मुख्य समाचार:

SBI कार्ड्स IPO: शेयर बाजार में मजबूत एंट्री की उम्मीद, 50% प्रीमियम पर हो सकता है लिस्ट

SBI Card IPO को 50 फीसदी लिस्टिंग गेन मिल सकता है.

March 2, 2020 10:21 AM
SBI Card IPO, SBI Card IPO may seen 50% listing gain, know important facts of SBI cards before invest, IPO market, credit card market, SBI customer baseSBI Card IPO को 50 फीसदी लिस्टिंग गेन मिल सकता है.

SBI Card IPO: SBI कार्ड का IPO निवेश के लिए आज यानी 2 मार्च से खुल रहा है. इसमें 5 मार्च तक निवेश किया जा सकता है. एक्सपर्ट मान रहे हैं कि बाजार में जब सूखा पड़ा है, एसबाआई कार्ड का आईपीओ निवेशकों को 50 फीसदी की लिस्टिंग गेन दिला सकता है. यानी इसमें महज हफ्ते भर में निवेशकों को 50 फीसदी रिटर्न मिल सकता है. इसके पहले IRCTC के आईपीओ की भी बंपर लिस्टिंग हुई थी.

बता दें कि एसबीआई कार्ड का आईपीओ 10,000 करोड़ रुपये का है. आईपीओ के लिए इश्यू प्राइस 750 से 755 रुपये प्रति शेयर के बीच रखा गया है. कंपनी के कर्मचारियों के लिए 15 रुपये प्रति शेयर का डिस्काउंट दिया जाएगा. मार्केट लॉट 19 शेयर का होगा यानी आईपीओ में न्यूनतम 19 शेयरों के लिए बोली लगानी होगी. ऑफर में एक शेयर की फेस वैल्यू 10 रुपये होगी.

50% प्रीमियम पर लिस्ट होने की उम्मीद

ट्रेडिंग बेल्स के सीनियर एनालिस्ट संतोष मीना का कहना है कि एसबीआई कार्ड का आईपीओ सब्सक्रिप्सन और लिस्टिंग गेन दोनों मामले में सफल आईपीओ में एक साबित हो सकता है. उनका कहना है कि उम्मीद है कि आईपीओ 50 फीसदी प्रीमियम पर लिस्ट होगा. उनका कहना है कि आईपीओ को एसबीआई के मजबूत कस्टमर बेस के साथ ही क्रेडिट कार्ड मार्केट में दूसरा सबसे बड़ा हिस्सेदार होने का फायदा मिलेगा. क्रेडिट कार्ड मार्केट की यह पहली कंपनी है जो शेयर बाजार में लिस्ट होने जा रही है.

सैमको सिक्युरिटीज के रिसर्च हेड उमेश मेहता का कहना है कि SBI कार्ड एंड पेमेंट सर्विसेज लिमिटेड क्रेडिट कार्ड स्पेस में लिस्ट होने वाली पहली कंपनी है. यह एसबीआई बैंक का सबसे ज्यादा मुनाफा देने वाला वर्टिकल है. कंपनी फाइनेंशियल तौर पर मजबूत है, आगे मजबूत ग्रोथ की उम्मीद है. ऐसे में मौजूदा वैल्युएशन पर आईपीओ सब्सक्राइब किया जा सकता है.

SBI Cards: 98 लाख से ज्यादा कस्टमर

एसबीआई कार्ड भारत में क्रेडिट कार्ड जारी करने वाली दूसरी सबसे बड़ी कंपनी है. इस मामले में इसका मार्केट शेयर 18 फीसदी से ज्यादा है. 30 नवंबर 2019 तक एसबीआई कार्ड ने 98.3 लाख क्रेडिट कार्ड जारी किए थे, जबकि वित्त वर्ष 2019 में एसबीआई कार्ड द्वारा जारी क्रेडिट कार्ड के जरिए कुल 1,03,265 करोड़ रुपये स्पेंडिंग रही.

SBI: 44.5 करोड़ कस्टमर

SBI के साथ पार्टनरशिप के चलते कंपनी का कस्टमर बेस मजबूत है. 31 दिसंबर 2019 तक एसबीआई के कुल 44.5 करोड़ कस्टमर थे. एसबीआई के देशभर में 21,961 शाखाएं हैं, जिसका फायदा एसबीआई कार्ड को होगा.

मजबूत फाइनेंशियल

SBI कार्ड का मुनाफा वित्त वर्ष 2019 में सालाना आधार पर 43 फीसदी से ज्यादा बढ़कर 862.70 करोड़ रुपये रहा है. 2 साल के दौरान मुनाफे में 2.5 गुना से ज्यादा ग्रोथ रही है.

नेट इंटरेस्ट इनकम सालाना आधार पर 25 फीसदी बढ़कर 2558.50 करोड़ रुपये हो गया. SBI कार्ड का कुल इनकम वित्त वर्ष 2019 में 44.9% CAGR से बढ़कर 7286.83 करोड़ रुपये हो गया है.

SBI कार्ड का कुल एसेट्स सितंबर 2019 तक 24,459.20 करोड़ रुपये था, जो 31 मार्च 2018 में 20,239.60 करोड़ रुपये था. कंपनी की नेट वर्थ वित्त वर्ष 2017 की तुलना में करीब 150 फीसदी बढ़कर वित्त वर्ष 2019 में 3,581.70 करोड़ रुपये हो गई.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. SBI कार्ड्स IPO: शेयर बाजार में मजबूत एंट्री की उम्मीद, 50% प्रीमियम पर हो सकता है लिस्ट
Tags:IPOSBI

Go to Top