मुख्य समाचार:

मुकेश अंबानी ने 58 दिन में जुटाए 1.69 करोड़, Jio में रिकॉर्ड निवेश से 9 माह पहले ही RIL बनी कर्ज मुक्त

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने महज 58 दिनों में 168,818 करोड़ रुपये का फंड जुटा लिए हैं.

Updated: Jun 19, 2020 11:09 AM
RIL to debt free company, record investment in Jio Platform, success of RIL rights issue, Mukesh Ambani raises 168818 crore Rs in just 58 days, RIL to debt free company, zero debt, मुकेश अंबानी, आरआईएल, रिलायंस इंडस्ट्रीज, जियो प्लेटफॉर्मरिलायंस इंडस्ट्रीज ने महज 58 दिनों में 168,818 करोड़ रुपये का फंड जुटा लिए हैं.

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने महज 58 दिनों में 168,818 करोड़ रुपये का फंड जुटा लिए हैं. इसमें जियो प्लेटफॉर्म में 10 बड़ी कंपनियों के साथ 11 डील के जरिए 115,693.95 करोड़ रुपये आया. जबकि हाल ही में आरआईएल का 53,124.20 करोड़ का राइट्स इश्यू सफलता पूर्वक पूरा हुआ. इस तरह से कुल मिलाकर 58 दिनों में मुकेश अंबानी के आरआईएल को 1,68,818 करोड़ रुपये फंड जुटाने में सफलता मिली. इसके साथ ही अब आरआईएल अब कर्ज मुक्त कंपनी बन गई है. आरआईएल ने मार्च 2021 तक कर्ज मुक्त होने का लक्ष्य रखा था, जो 9 महीने पहले ही पूरा हो गया है.

बता दें कि महज 58 दिनों में इतनी बड़ी रकम का निवेश आकर्षिक करना इंडियान कॉरपोरेट जगत के लिए भी बेंचमार्क बन गया है. आरआईएल के टेलिकॉम आर्म जियो का बड़ा योगदान रहा है. ​जियो अपनी लांचिंग के 4 साल के अंदर ही विदेशी निवेशकों के लिए बड़ा आकर्षण बन गया है और तमाम विदेशी ​इन्वेस्टर्स जियो पर अपना भरोसा जता रहे हैं. जियो के जरिए मुकेश अंबानी डिजिटल किंग बनने की भी राह पर चल पड़े हैं.

RIL पर 1.61 लाख करोड़ कर्ज था

31 मार्च 2020 तक की बात करें रिलायंस इंडस्ट्रीज पर कुल 161,035 करोड़ रुपये कर्ज था. जबकि जियो में 58 दिनों में अबतक 1,68,818 करोड़ का निवेश आ चुका है. अगर BP को भी स्टेक सेल जोड़ दें तो कुल फंड रेजिंग 1.75 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा होगा. यानी नेट डेट से ज्यादा. ऐसे में आरआईएल के लिए कर्ज मुक्त कंपनी बनने की राह बेहद आसान हुई.

जियो ने बेची 25% हिस्सेदारी

मुकेश अंबानी ने अपनी डिजिटल विंग जियो की कुल 25 फीसदी हिस्सेदारी बेच दी है. इसके लिए अंबानी ने 10 कंपनियों से 11 डील की है. इस डील की शुरूआत अप्रैल में फेसबुक के साथ हुई थी, जब आरआईएल ने 43,574 करोड़ में सोशन नेटवर्किंग कंपनी को करीब 10 फीसदी हिस्सेदारी बेची थी. उसके बाद से अब तक लियो में कुल 115693.95 करोड़ का निवेश आ चुका है.

सफल रहा RIL का राइट्स इश्यू

रिलायंस इंडस्ट्रीज के 53124 करोड़ रुपये के राइट्स इश्यू को निवेशकों का शानदार रिस्पासं मिला था. यह 1.6 गुना ज्यादा सब्सक्राइब हुआ. राइट्स शेयर शेयर बाजार में प्रीमियम पर लिस्ट हुआ और इसमें तेजी बनी हुई है. माना जा रहा है इससे मिलने वाली रकम का भी इस्तेमाल कंपनी अपना कर्ज खत्म करने में करेगी.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. मुकेश अंबानी ने 58 दिन में जुटाए 1.69 करोड़, Jio में रिकॉर्ड निवेश से 9 माह पहले ही RIL बनी कर्ज मुक्त

Go to Top