SBI, HDFC Bank: बैंकिंग सेक्टर के ये 2 ‘सुपरस्टार’ दिखाएंगे दम! निवेशकों को मिल सकता है 50% तक रिटर्न

बैंकिंग सेक्टर के लिए आउटलुक बेहतर है. हाल के कॉरपोरेट अर्निंग सीजन में बैंकों की कमाई में सुधार देखने को मिला है.

निफ्टी बैंक इंडेक्स में अपने 1 साल के हाई से अच्छी खासी गिरावट आ चुकी है. (image: pixabay)

Best Banking Stocks to Buy: निफ्टी बैंक इंडेक्स में अपने 1 साल के हाई से अच्छी खासी गिरावट आ चुकी है. यह 1 साल के हाई लेवल 41,830 से टूटकर गुरूवार को 33,135 के लेवल पर बंद हुआ था. हालांकि बैंकिंग सेक्टर के लिए आउटलुक बेहतर है. हाल के कॉरपोरेट अर्निंग सीजन में बैंकों की कमाई में सुधार देखने को मिला है. सेक्टर की एसेट क्वालिटी में सुधार हुआ है, क्रेडिट ग्रोथ बेहतर हुई है, जबकि कास्ट कंट्रोल भी नजर आया है. इन सबके चलते बिजनेस ग्रोथ बेहतर रही. अगर आप भी सेक्टर से किसी बेहतर शेयर की तलाश में हैं तो देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक SBI और निजी सेक्टर के दिग्गज HDFC Bank पर नजर रख सकते हैं. ब्रोकरेज हाउस इन 2 शेयर को लेकर बुलिश हैं. इनमें आगे 49 से 50 फीसदी तक रिटर्न मिलने की उम्मीद है.

HDFC Bank

ब्रोकरेज हाउस आईसीआईसीआई सिक्योरिटी ने HDFC Bank में निवेश की सलाह देते हुए 1955 रुपये का टारगेट दिया है. करंट प्राइस 1330 रुपये के लिहाज से इसमें 47 फीसदी रिटर्न मिल सकता है. ब्रोकरेज का कहना है कि HDFC Bank की एनुअल रिपोर्ट की थीम एक बार फिर लीडिंग रिस्पॉन्सिब्लाई है. जो टेक्नोलॉजी और सबसे पहले सर्विस कल्चर के साथ रीइमेजिनिंग पर फोकस है. CEO (शशिधर जगदीशन) के पिछले महीने संदेश में कई वजह पर फोकस करते हुए यह बताया गया है कि HDFC के साथ विलय को लागू करने का यह क्यों एक उपयुक्त समय है.

Accenture के नजीजों से IT इंडस्ट्री के लिए मजबूत संकेत; Infosys, TCS, HCL कर सकते हैं आउटपरफॉर्म

एनुअल रिपोर्ट में कहा गया कि बैंक की ग्रोथ सही दिशा में है, अगले 3 से 5 साल में बैंक की ब्रॉन्च को डबल करने का लक्ष्य है, जिसमें हर साल 1500 से 2000 नए ब्रॉन्च खाले जाने का प्लान है. बैंक लगातार मॉडर्न टेक्नोलॉजी और टैलेंट पर निवेश करना जारी रखेगा. रिजर्व रिक्वायरमेंट को पूरा करने के लिए और धन जुटाने की आवश्यकता नहीं होने की उम्मीद है.

SBI

ब्रोकरेज हाउस CLSA ने SBI में ‘BUY’ की सलाह दी है और टारगेट प्राइस 615 रुपये तय किया है. यह करंट प्राइस 450 रुपये की तुलना में 36 फीसदी ज्यादा है. ब्रोकरेज हाउस का कहना है कि बैंक की बिजने ग्रोथ, मार्जिन और एसेट क्वालिटी सही दिशा में हैं. क्रेडिट ग्रोथ उम्मीद से बेहतर नजर आ रही है. बैंक का मार्जिन बौर बेहतर होने की पूरी संभावना है. सबसे अच्छी बात है कि हाल की गिरावट के बाद शेयर का वैल्युएशन भी बेहद आकर्षक हुआ है.

वहीं ब्रोकरेज हाउस आईसीआईसीआई सिक्योरिटी ने SBI में निवेश की सलाह देते हुए 673 रुपये का टारगेट दिया है. यह करंट प्राइस 450 रुपये के लिहाज से इसमें 49 से 50 फीसदी रिटर्न संभव है. ब्रोकरेज के अनुसार SBI का ग्रॉस NPA बीते 1 दशक के लो पर आ गया है. क्रेडिट कास्ट 55bps रह गया और मार्जिन में बेहतर ग्रोथ देखने को मिल रही है. क्रेडिट कास्ट कंट्रोल होने से एसेट क्वालिटी बेहतर हुई है. FY23E/FY24E में क्रेडिट ग्रोथ 13 फीसदी और 15 फीसदी रहने का अनुमान है. बैंक का RoE 13.9% और RoA 0.67% रहा. हर सेग्मेंट मसलन रिटेल, कॉरपोरेट, होमलोन, व्हीकल लोन में ग्रोथ है.

(Disclaimer: स्टॉक में निवेश की सलाह ब्रोकरेज हाउस के द्वारा दी गई है. यह फाइनेंशियल एक्सप्रेस के निजी विचार नहीं हैं. बाजार में जोखिम होते हैं, इसलिए निवेश के पहले एक्सपर्ट की राय लें.)  

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

Most Read In Business News

TRENDING NOW

Business News