Service Sector PMI: ओमिक्रॉन के कारण दिसंबर में सुस्त पड़ा सर्विस सेक्टर, तीन महीने के निचले स्तर पर रहा कारोबार

Service Sector PMI: भारत समेत दुनिया भर में कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन का असर तेजी से इकोनॉमी पर पड़ रहा है. इसके चलते सेवा क्षेत्र की गतिविधियां सुस्त हुई हैं.

Service PMI India services sector activity hits 3-month low in December
पिछले महीने सर्विस सेक्टर की गतिविधियां सुस्त रहीं लेकिन फिर भी इसमें विस्तार हुआ.

Service Sector PMI: भारत समेत दुनिया भर में कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन का असर तेजी से इकोनॉमी पर पड़ रहा है. इसके चलते सेवा क्षेत्र की गतिविधियां सुस्त हुई हैं. पिछले महीने दिसंबर 2021 में देश में सर्विस सेक्टर की गतिविधियां तीन महीने के निचले स्तर पर पहुंच गईं. आज यानी बुधवार 5 जनवरी) को जारी एक मासिक सर्वे के मुताबिक दिसंबर में बिजनेस गतिविधियां और बिक्री में बढ़ोतरी धीमी रही जबकि कीमतों के दबाव व कोरोना की अगली लहर की आशंका से कारोबारी सेंटिमेंट प्रभावित हुआ. आईएचएस मार्किट द्वारा तैयार किया जाने वाला सर्विसेज पर्चेंजिंग इंडेक्स नवंबर में 58.1 पर था, जो अगले ही महीने दिसंबर 2021 में घटकर 55.5 पर आ गया. यह आंकड़ा सितंबर के बाद सबसे कम है.

Market Outlook: शानदार मुनाफे के लिए इन तकनीकी शेयरों में करें निवेश, निफ्टी के लिए 17700 का लेवल है अहम

लगातार पांचवे महीने सर्विस सेक्टर में विस्तार

पिछले महीने सर्विस सेक्टर की गतिविधियां सुस्त रहीं लेकिन फिर भी इसमें विस्तार हुआ. इसे ऐसे समझ सकते हैं कि पर्चेजिंग मैनेजर्स इंडेक्स (PMI) अगर 50 से ऊपर है तो विस्तार हो रहा है, जबकि 50 से नीचे इंडेक्स का मतलब गिरावट होता है. दिसंबर 2021 में भी सेवा क्षेत्र की गतिविधियां बढ़ीं लेकिन सुस्त रूप से. आईएचएस मार्किट की एसोसिएट डायरेक्टर पॉलीअन्ना डी लीमा का कहना है कि सर्विस प्रोवाइडर्स के लिए 2021 का साल कठिन रहा. दिसंबर में ग्रोथ सुस्त रही. लेकिन नए आंकड़ों से सर्वे के ट्रेंड की तुलना में बिक्री और बिजनेस एक्टिविटी में वृद्धि के संकेत मिल रहे हैं.

New Year Tax Planning: नए साल में फिर से करें टैक्स बचाने की कसरत, ये 10 विकल्प बचाएंगे आपके पैसे

नए साल में सुधार की उम्मीद

लीमा के मुताबिक कोरोना के नए वैरिएंट के चलते अभी अनिश्चितता बनी हुई है, जिसके चलते दिसंबर के दौरान रोजगार में गिरावट आई है. हालांकि यह गिरावट मामूली है और नए साल के दौरान इसमें सुधार की उम्मीद है. लीमा के मुताबिक इस साल डिमांड में रिकवरी की उम्मीद है जिसके चलते सर्विस सेक्टर की स्थिति बेहतर होने के आसार हैं.

कंपोजिट पीएमआई आउटपुट इंडेक्स की बात करें तो यह नवंबर में 59.2 पर था जो दिसंबर 2021 में फिसलकर 56.4 पर आ गया. हालांकि इसके बावजूद यह लंबे समय के औसत 53.9 से ऊपर रहा. कंपोजिट पीएमआई आउटपुट इंडेक्स सर्विसेज और मैन्यूफैक्चरिंग आउटपुट को मिलाकर तैयार किया जाता है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

Financial Express Telegram Financial Express is now on Telegram. Click here to join our channel and stay updated with the latest Biz news and updates.

TRENDING NOW

Business News