मुख्य समाचार:

कोरोना संकट में भी RIL भरेगा निवेशकों की जेब: टॉप ब्रोकरेज ने कहा- शेयर में आउटपरफॉर्म करने की पूरी क्षमता

रिलायंस इंडस्ट्रीज अपने 52 हफ्तों के हाई से करीब 28 फीसदी टूटकर कारोबार कर रहा है.

April 16, 2020 5:26 PM
Top brokerage house on RIL stock, invest in RIL, should you invest in RIL, top stock idea, रिलायंस इंडस्ट्रीज, Reliance Jio, Reliance Retail, RIL GRMरिलायंस इंडस्ट्रीज अपने 52 हफ्तों के हाई से करीब 28 फीसदी टूटकर कारोबार कर रहा है.

रिलायंस इंडस्ट्रीज अपने 52 हफ्तों के हाई से करीब 28 फीसदी टूटकर कारोबार कर रहा है. कोरोना वायरस महामारी के चलते इस साल आरआईएल की जमकर पिटाई हुई है. शेयर फिलहाल 1170 रुपये के भाव पर ट्रेड कर रहा है. जबकि 20 दिसंबर 2019 को शेयर ने 1618 रुपये का हाई बनाया था. इस साल आआईएल सेंसेक्स के टॉप लूजर्स में शामिल रहा. लेकिन एक्सपर्ट का कहना है कि सस्ते भाव पर मिल रहे इस ब्लूचिप शेयर को पोर्टफोलियो में शामिल करने का अच्छा मौका है. इस शेयर में मार्केट के स्थिर होने पर आउटपरफॉर्म करने की क्षमता है. ब्रोकरेज हाउस आरआईएल में 1550 रुपये तक का लक्ष्य दे रहे हैं.

COVID-19: RIL पर असर

कोरोना वायरस के चलते कंपनी के ग्लोबल मार्केट पर असर पड़ा. कंपनी का पेटकैम, रिफाइनिंग और रिटेल बिजनेस प्रभावित हुआ. ट्रैवल को लेकर लगी बंदिशों, ट्रेड एक्टिविटी में कमी और लॉकडाउन ने माहौल और खराब किया. इस दौरान तेल की कीमतों में गिरावट कंपनी के मार्जिन के लिए सपोर्ट देने वाला हो सकता था, लेकिन कोरोना ने पूरा खेल बिगाड़ दिया.

कर्ज को लेकर चिंता नहीं

ब्रोकरेज हाउस गोल्डमैन सैक्स के अनुसार, आरआईएल पर कर्ज को लेकर ज्यादा चिंता नहीं है. कंपनी कैशरिच है, आने वाले दिनों में कंपनी जीरो डेट यानी कर्ज खत्म करने के प्लान पर चलती रहेगी. रिपोर्ट के अनुसार रिलायंस के कंज्यूमर बिजनेस की बाजार हिस्सेदारी अगले वित्त वर्ष में 50 फीसदी तक पहुंच सकती है. कंपनी टेलिकॉम और रिटेल कारोबार में भी बेहतर कर रही है. लॉकडाउन में उसके टेलिकॉम बिजनेस पर असर नहीं हुआ है. लॉकडाउन के बाद रिटेल बिजनेस भी बेहतर होगा. ब्रोकरेज ने शेयर में 1550 रुपये का लक्ष्य दिया है.

GRM आउटलुक कमजोर, लेकिन बाउंसबैक की क्षमता

ब्रोकरेज हाउस एमके ग्लोबल का भी मानना है कि आकर्षक वैलुएशन पर चल रहे आरआईएल में आउटपरफॉर्म करने की क्षमता है. ब्रोकरेज ने शेयर के लिए 1310 रुपये का लक्ष्य दिया है. रिपोर्ट के अनुसार मौजूदा स्थिति 2008 की ग्लोबल मंदी की तरह है. जिसमें रिकवरी टाइमलाइन को लेकर कुछ भी नहीं कहा जा सकता है. नियर टर्म की बात करें तो GRM आउटलुक कमजोर है. ग्लोबल डिमांड हिट होने से यह 7-8 डॉलर/bbl तक कमजोर हो सकता है. पेटकैम बिजनेस भी म्यूटेड रहने की आशंका है. वहीं, रिटेल बिजनेस भी प्रभावित होगा.

शेयर में गिरावट खत्म, अब आएगी तेजी

ब्रोकरेज हाउस एचडीएफसी सिक्युरिटीज ने शेयर के लिए 1400 रुपये का लक्ष्य दिया है. रिपोट्र के अनुसार शेयर में अपने पीक से 25 फीसदी गिरावट आ चुकी है. गिरावट अब खत्म हो चुकी है, आगे तेजी देखने को मिलेगी. रिपोर्ट के अुनसार तीसरी तिमाही की तुलना में 36 फीसदी घटकर GRM $5.9/bbl रह सकता है. कंपनी के टेलिकॉम बिजनेस को लेकर कोई चिंता नहीं है. लॉकडाउन के बाद रिटेल बिजनेस में भी में में ग्रोथ बाजार हिस्सेदारी बढ़ने की उम्मीद है.

(Disclaimer: हमने ये जानकारी ब्रोकरेज हाउस की रिपोर्ट के आधार पर दी है. शेयर बाजार में जोखिम होते हैं, इसलिए निवेश के पहले एक्सपर्ट की राल लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. कोरोना संकट में भी RIL भरेगा निवेशकों की जेब: टॉप ब्रोकरेज ने कहा- शेयर में आउटपरफॉर्म करने की पूरी क्षमता
Tags:RIL

Go to Top