मुख्य समाचार:

Jio के लिए बड़ा प्लान? RIL ने 12,900 करोड़ का कर्ज जुटाने के लिए किया समझौता

RIL ने विदेशी लेंडर्स के साथ समझौता किया है.

June 25, 2019 5:09 PM
RIL, Fund Raise, Loan, Foreign Lenders, Jio, Retail Business, capital expenditure, fund diversion, रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड, विदेशी लेंडर्सRIL ने विदेशी लेंडर्स के साथ समझौता किया है.

पेट्रोलियम, दूरसंचार और रिटेल कारोबार करने वाली निजी क्षेत्र की टॉप कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) ने विदेशी लेंडर्स के साथ समझौता किया है. यह समझौता 1.85 अरब डॉलर यानी करीब 12,900 करोड़ रुपये का दीर्घकालिक कर्ज जुटाने के लिए किया गया है. रिलायंस इंडस्ट्रीज ने मंगलवार को यह जानकारी दी है. RIL की ओर से कहा गया है कि उसने अपने पूंजी खर्च के लिये विदेशी लेंडर्स के साथ यह समझौता किया है.

हाल ही में Jio को लेकर आई थी खबर

बता दें कि कंपनी ने 12,900 करोड़ रुपये के कर्ज जुटाने के लिए यह समझौता ऐसे समय में किया है, जब इस तरह की रिपोर्ट आई है कि आरआईएल अपने दूरसंचार कारोबार में 20 हजार करोड़ रुपये लगाएगी. माना जा रहा है कि जियो के 5जी मोबाइल टेलीफोन सेवाओं में संभावित प्रवेश को देखते हुये कंपनी अपने ब्राडबैंड और ई-कामर्स ढांचे को मजबूत करना चाहती है.

अवधि और ब्याज दर की जानकारी नहीं दी

आरआईएल ने नियामकीय सूचना में यह जानकारी देते हुये कहा है कि 1.85 अरब डॉलर का कर्ज कंपनी प्राथमिक तौर पर अपने योजनाबद्ध कैपिटल एक्सपेंडिचर को पूरा करने के लिये जुटाएगी. हालांकि कंपनी ने इस कर्ज की अवधि और ब्याज दर के बारे में कोई जानकारी नहीं दी है. कंपनी ने कहा कि वह समय-समय पर लेंडर्स के साथ फाइनेंसिंग के अवसरों का आकनल करती है और नियमों के तहत इनसे जुड़े खुलासे करती है.

फंड डायवर्जन की खबर पर क्या कहा

1700 करोड़ रुपए के सीएसआर फंड के कथित डायवर्जन से जुड़ी खबर पर आरआईएल ने एक अलग फाइलिंग में कहा कि कॉरपोरेट कार्य मंत्रालय (MCA) उसकी सीएसआर गतिविधियों पर कंपनी से समय-समय पर जानकारी मांगता रहता है. आरआईएल ने कहा है कि कारपोरेट कार्य मंत्रालय द्वारा मांगी गई जानकारी को उपलब्ध कराई जा रही है. मंत्रालय ने हाल ही में सीएसआर परियोजना पर अतिरिक्त सूचना मांगी थी और कंपनी यह जानकारी उपलब्ध कराने की प्रक्रिया में है.

फाइलिंग में कंपनी ने कहा कि कंपनी अपनी कार्यान्वयन एजेंसी रिलायंस फाउंडेशन के माध्यम से पूरे भारत में सीएसआर गतिविधियां चलाती है और अन्य प्रतिष्ठित एजेंसियों से भी सहयोग लेती है. कंपनी को भारत में सीएसआर योगदान करने वाली सबसे बड़ी कंपनी होने पर गर्व है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Jio के लिए बड़ा प्लान? RIL ने 12,900 करोड़ का कर्ज जुटाने के लिए किया समझौता

Go to Top