मुख्य समाचार:

इस महीने खुलेगा 10 हजार करोड़ का CPSE ETF! 11 सरकारी कंपनियों में निवेश का मौका, लेकिन पहले देख लें प्रदर्शन

CPSE ETF का 7वां चरण इस महीने की 30 तारीख को निवेश के लिए खुल सकता है.

January 23, 2020 5:36 PM
CPSE ETF, should you invest in CPSE ETF, CPSE एक्सचेंज ट्रेडेड फंड, opportunity to invest in govt companies, energy and oil sector, stock market, fund manager, disinvestmentCPSE ETF का 7वां चरण इस महीने की 30 तारीख को निवेश के लिए खुल सकता है.

CPSE एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (ETF) के सांतवें चरण के जरिए सरकार की योजना 10 हजार करोड़ रुपये जुटाने की है. अगर इसे निवेशकों का अच्छा रिस्पांस मिला तो इसमें अतिरिक्त रकम जुटाने का भी विकल्प खुला होगा. मार्केट सूत्रों के अनुसार यह इस महीने की आखिर में 30 जनवरी को निवेश के लिए खुल रहा है. 30 जनवरी को यह एंकर इन्वेस्टर्स के लिए और 31 जनवरी को इंस्टीट्यूशनल और रिटेल इन्वेस्टर्स के लिए खुलेगा. CPSE एक्सचेंज ट्रेडेड फंड में 11 बड़ी सरकारी कंपनियों में निवेश का मौका होगा. बता दें कि सरकार का CPSE ETF के जरिए 1.05 लाख करोड़ के विनिवेश का लक्ष्य है.

पिछले 6 चरण की बात करें तो निवेशकों का मिला जुला रिस्पांस रहा है. अगर आप भी इसमें निवेश करने की सोच रहे हैं तो पहले इसका प्रदर्शन जरूर देखें. CPSE ETF को निप्पॉन लाइफ इंडिया एसेट मैनेजमेंट मैनेज कर रही है, जिसे पहले रिलायंस निप्पॉन लाइफ एसेट मैनेजमेंट के नाम से जानते थे. सरकार ने पिछले 2 चरण में CPSE ETF को मिले मजबूत रिस्पांस की वजह से इसके 7वें चरण को लांच करने की योजना बनाई है.

CPSE ETF: 6 चरण में सरकार ने जुटाए 49500 करोड़

पिछले 6 चरण की बात करें तो CPSE ETF के जरिए सरकार अबतक 49500 करोड़ रुपये जुटा चुकी है. मार्च 2014 में पहले चरण से 3000 करोड़, जनवरी 2017 में दूसरे चरण से 6000 करोड, मार्च 2017 में तीसरे चरण से 2500 करोड़, नवंबर 2018 में चौथे चरण से 17,000 करोड़ और मार्च 2019 में पांचवें चरण से 10,000 करोड़ रुपये जुटाए थे. वहीं, जुलाई 2019 में छठें चरण के जरिए सरकार ने इससे 11500 करोड़ रुपये जुटाए.

किन कंपनियों में निवेश का मौका

CPSE एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (ETF) के जरिए 11 सेंट्रल पब्लिक सेक्टर इंटरप्राइजेज (CPSEs) के शेयर ट्रैक होते हैं. इनमें ONGC, NTPC, कोल इंडिया, IOC, रूरल इलेक्ट्रिफिकेशन कॉरपोरेशन, पावर फाइनेंस कॉरपोरेशन, भारत इलेक्ट्रॉनिक्स, आयल इंडिया, NBCC इंडिया, NLC इंडिया, और SJVN शामिल हैं.

सरकार की कितनी हिस्सेदारी

CPSE ETF में शामिल कंपनियों में सरकार की हिस्सेदारी की बात करें तो NTPC में 56 फीसदी, कोल इंडिया में 70.96 फीसदी, ONGC में 64.25 फीसदी, IOC में 52.18 फीसदी, PFC में 59.05 फीसदी, BEL में 58.83 फीसदी, Oil India में 61.61 फीसदी, NBCC में 68.18 फीसदी, NLC India में 81.91 फीसदी और SJVN में 88.78 फीसदी है.

कैसा रहा है CPSE ETF का प्रदर्शन

CPSE ETF के प्रदर्शन पर नजर डालें तो 6 महीने में इसने करीब -15.30 फीसदी, 1 साल में -8.13 फीसदी और इस साल अबतक -7.93 फीसदी की दर से रिटर्न दिया है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. इस महीने खुलेगा 10 हजार करोड़ का CPSE ETF! 11 सरकारी कंपनियों में निवेश का मौका, लेकिन पहले देख लें प्रदर्शन

Go to Top