सर्वाधिक पढ़ी गईं

Sansera Engineering के शेयरों की प्रीमियम पर लिस्टिंग, निवेशकों को पहले दिन मिला इतना रिटर्न

Sansera Engineering Listing: ऑटोमोबाइल कंपोनेंट बनाने वाली Sansera Engineering के शेयरों की आज 24 सितंबर को मार्केट में प्रीमियम पर लिस्टिंग हुई है.

September 24, 2021 10:35 AM
Sansera Engineering Listing stock lists at premium to ipo price shares price crosses rs 800 on dalal street debutSansera Engineering के शेयर 744 रुपये के इश्यू प्राइस के मुकाबले एनएसई पर करीब 9 फीसदी प्रीमियम 811.50 रुपये के भाव पर लिस्ट हुए.

Sansera Engineering Listing: ऑटोमोबाइल कंपोनेंट बनाने वाली Sansera Engineering के शेयरों की आज 24 सितंबर को मार्केट में प्रीमियम पर लिस्टिंग हुई है. इसके शेयर 744 रुपये के इश्यू प्राइस के मुकाबले एनएसई पर करीब 9 फीसदी प्रीमियम 811.50 रुपये के भाव पर लिस्ट हुए. शुरुआती कारोबार में यह 832.35 रुपये की ऊंचाई तक पहुंच गया. लिस्टिंग के समय इसका मार्केट कैप 4168.54 करोड़ रुपये रहा. सफलतापूर्वक लिस्टिंग के बाद इसने एंड्योरेंस टेक्नोलॉजीज, मिंडा इंडस्ट्रीज, सुंदरम फास्टनर्स, सुप्राजीत इंजीनियरिंग, भारत फोर्जे, मदरसन सुमी सिस्टम्स और महिंद्रा सीआईई ऑटोमोटिव की लीग ज्वाइन कर लिया है.

कंपनी इससे पहले भी घरेलू इक्विटी मार्केट में लिस्ट होने की कोशिश कर चुकी थी. करीब तीन साल पहले अगस्त 2018 में कंपनी ने सेबी के पास आईपीओ लाने के लिए पेपर्स जमा किए थे और सेबी की मंजूरी भी मिल गई थी. Sansera Engineering का मारुति सुजुकी के साथ 30 साल से अधिक का कारोबारी संबंध है.

Income Tax Benefits for Senior Citizens: वरिष्ठ नागरिकों को टैक्स में मिलती है खास रियायतें, जानिए क्या हैं इससे जुड़े नियम

11.47 गुना सब्सक्राइब हुआ था आईपीओ

1283 करोड़ रुपये का यह आईपीओ 14-16 सितंबर तक सब्सक्रिप्शन के लिए खुला था और यह 11.47 गुना सब्सक्राइब हुआ था. हालांकि इस आईपीओ के तहत कोई नया शेयर नहीं जारी हुआ है बल्कि इसके तहत ऑफर फॉर सेल (ओएफएस) के जरिए 1.72 करोड़ इक्विटी शेयर जारी किए गए. आईपीओ से पहले कंपनी ने एंकर निवेशकों से 382 करोड़ रुपये जुटाए थे. आईपीओ के लिए 734-744 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड और 20 शेयरों का लॉट साइज तय किया गया था.

कंपनी से जुड़ी डिटेल्स

  • Sansera Engineering ऑटोमोटिव व नॉन-ऑटोमोटिव सेक्टर्स के लिए कांप्लेक्स और क्रिटिकल प्रेसिशन इंजीनियर्ड कंपोनेंट्स तैयार करती है.
  • ऑटोमोटिव में यह कंपनी कनेक्टिंग रॉड्स, रॉकर आर्म्स बनाती है और नॉन-ऑटोमोटिव में एयरोस्पेस, ऑफ-रोड, खेती व अन्य सेग्मेंट्स को आपूर्ति करती है.
  • वैश्विक स्तर पर कनेक्टिंग रॉड्स सप्लाई करने वाली यह प्रमुख कंपनी है.
  • कंपनी के पास देश भर में 15 मैन्यूफैक्चरिंग प्लांट्स हैं जिसमें से 9 बेंगलूरु में हैं. इसके अलावा एक प्लांट स्वीडन में है.
  • इसका 65 फीसदी रेवेन्यू भारत से आता है और शेष 35 फीसदी अन्य देशों से.
  • ऑटोमोटिव सेक्टर की कंपनी के रेवेन्यू में 88.45 फीसदी हिस्सेदारी है.
  • कंपनी के रेवेन्यू का प्रमुख स्रोत कार के आंतरिक दहन इंजन के कंपोनेंट्स की बिक्री है.
  • FY 21 में कंपनी का रेवेन्यू 1572.36 करोड़ रुपये का था जो उसके पिछले वित्त वर्ष 2019-20 में 1828.24 करोड़ रुपये का था. कंपनी का वित्त वर्ष 2021 में शुद्ध मुनाफा (प्रॉफिट आफ्टर टैक्स) 109.86 करोड़ रुपये का था जबकि उसके पिछले वित्त वर्ष 2020 में यह 79.90 करोड़ रुपये था.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Sansera Engineering के शेयरों की प्रीमियम पर लिस्टिंग, निवेशकों को पहले दिन मिला इतना रिटर्न
Tags:IPO

Go to Top