SBI: ये PSU बैंक स्टॉक दे सकता है 40% रिटर्न, ब्रोकरेज हाउस ने लगाया दांव, क्या करेंगे आप? | The Financial Express

SBI: ये PSU बैंक स्टॉक दे सकता है 40% रिटर्न, ब्रोकरेज हाउस ने लगाया दांव, क्या करेंगे आप?

SBI इकोनॉमिक रिकवरी का सबसे ज्यादा लाभ लेने की पोजिशन में है. वहीं कैपिटल, एसेट क्वालिटी और अर्निंग के मामले में भी पियर्स की तुलना में मजबूत स्थिति में है.

SBI: ये PSU बैंक स्टॉक दे सकता है 40% रिटर्न, ब्रोकरेज हाउस ने लगाया दांव, क्या करेंगे आप?
देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक SBI के शेयरों में आज 1 फीसदी के करीब तेजी है. (reuters)

SBI Stock Price: देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक SBI के शेयरों में आज 1 फीसदी के करीब तेजी देखने को मिल रही है. उतार चढ़ाव वाले इस बाजार में भी इस साल शेयर ने पॉजिटिव रिटर्न दिया है. ब्रोकरेज हाउस एमके ग्लोबल शेयर का लेकर बुलिश है और इसमें 680 रुपये के टारगेट के साथ निवेया की सलाह दी है. ब्रोकरेज का कहना है कि यह सरकारी बैंक आगे इकोनॉमिक रिकवरी का सबसे ज्यादा लाभ लेने की पोजिशन में है. वहीं कैपिटल, एसेट क्वालिटी और अर्निंग के मामले में भी बैंक पियर्स की तुलना में या सेक्टर में दूसरे बैंकों से मजबूत स्थिति में दिख रहा है. शेयर का मौजूदा वैल्युएशन आकर्षक है और यहां से हाई रिटर्न मिलने की उम्मीद है.

कितना मिल सकता है रिटर्न

ब्रोकरेज हाउस ने SBI के शेयर के लिए 680 रुपये का टारगेट तय किया है. शेयर का करंट प्राइस 491 रुपये है. इस लिहाज से इसमें आगे 39 से 40 फीसदी रिटर्न मिलने का अनुमान है. ब्रोकरेज का कहना है कि बैंक की ग्रोथ आगे बेहतर रहेगी. कोर प्रॉफिटेबिलिटी बेहतर है और आगे और बेहतर रहने का अनुमान है. FY22E में क्रेडिट ग्रोथ 9.5-10 फीसदी रह सकती है.

क्रेडिट ग्रोथ का अनुमान

ब्रोकरेज हाउस ने FY23 के लिए क्रेडिट ग्रोथ का अनुमान 13.7 फीसदी से घटाकर 12.7 फीसदी कर दिया है. ब्रोकरेज का कहना है कि रूस और यूक्रेन संकट के चलते GDP ग्रोथ पर कुछ असर हो सकता है जिससे क्रेडिट ग्रोथ अनुमान में कटौती की है. लेकिन यह ग्रोथ FY24E/25E में सुधरकर 15 फीसदी/16 फीसदी रह सकती है.

बैंक की एसेट क्वालिटी में सुधार

ब्रोकरेज का कहना है कि बैंक को राइजिंग रेट साइकिल का भी फायदा मिलेगा. रिटेल पकड़ मजबूत है. कारपोरेट एक्टिविटी में सुधार के साथ यह सेग्मेंट भी मजबूत होगा. FY22-24E के लिए बैंक की कोर प्रॉफिट 20 फीसदी CAGR रह सकती है. बैंक को बेहतर तरीके से डिजिटल एडॉप्सन का भी फायदा होगा. क्रेडिट कास्ट नॉर्मलाइज होने के साथ ही बैंक की एसेट क्वालिटी में भी सुधार हुआ है. SBI का GNPA रेश्यो लगातार कम हुआ है. रीस्ट्रक्चर बुक भी घटकर कुल लोन का 1.6 फीसदी रह गया है. रिटेल और एग्री पोर्टफोलियो मजबूत हुआ है. ब्रोकरेज का मानना है कि FY24E तक बैंक का RoAs/RoRWA सुधरकर 0.9%/1.6% रह जाएगा.

(Disclaimer: स्टॉक में निवेश की सलाह ब्रोकरेज हाउस के द्वारा दी गई है. यह फाइनेंशियल एक्सप्रेस के निजी विचार नहीं हैं. बाजार में जोखिम होते हैं, इसलिए निवेश के पहले एक्सपर्ट की राय लें.)  

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

First published on: 24-03-2022 at 11:54 IST

TRENDING NOW

Business News