मुख्य समाचार:

RIL के राइट्स इश्यू को बंपर रिस्पांस: 1.59 गुना मिला सब्सक्रिप्शन, 84 हजार करोड़ के मिले आवेदन

रिलायंस इंडस्ट्रीज के राइट्स इश्यू को निवेशकों का बंपर रिस्पांस मिला है. इश्यू के अंतिम दिन यानी 3 जून को 1.59 गुना सब्सक्रिप्शन मिला है.

Updated: Jun 04, 2020 9:50 AM
RIL biggest rights issue, Rights Issue, RIL Rights Issue 1.59 times subscribes, RIL Rights Issue raises more than 84000 crore Rs, mukesh ambani, reliance industriesरिलायंस इंडस्ट्रीज के राइट्स इश्यू को निवेशकों का बंपर रिस्पांस मिला है. इश्यू के अंतिम दिन यानी 3 जून को 1.59 गुना सब्सक्रिप्शन मिला है.

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने भारत के सबसे बड़े 53,124.2 करोड़ रुपए के राइट्स इश्यू को पूरा कर लिया है. इस इश्यू को निवेशकों का बंपर रिस्पांस मिला है. इश्यू के अंतिम दिन यानी 3 जून को 1.59 गुना सब्सक्रिप्शन मिला है. आरआईएल को इसके लिए करीब 84,000 करोड़ रुपए के लिए आवेदन मिला है. इक्विटी शेयरों का अलॉटमेंट 10 जून या पहले भी शुरू हो सकता है. वहीं 12 जून से इसकी बीएसई और एनएसई पर लिस्टिंग हो सकती है.

शेयर बाजार में लिस्टिंग

राइट्स इश्यू में निवेशकों ने अच्छी दिलचस्पी दिखाई है. इसमें जहां लाखों छोटे निवेशकों ने भाग लिया, वहीं हजारों संस्थागत निवेशकों ने इसमें भाग लिया है. इसमें देशी और विदेशी दोनों निवेशक हैं. राइट्स इश्यू का पब्लिक का हिस्सा 1.22 गुना सब्सक्राइब हुआ है. यह इश्यू बीएसई और एनएसई पर 12 जून को अलग आईएसआईएन के साथ लिस्ट होगा.

1257 रु भाव, 1:15 का अनुपात

रिलायंस इंडस्ट्रीज के राइट्स इश्यू का साइज 53,125 करोड़ का था. शेयर धारकों के लिए राइट्स इश्यू का रेश्यो 1:15 तय किया गया था. राइट्स इश्यू के लिए शेयर का भाव 1257 रुपये तय किया गया था. रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरधारकों में 25.4 लाख से ज्यादा रिटेल शेयरहोल्डर्स हैं और 1700 से ज्यादा इंस्टीट्यूशनल इंवेस्टर्स शामिल हैं.

20 मई से खुला था इश्यू

आरआईएल का राइट्स इश्यू 20 मई से खुला था और यह 3 जून को बंद हुआ. इसके लिए रिकॉर्ड डेट 14 मई तय किया गया था. किसी इश्यू के लिए योग्य शेयरधारकों का निर्धारण करने के लिए कंपनी पहले रिकॉर्ड डेट तय करती है. यानी 14 मई को जिस निवेशक के पास आरआईएल का शेयर

3 किस्तों में देना होगा शेयर प्राइस

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने अपने राइट्स इश्यू को इन्वेस्टर फ्रेंडली बनाए रखने के लिए 1257 रुपये प्रति शेयर का प्राइस रखा है और वो भी 18 महीनों की तीन किस्तों में देना होगा. इसका 25 फीसदी 3 जून 2020 को, 25 फीसदी मई 2021 में और बाकी बचा 50 फीसदी नवंबर 2021 में देना होगा.

लॉकडाउन के बाद भी निवेशकों का भरोसा

राइट्स इश्यू में निवेशकों का भरोसा यह दर्शाता है कि हमारे शेयरधारक इस विजन और मिशन का समर्थन करते हैं. उनका समर्थन हमारे संकल्प को और मजबूत करता है क्योंकि हम दृढ़ता से न्यू रिलायंस फार न्यू इंडिया के लिए रोज आगे बढ़ते जा रहे हैं. मुकेश अंबानी ने कहा कि कोरोना वायरस वैश्विक महामारी के चलते लॉकडाउन के बाद भी आरआईएल के राइट्स इश्यू की सफलता, भारतीय अर्थव्यवस्था में घरेलू निवेशकों, विदेशी निवेशकों और छोटे खुदरा शेयरधारकों का विश्वास प्रदर्शित करता है. मुझे संदेह नहीं है कि भारतीय अर्थव्यवस्था वापस पटरी पर लौटेगी.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. RIL के राइट्स इश्यू को बंपर रिस्पांस: 1.59 गुना मिला सब्सक्रिप्शन, 84 हजार करोड़ के मिले आवेदन

Go to Top