मुख्य समाचार:

RIL ने रचा इतिहास! 12 लाख करोड़ मार्केट कैप वाली बनी पहली कंपनी, 4 माह से कम में 125% दिया रिटर्न

13 जुलाई के कारोबार में रिलायंस इंडस्ट्रीज का मार्केट कैप 12 लाख करोड़ के पार चला गया है.

Published: July 13, 2020 11:53 AM
RIL, reliance industries market cap, RIL become first indian company of 12 lakh crore market cap, mukesh ambani, reliance jio, digital, retail, RIL telecom arm, RIL stock on new high, RIL stocks rose 125% after 23 march 202013 जुलाई के कारोबार में रिलायंस इंडस्ट्रीज का मार्केट कैप 12 लाख करोड़ के पार चला गया है.

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने आज यानी 13 जुलाई को शेयर बाजार में एक और बड़ा मुकाम हासिल कर लिया है. आज के कारोबार में आरआईएल का शेयर करीब 3 फीसदी मजबूत होकर 1947 रुपये के स्तर पर पहुंच गया. यह शेयर के लिए आलटाइम हाई है. इसी के साथ आरआईएल का मार्केट कैप भी बढ़कर 12.34 लाख करोड़ रुपये पहुंच गया. बता दें कि 12 लाख करोड़ मार्केट कैप वाली आरआईएल पहली कंपनी है. दूसरे नंबर पर टाटा कंसल्टेंसी है, जिसका मार्केट कैप 13 जुलाई को सुबह 11 बजे तक 8.34 लाख करोड़ के करीब था. बता दें कि आरआईएल के टेलि​कॉम आर्म जियो प्लेटफॉर्म में ग्लोबल कंपनी क्वॉलकॉम ने 730 करोड़ रुपये निवेश का एलान किया है. अबतक 13 कंपनियां करीब 1.18 लाख करोड़ निवेश का एलान कर चुकी है. जिसके बाद से निवेशकों का भरोसा आरआईएल पर और मजबूत हुआ है.

23 मार्च के बाद से 125% रिटर्न

आरआईएल के शेयरों में 23 मार्च के बाद से यानी 4 महीने से भी कम समय में निवेशकों को करीब 125 फीसदी रिटर्न मिला है. 23 मार्च को शेयर 867 रुपये के स्तर पर पहुंच गया था, जो 52 हफ्तों का लो है. कोरोना वायरस महामारी के चलते शेयर बाजार में बड़ी गिरावट रही थी, जिसमें आरआईएल की भी पिटाई हुई. लेकिन उसके बाद जियो में फेसबुक द्वारा निवेश के बाद से एक नया दौर शुरू हुआ. जैसे जैसे जियो को ग्लोबल इन्वेस्टर्स मिले और आआईएल कर्जमुक्त कंपनी की ओर बढ़ती गई, शेयर में भी तेजी आती गई. आज 1947 के भाव से देखें तो 4 महीने से कम समय में निवेशकों ने करीब 125 फीसदी रिटर्न कमा लिए.

जियो के लिए 1.18 करोड़ की डील

पिछले 12 हफ्ते में जियो के लिए 13 ​ग्लोबल कंपनियों के साथ 14 डील में आरआईएल ने 1.18 लाख करोड़ रुपये जुटाए हैं. इसमें फेसबुक ने 43574 करोड़, सिल्वर लेक ने करीब 5656 करोड़, विस्ता ने 11367 करोड़, जनरल अटलांटिक ने 6598 करोड़, केकेआर ने 11367 करोड़, मुबाडला ने 9094 करोड़, सिल्वर लेक ने 4547 करोड़, एडीएआई ने 5684 करोड़, टीपीजी ने 4547 करोड़, एल कैटरटॉन ने 1895 करोड़, पीआईएफ ने 11367 करोड़, इंटेल ने करीब 1895 करोड़ और क्वॉलकॉम ने 730 करोड़ रुपये निवेश का एलान किया है.

कर्ज मुक्त होने से निवेशकों में बढ़ा भरोसा

रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) ने 19 जुलाई को ही कर्जमुक्त होने का एलान कर दिया था. आरआईएल ने मार्च 2021 तक कर्ज मुक्त होने का लक्ष्य रखा था, जो 9 महीने पहले ही पूरा हो चुका है. आरआईएल पर जितना कर्ज था, उससे ज्यादा आरआईएल ने जियो की हिस्सेदारी बेचकर और राइट्स इश्यू से जुटा लिए हैं. हाल ही में आरआईएल का 53,124.20 करोड़ का राइट्स इश्यू सफलता पूर्वक पूरा हुआ. इसके अलावा जियो को अबतक कुल 1.18 लाख करोड़ का निवेश हासिल हुआ है. यानी 12 हफ्तों के अंदर आरआईएल ने कुल 1.71 लाख करोड़ से ज्यादा जुटा लिए हैं. दिसंबर 2019 तक आरआईएल पर नेट डेट करीब 1.53 लाख करोड़ के करीब था.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. RIL ने रचा इतिहास! 12 लाख करोड़ मार्केट कैप वाली बनी पहली कंपनी, 4 माह से कम में 125% दिया रिटर्न

Go to Top