मुख्य समाचार:

वेनेजुएला मामले में अमेरिकी बैन का उल्लंघन नहीं, रिलायंस ने आरोपों से किया इनकार

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने शनिवार को कहा कि उसने वेनेजुएला पर अमेरिकी पाबंदी का कोई उल्लंघन नहीं किया है.

April 20, 2019 4:07 PM
venezuela, us ban on venezuela, venezuela reliance, reliance, reliance oil, reliance oil from venezuela, रिलायंस इंडस्ट्रीज, रिलायंस, वेनेजुएला, reliance industries, accuse on reliance, reliance trade with venezuelaरिलायंस वेनेजुएला से कच्चे तेल का बड़ा आयातक है. (Image- Bloomberg)

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने शनिवार को कहा कि उसने वेनेजुएला पर अमेरिकी पाबंदी का कोई उल्लंघन नहीं किया है. उसने लैटिन अमेरिकी देश से रूस की रोसनेफ्ट जैसी कंपनियों से कच्चे तेल की खरीद की है और इसकी पूरी जानकारी अमेरिकी प्रशासन को है. एक बयान जारी कर Reliance ने कहा कि वेनेजुएला की राष्ट्रीय तेल कंपनी पीडीवीएसए को तेल आपूर्ति के लिए तीसरे पक्ष के जरिए नकद भुगतान की रिपोर्ट पूरी तरह गलत और निराधार है. बयान के मुताबिक रिलायंस ने वेनेजुएला से कच्चे तेल की खरीद रोसनेफ्ट (रूस की कंपनी) जैसी कंपनियों से की है. यह खरीद अमेरिकी पाबंदी से पहले की गई.

बैन लगने के बाद मंजूरी लेकर खरीदारी

रिलायंस ने अपने बयान में कहा कि पाबंदी लगने के बाद से रिलायंस ने जो भी खरीद की, वह अमेरिकी विदेश विभाग (यूएसडीओएस) की जानकारी और मंजूरी से की. बयान के मुताबिक यूएसडीओस को मात्रा और लेन-देन के बारे में जानकारी दी है और इस प्रकार के लेन-देन से पीडीवीएसए को कोई भुगतान नहीं हुआ और इससे अमेरिकी प्रतिबंधों या नीतियों का उल्लंघन नहीं होता.

तीसरे पक्ष के जरिए पीडीवीएसए को भुगतान का गलत आरोप

रिलायंस ने कहा कि ऐसे विक्रेताओं के साथ कीमत समझौता बाजार भाव पर हुआ और भुगतान का निपटान नकद या द्विपक्षीय रूप से उत्पाद की आपूर्ति के माध्यम से हुआ. बयान में कहा गया है, ‘यह रिपोर्ट पूरी तरह से गलत है कि रिलायंस ने रोसनेफ्ट के जरिए पीडीवीएसए को भुगतान किया. इन सौदों में पीडीवीएसए केवल मूल आपूर्तिकर्ता रहा है क्योंकि कच्चे तेल उसके निर्यात संयंत्रों से आता है.’

Reliance वेनेजुएला से कच्चे तेल का बड़ा आयातक

पिछले महीने रिलायंस ने कहा था कि उसने अमेरिकी प्रतिबंध झेल रहे वेनेजुएला से सभी तेल निर्यात बंद कर दिया है और जबतक पाबंदी नहीं हटाई जाती, बिक्री शुरू नहीं की जाएगी. रिलायंस वेनेजुएला से कच्चे तेल का बड़ा आयातक रहा है. उसने अपनी खरीद में एक तिहाई की कमी की है. अमेरिका ने वेनेजुएला पर जनवरी 2019 में पाबंदी लगाई. इसका मकसद देश के कच्चे तेल के निर्यात पर अंकुश लगाना और समाजवादी राष्ट्रपति निकोलस मादुरो को पद छोड़ने के लिए दबाव बनाना है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. अंतरराष्ट्रीय
  3. वेनेजुएला मामले में अमेरिकी बैन का उल्लंघन नहीं, रिलायंस ने आरोपों से किया इनकार

Go to Top