मुख्य समाचार:

सिर्फ 2.50 रुपये से चूक गई मुकेश अंबानी की RIL! नहीं तो बन जाता शेयर बाजार का इतिहास

मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) शेयर बाजार में इतिहास बनाने के करीब पहुंच गई है.

November 27, 2019 5:14 PM
shocking for RIL, reliance industry missed to create history, 2.50 rupees set back, मुकेश अंबानी, रिलायंस इंडस्ट्रीज, RIL Vs TCS, RIL market cap, RIL closes to 10 lakh cr rs market capमुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) शेयर बाजार में इतिहास बनाने के करीब पहुंच गई है.

मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) शेयर बाजार में इतिहास बनाने के करीब पहुंच गई है. आज RIL का शेयर इंट्राडे में 1575 रुपये के भाव पर पहुंच गया और उस दौरान कंपनी का मार्केट कैप करीब 9.98 लाख करोड़ रुपये पहुंच गया. यानी 10 लाख करोड़ रुपये मार्केट कैप बनने से आरआईएल आज भी चूक गई. आज के यूनिट के आधार पर देखें तो अगर आरआईएल का शेयर 1577.5 रुपये के भाव को दू लेता तो कंपनी का मार्केट कैप 10 लाख करोड़ के पार हो जाता. मंगलवार को भी आरआईएल का मार्केट कैप 9.99 लाख करोड़ पहुंचा था, जब शेयर ने 1576 रुपये का भाव टच किया.

शेयर में इस साल 40% रही तेजी

रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर में इस साल अबतक शानदार तेजी देखने को मिली है. 1 जनवरी से 27 नवंबर तक जहां कंपनी के शेयर का भाव 1121.05 रुपये से बढ़कर 1569.75 रुपये पर पहुंच गया है. यानी शेयर में करीब 40 फीसदी तेजी रही है. शेयर के 52 हफ्तों का हाई 1576 रुपये है, यह भाव 26 नवंबर यानी मंगलवार के कारोबार में पहुंचा था.

असल में कंपनी के वित्तीय नतीजे बीती तिमाही के दौरान बेहतर रहे हैं. वहीं मुकेश अंबानी ने पिछले दिनों एलान किया था कि वह अपना पूरा डेट 18 महीनों में चरणबद्ध तरीके से खत्म कर देंगे. इसके बाद से ही अबतक शेयर को लेकर निवेशकों का सेंटीमेंट मजबूत बना हुआ है. वहीं, कंपनी सउदी अरब की कंपनी सउदी अरामको में आयल टु केमिकल बिजनेस की हिस्सेदारी बेचने जा रही है. शेयर में मजबूती का एक और बड़ा कारण है कि कंपनी के टेलिकॉर्म आर्म जियो और रिटेल कारोबार की ओर से भी बेहतर प्रदर्शन देखने को मिल रहा है.

रेस में TCS काफी पीछे हुई

मार्केट कैप के मामले में लंबे समय से रिलायंस इंडस्ट्रीज और TCS में एक होउ़ सी रही है. पिछले साल सितंबर में जब TCS ने 8 लाख करोड़ का आंकड़ा पार किया तो उसने आरआईएल को पीछे छोड़ दिया था. उसके पहले भी कुछ मौकों पर ये दोनों कंपनियां एक दूसरे से आगे निकलती रही हैं. लेकिन इस साल आरआईएल के शेयरों के बेहतर प्रदर्शन से TCS रेस में काफी पीछे चली गई है.

अभी TCS का मार्केट कैप 7,70,533.44 करोड़ रुपये है यानी आरआईएल से 2.25 लाख करोड़ कम. इस साल TCS के शेयर में अबतक सिर्फ 8.5 फीसदी ही ग्रोथ रही है और शेयर का भाव 1893.55 रुपये से बढ़कर 2053.45 रुपये के भाव पर पहुंच गया. TCS के 52 हफ्तों का हाई
2296 रुपये है.

कंपनी के नतीजे बेहतर रहे

चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में RIL का मुनाफा सालाना आधार पर 18.3 फीसदी बढ़कर 11,262 करोड़ रुपये रहा है. यह रिकॉर्ड तिमाही मुनाफा है. कंसो रेवेन्यू सालाना आधार पर 4.8 फीसदी बढ़कर 163854 करोड़ रुपये हो गया है. सितंबर तिमाही में आरआईएल का ग्रॉस रिफाइनिंग मार्जिन (GRM) बढ़कर 9.4 डॉलर प्रति बैरल रहा है. प्रॉफिट बिफोर टैक्स 14.1 फीसदी बढ़कर 15,055 करोड़ रहा है, जबकि कैश प्रॉफिट 18% बढ़कर 18,305 करोड़ रहा. डिजिटल और रिटेल बिजनेस में अच्छी ग्रोथ रही.

Jio के नतीजे एक नजर

रिलांयस जियो का मुनाफा वित्त वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही में 45.4 फीसदी बढ़कर 990 करोड़ हो गया है. जून तिमाही में जियो का सब्सक्राइबर बेस बढ़कर 35.52 करोड़ हो गया है. जियो का रेवेन्यू सालाना आधार पर 33.7 फीसदी बढ़कर 12354 करोड़ रुपये हो गया है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. सिर्फ 2.50 रुपये से चूक गई मुकेश अंबानी की RIL! नहीं तो बन जाता शेयर बाजार का इतिहास

Go to Top