मुख्य समाचार:

बाजार का बादशाह! RIL ने 18 हफ्तों में 143% दिया रिटर्न, क्या निवेशकों को अभी भी लगाना चाहिए पैसा?

RIL Stock: मुकेश अंबानी के आरआईएल (RIL) ने पिछले 4 महीने से कुछ ज्यादा समय में 143 फीसदी रिटर्न दिया है.

Published: July 31, 2020 11:37 AM
RIL, Reliance Industries, RIL stocks on high valuation, should you buy RIL after june quarter result, RIL Buy or Sell, Brokerage view on RIL, RIL has given 143% return in 18 weeks, Jio, RIL Retail, RIL Telecom, RIL Consumer BusinessRIL Stock: मुकेश अंबानी के आरआईएल (RIL) ने पिछले 4 महीने से कुछ ज्यादा समय में 143 फीसदी रिटर्न दिया है.

RIL Stock Outlook After Q1: मुकेश अंबानी के आरआईएल (RIL) ने पिछले 4 महीने से कुछ ज्यादा समय में 143 फीसदी रिटर्न दिया है. इसी महीने सलाना मीटिंग में कुछ बड़े एलान के बाद अब गुरूवार को आरआईएल ने अपने जून तिमाही के नतीजे भी जारी कर दिए हैं. आरआईएल का मुनाफा जून तिमाही में 31 फीसदी बढकर करोड़ रहा है, जो बाजार की उम्मीदों से बेहतर है. इसमें जियो का बड़ा योगदान रहा, जिसका मुनाफा 183 फीसदी बढ़ा है. फिलहाल हाई वैल्युएशन पर चल रहे शेयर को लेकर निवेशक अब कनफ्यूजन में हैं. कई के मन में सवाल है कि क्या तिमाही नतीजों के बाद भी शेयर में तेजी जारी रहेगी. या उंचे भाव पर चल रहे शेयर में गिरावट का इंतजार करना चाहिए.

कैसा रहा RIL का प्रदर्शन

RIL को पहली तिमाही में 13,248 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ है, जो सालाना आधार पर 30.6 फीसदी अधिक है. कंपनी ने कहा कि उसे Jio Platform में हिस्सेदारी बिक्री से 4,966 करोड़ रुपये का एक्सेप्शनल गेन हुआ है. आरआईएल की आय घटकर 95,626 करोड़ रही. हालांकि तिमाही आणार पर आय बढ़ी है. EBITDA जून तिमाही में 11.8% गिरकर 21,585 करोड़ रुपये का रहा. RIL का रिफाइनिंग व पेट्रोकेमिकल्स से रेवेन्यू 46,642 करोड़ और 25,192 करोड़ रुपये रहा. रिटेल बिजनेस से रेवेन्यू 31,633 करोड़ और डिजिटल सर्विसेज से 21,302 करोड़ रुपये रहा.

जियो का एआरपीयू बढ़ा

रिलायंस जियो का मुनाफा 183 फीसदी बढ़कर 2,520 करोड़ रुपये रहा है. जियो का कस्टमर बेस 39.83 यूजर्स का था. जियो द्वारा जारी बयान के मुताबिक, पहली तिमाही में कंपनी का ARPU 140.3 रुपये प्रति सब्सक्राइबर प्रति माह रहा. यह सालाना आधार पर 30.2 फीसदी की बढ़ोत्तरी है.

और तेजी दिख सकती है

एक्सपर्ट का कहना है कि जून तिमाही के नतीजे बेहतर रहे हैं. पियर कंपनियों की तुलना में इसे आउटपरफॉर्म कहा जा सकता है. लॉकडाउन की वजह से रिटेल और एनर्जी बिजनसे का EBITDA कमजोर हुआ है, लेकिन आगे इसमें रिकवरी की उम्मीद है. दूसरी ओर टेलिकॉम EBITDA टेरिफ की कीमतें बढ़ने और डाटा की मांग बढ़ने से फायदा हुआ है. कंज्यूमर बिजनेस पर फोकस से ओवरआल EBITDA में अच्छी ग्रोथ की उम्मीद है. ऐसे में हाई वैल्युएशन के बाद भी इसमें कुछ और तेजी संभव है.

क्या कहना है ब्रोकरेज हाउस का

मोतीलाल ओसवाल

रेटिंग: Buy
लक्ष्य: 2250 रुपये
करंट प्राइस: 2109

प्रभुदास लीलाधर

रेटिंग: Buy
लक्ष्य: 2170 रुपये
करंट प्राइस: 2109

शेयरखान

रेटिंग: Buy
लक्ष्य: 2400 रुपये
करंट प्राइस: 2109 रुपये

इडेलवाइस

रेटिंग: Hold
लक्ष्य: 2105 रुपये
करंट प्राइस: 2109 रुपये

CLSA

रेटिंग: Buy
लक्ष्य: 2250 रुपये
करंट प्राइस: 2109 रुपये

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. बाजार का बादशाह! RIL ने 18 हफ्तों में 143% दिया रिटर्न, क्या निवेशकों को अभी भी लगाना चाहिए पैसा?

Go to Top