मुख्य समाचार:

कमोडिटी में विदेशी निवेश को छूट, FPI की KYC का आएगा नया सर्कुलर: SEBI बोर्ड का फैसला

SEBI ने आईपीओ लिस्टिंग की अवधि घटाने का भी फैसला किया है. साथ ही, कमोडिटी में एफपीआई निवेश की मंजूरी दे दी है.

September 18, 2018 5:31 PM
SEBI, SEBI Board Meet, FPI KYC norms, SEBI Chairman Ajay Tyagi, Khan Working GroupSEBI ने आईपीओ लिस्टिंग की अवधि घटाने का भी फैसला किया है. साथ ही, कमोडिटी में एफपीआई निवेश की मंजूरी दे दी है. (PTI)

मार्केट रेग्युलेट सेबी की मंगलवार को हुई बोर्ड मीटिंग में कई अहम फैसले हुए. मीटिंग के बाद सेबी चेयरमैन अजय त्यागी ने बताया कि बोर्ड मीटिंग में FPI (फॉरेन पोर्टफोलियो इन्वेस्टर्स) की KYC शर्तों पर चर्चा हुई. जल्द ही एफपीआई की केवाईसी का संशोधित सर्कुलर जल्द जारी किया जाएगा. वहीं, बोर्ड ने आईपीओ लिस्टिंग की अवधि घटाने का भी फैसला किया है. साथ ही, कमोडिटी में एफपीआई निवेश की मंजूरी दे दी है.

3 दिन में होगी IPO लिस्टिंग

अजय त्यागी ने बताया कि बोर्ड ने खान वर्किंग ग्रुप के संशोधनों को मंजूरी दी गई है. त्यागी ने लिस्टिंग की मोहलत घटाकर T+3 कर दी है. पहले यह अवधि T+6 यानी, आईपीओ की लिस्टिंग अब तीन वर्किंग दिन में हो जाएगी. कॉरपोरेट बॉन्ड के जरिए 25 फीसदी कर्ज ले सकते हैं. उन्होंने बताया कि ट्रेडिंग की समय सीमा बढ़ाने पर बोर्ड में कोई चर्चा नहीं हुई.

कमोडिटी में विदेशी निवेश का रास्ता खुला

सेबी बोर्ड ने कमोडिटी मार्केट के लिए एक बड़ा फैसला किया है. इसके तहत कमोडिटी में विदेशी निवेश को मंजूरी दे दी है. अजय त्यागी ने बताया कि कमोडिटी डेरिवेटिव में भी एफपीआई को मंजूरी मिली. वहीं, एग्री वायदा की फीस घटाई गई.

म्यूचुअल फंड निवेश में आएगी पारदर्शिता

सेबी चेयरमैन ने बताया कि रेग्युलेटर म्यूचुअल फंड के निवेश में और पारदर्शिता लाएगा. हम म्यूचुअल फंड में निवेश की लागत लगातार घटा रहे हैं. फंड हाउसेस का AUM (एसेट अंडर मैनेजमेंट) बढ़ा है.

कमोडिटी मार्केट का दायरा बढ़ेगा: एक्सपर्ट?

एंजेल ब्रोकिंग के वाइस प्रेसिडेंट कमोडिटी एंड करंसी, अनुज गुप्ता ने FE Hindi Online को बताया कि विदेशी निवेश को छूट मिलने से कमोडिटी मार्केट का दायरा बढ़ेगा. हालांकि कमोडिटी में वही एफपीआई निवेश कर सकेंगे, जिनकी नेटवर्थ 5 लाख डॉलर होगी और उनका डायरेक्ट एक्सपोजर कमोडिटी मार्केट में होगा.

अनुज गुप्ता के अनुसार, एफपीआई को केवाईसी संशोधित नियमों में कुछ छूट मिल सकती है, जिससे उनका घरेलू मार्केट में निवेश बढ़े. अभी कुछ इंटरनेशनल बैंकों या इस तरह की संस्थाओं के जरिए एफपीआई निवेश करते हैं. लेकिन केवाईसी के नए सर्कुलर के बाद उन्हें निवेश करने को लेकर कुछ अन्य सुविधाएं मिल सकती हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. कमोडिटी में विदेशी निवेश को छूट, FPI की KYC का आएगा नया सर्कुलर: SEBI बोर्ड का फैसला

Go to Top