सर्वाधिक पढ़ी गईं

अब 15 कामकाजी दिनों में होगा निवेशकों की शिकायतों का समाधान, सेबी ने शेयर बाजारों को कहा

सेबी ने कहा कि शेयर बाजारों को निवेशकों की शिकायतें मिलने के बाद उसका समाधान 15 कामकाजी दिनों के अंदर सुनिश्चित करना होगा.

November 6, 2020 9:50 PM
SEBI told stock exchanges to resolve complaints of investors within 15 working daysसेबी ने कहा कि शेयर बाजारों को निवेशकों की शिकायतें मिलने के बाद उसका समाधान 15 कामकाजी दिनों के अंदर सुनिश्चित करना होगा.

मार्केट रेगुलेटर सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया (सेबी) ने शुक्रवार को कहा कि शेयर बाजारों को निवेशकों की शिकायतें मिलने के बाद उसका समाधान 15 कामकाजी दिनों के अंदर सुनिश्चित करना होगा. सेबी ने एक सर्रकुलर में कहा कि इस कदम का मकसद निवेशकों की शिकायत के समाधान की व्यवस्था को मजबूत बनाना है. रेगुलेटर ने यह भी कहा कि निवेशक शिकायत समाधान समिति (IGRC) सूचना के अभाव और मामले की जटिलता का हवाला देते हुए शिकायत को खत्म नहीं करेगी.

शिकायतकर्ता से नहीं लिया जाएगा कोई शुल्क

सेबी ने कहा कि इसके अलावा IGRC का खर्च संबंधित शेयर बाजार उठाएंगे और शिकायतकर्ता से कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा. नियामक ने कहा कि शेयर बाजार यह सुनिश्चित करेंगे कि निवेशकों से शिकायतें मिलने के बाद उसका समाधान 15 कामकाजी दिनों के भीतर हो. अगर शिकायतकर्ता से कोई अतिरिक्त सूचना और जानकारी की जरूरत है, वह शिकायत मिलने के सात कामकाजी दिनों के अंदर मांगी जाएगी. साथ ही शेयर बाजारों को 15 वर्किंग डे के भीतर निपटाई गई सभी शिकायतों का रिकॉर्ड रखना होगा. अगर शिकायत का समाधान निर्धारित 15 दिन के भीतर नहीं होता है, तब उसके कारण को रिकॉर्ड में रखना होगा.

हालांकि, अगर शिकायकर्ता मामले के समाधान से संतुष्ट नहीं है तो लिखित में कारणों को IGRC के पास भेजा जा सकता है. सेबी ने कहा कि यह शेयर बाजारों की जिम्मेदारी होगी कि वह शिकायतों का समाधान समय पर सुनिश्चित करने के लिए सदस्य या शिकायकर्ता से प्राप्त दस्तावेज/जरूरी सूचना और जरूरी मदद आईजीआरसी को उपलब्ध कराएं. आईजीआरसी द्वारा शिकायतों के समाधान के बारे में सेबी ने कहा कि समिति के पास सुलह प्रक्रिया के जरिए निवेशक की शिकायत के समाधान के लिए 15 कामकाजी दिनों का समय होगा.

Gold Price Today: लगातार तीसरे दिन सोने में जारी रही चमक, 792 रुपये का आया उछाल; यहां देखें 10 ग्राम का भाव

अतिरिक्त सूचना वाले मामलों में अधिकतम 30 दिन का समय

अगर IGRC को अतिरिक्त सूचना की जरूरत है, वह शेयर बाजार से उसकी मांग कर सकता है. वैसे मामलों में, जहां अतिरिक्त सूचना मांगी गई है, शिकायत के समाधान में 30 कामकाजी दिनों से ज्यादा समय नहीं लगना चाहिए. मध्यस्थता मामले में सेबी ने कहा कि सदस्य और निवेशक के बीच अगर कोई विवाद होता है और वह सिविल है तो उसे दूसरी प्रक्रिया में ले जाने से पहले IGRC और/या शेयर बाजार द्वारा उपलब्ध मध्यस्थता व्यवस्था में ले जाया जा सकता है. नियामक के मुताबिक अगर शिकायकर्ता IGRC के फैसले से संतुष्ट नहीं है तो वह मध्यस्थता व्यवस्था का इस्तेमाल कर सकता है. वह यह आईजीआरसी की सिफारिश के छह महीने के भीतर कर सकता है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. अब 15 कामकाजी दिनों में होगा निवेशकों की शिकायतों का समाधान, सेबी ने शेयर बाजारों को कहा

Go to Top