सर्वाधिक पढ़ी गईं

Route Mobile: रूट मोबाइल की बाजार में दमदार एंट्री, इश्यू प्राइस से 110% तक मजबूत हुआ स्टॉक

Route Mobile Listing: क्लाउंड कम्युनिकेशन सर्विसेज प्रोवाइडर रूट मोबाइल की शेयर बाजार में दमदार एंट्री हुई है.

September 21, 2020 10:45 AM
Route Mobile, Route Mobile IPO, Route Mobile strong listing in stock market, BSE, NSE, IPO, primary market, cloud communication services provider, IPO market, should you buy route mobile stock, should you invest in route mobileIn the recent weeks, primary markets have witnessed a rush of IPOs which have been received well by investors across the board. Retail investors have oversubscribed all the issues so far this month.

Route Mobile Listing: क्लाउंड कम्युनिकेशन सर्विसेज प्रोवाइडर रूट मोबाइल की शेयर बाजार में दमदार एंट्री हुई है. कंपनी का सटॉक बाजार में 102 फीसदी प्रीमियम के साथ लिस्ट हुआ है. शेयर का इश्यू प्राइस 350 रुपये रखा गया था. जबकि यह बीएसई पर 708 रुपये के भाव पर लिस्ट हुआ. वहीं, एनएसई पर रूट मोबाइल का शेयर 105 फीसदी प्रीमियम के साथ 717 रुपये के भाव पर लिस्ट हुआ. यानी जिन निवेशकों ने इश्यू में पैसा लगाया था, उनका पैसा 2 हफ्तों से कम समय में ही डबल हो गया. बता दें कि यह इश्यू निवेश के लिए 9 सितंबर से 11 सितंबर तक खुला था. इसे निवेशकों को शानदार रिस्पांस मिला.

110% तक मजबूत होकर टूटा शेयर

रूट मोबाइल का शेयर आज के कारोबार में इश्यू प्राइस से 110 फीसदी बढ़त के साथ 735 रुपये तक पहुंचा. हालांकि इसके बाद शेयर में कुछ गिरावट आ गई. अभी शेयर बीएसई पर लिस्टिंग प्राइस से करीब 8.5 फीसदी टूटकर 648.25 रुपये पर ट्रेड कर रहा है. वहीं, एनएसई पर भी यह 653.35 रुपये के भाव पर आ गया है.

क्या था प्राइस बैंड

आईपीओ के लिए कंपनी ने 345-350 रुपये प्रति शेयर प्राइस बैंड तय किया था. 40 शेयरों का लॉट साइज था, यानी कम से कम 40 शेयर के लिए आवेदन करने थे. इस इश्यू के बाद कंपनी में प्रमोटर्स की हिस्सेदारी 96 फीसदी से घटकर 66 फीसदी रह जाएगी. कंपनी इस इश्यू से होने वाली आय का इस्तेमाल कर्ज घटाने, ऑफिस खरीदने और रणनीतिक अधिग्रहण के लिए करेगी.

जानें कंपनी के बारे में

कंपनी की शुरूआत साल 2004 में हुई थी. कंपनी मुख्य रूप से ओटीटी और मोबाइल नेटवर्क ऑपरेटर (एमएनओ) के लिए ओम्नीचैनल क्लाउड कम्युनिकेशन सर्विस का काम करती है. कंपनी के पास दुनिया के सबसे बड़े सोशल मीडिया कंपनियों, बैंकिंग और फायनेंशियल सर्विसेज, एविएशन, रिटेल, ई-कॉमर्स, लॉजिस्टिक, हेल्थ, हॉस्पिटैलिटी और टेलीकॉम सेक्टर सहित अन्य का बड़ा कस्टमर बेस है.

कंपनी का वित्तीय प्रदर्शन

30 जून को समाप्त तिमाही में कंपनी का रेवेन्यू 309.6 करोड़ रहा, जबकि वित्त वर्ष 2019-20 के लिए यह आंकड़ा 956.2 करोड़ रुपए था. वित्त वर्ष 2017-18 से 2019-20 के दौरान कंपनी का रेवेन्यू 37.6 फीसदी की ग्रोथ के साथ 956.3 करोड़ रुपये तक पहुंच गया. कंपनी का नेट प्रॉफिट 21.6 फीसदी की दर से बढ़कर 69.1 रुपये तक पहुंच गया.

क्या कहना है एक्सपर्ट का

सैमको सिक्योरिटीज के सीनिसर रिसर्च एनालिस्ट निराली शाह के अनुसार रूट मोबाइल का पिछले 2 साल से ग्रोथ बेहद अच्छी रही है. प्रॉफिट और रेवेन्यू दोनों में शानदार ग्रोथ देखने को मिली. लेकिन कुछ फैक्टर हैं जो कंपनी के लांग टर्म ग्रोथ को प्रभावित कर सकते हैं. इसका कोर बिजनेस कम्युनिकेशन बेस्ड है. इसलिए इस सेक्टर में कंपनी को दूसरी बड़ी कंपनियों से कठिन प्रतियोगिता मिलने वाली है. कंपनी के बुक्स पर अभी लायबिलिटीज बहुत ज्यादा हैं जो बैलेंसशीट की करीब 55 फीसदी है. इससे वर्किंग कैपिटल स्ट्रेस का सामना करना पड़ सकता है. लांग टर्म इन्वेस्टर्स को अभी निवेश से बचना चाहिए. यह आईपीओ उन निवेशकों के लिए ठीक है, जिनकी जोखिम क्षमता अधिक है .

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Route Mobile: रूट मोबाइल की बाजार में दमदार एंट्री, इश्यू प्राइस से 110% तक मजबूत हुआ स्टॉक

Go to Top