख सकता है. एक्सपर्ट भी मान रहे हैं कि दिसंबर तिमाही में भी रिकवरी देखने को मिलेगी.

270 करोड़ का नेट लॉस

ज्वैलरी और घड़ी बनाने वाली कंपनी टाइटन कंपनी को जून तिमाही में प्री टैक्स घाटा 335 करोड़ का हुआ है, जबकि एक साल पहले की तिमाही में कंपनी का प्रॉफिट बिफोर टैक्स (PBT) 523 करोड़ रुपये रहा था. कंपनी को 270 करोड़ का नेट लॉस हुआ है, जबकि एक साल पहले की समान तिमाही में कंपनी को 371 करोड़ का शुद्ध लाभ हुआ था. कंपनी की कुल इनकम 4939 करोड़ से घटकर 1,862 करोड़ रह गई है.

अभी एक और तिमाही रहेगा दबाव

अप्रैल और मई में कंपनी के ज्यादातर शोरूम लॉकडाउन की वजह से बंद रहे हैं. जिससे कंपनी की सेल्स बुरी तरह से प्रभावित रही है. यहां तक कि जून कं अंत में भी 83 फीसदी ही स्टोर खुल पाए. वहीं लॉकडाउन की वजह से कंज्यूमर का सेंटीमेंट भी प्रभावित हुआ और वे अभी स्टोर से दूर हैं. कई जग अभी भी लॉकडाउन जारी है. ज्यादातर घरों में शादिश्यों की तारीख आगे बढ़ी है, जिससे वेडिंग ज्वैलरी की डिमांड कमजोर हुई है. कंपनी का मानना है कि कारोबार में सही से रिकवरी दिसंबी तिमाही में ही हो पाएगी.

क्या कहना है ब्रोकरेज हाउस का

ब्रोकरेज हाउस मॉर्गन स्टैनले का मानना है कि अभी डिमांड रिकवरी कमजोर रहेगी. यह एक तिमाही बाद ही सुधरेगी. वहीं गोल्डमैन सैक्स ने भी माना है कि कंपनी के हर बिजनेस पर सितंबर तिमाही तक दबाव रहेगा. यहां तक कि ज्वैलरी बिजनेस भी कमजोर रहेगा. हालांकि ब्रोकरेज हाउस मोतीलाल ओसवाल के मुताबिक कंपनी का ट्रैक रिकॉर्ड बेहतर है. पिछले 4 साल से कंपनी का अर्निंग ग्रोथ 22 फीसदी रही है. पियर कंपनियों की तुलना में यह बेहतर है. उम्मीद है कि आगे कंपनी के ज्वैलरी बिजनेस में तेजी आएगी.

क्या आपको करना चाहिए निवेश

मॉर्गन स्टैनले

रेटिंग: अंडरवेट
लक्ष्य: 807 रु

गौल्डमैन सैक्स

रेटिंग: Sell
लक्ष्य: 705 रु

मोतीलाल ओसवाल

रेटिंग: Buy
लक्ष्य: 1108 रु

प्रभुदास लीलाधर

रेटिंग: Accumulate
लक्ष्य: 1057 रु

(नोट: हमने यहां जानकारी कंपनी के तिमाही प्रदर्शन और ब्रोकरेज हाउस की रिपोर्ट पर दी है. बाजार के जोखिम को देखते हुए निवेश के पहले एक्सपर्ट की राय लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. टाइटन: मुनाफे से घाटे में आई राकेश झुनझुनवाला की पसंदीदा कंपनी, क्या आपको लगाना चाहिए दांव

Go to Top