सर्वाधिक पढ़ी गईं

RIL Q3: रिलायंस इंडस्ट्रीज का मुनाफा 12% बढ़ा, रेवेन्यु घटकर 1.28 लाख करोड़ हुआ

RIL Q3 Result: RIL का तीसरी तिमाही में शुद्ध लाभ सालाना आधार पर 12 फीसदी बढ़कर 13,101 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है.

Updated: Jan 22, 2021 9:38 PM
RIL Q3 Result TodayRIL Q3 Result: RIL का तीसरी तिमाही में शुद्ध लाभ सालाना आधार पर 12 फीसदी बढ़कर 13,101 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है.

RIL Q3 Result: रिलायंस इंडस्ट्रीज की तीसरी तिमाही (अक्टूबर-दिसंबर) के नतीजे आ गए हैं. RIL का तीसरी तिमाही में शुद्ध लाभ सालाना आधार पर 12 फीसदी बढ़कर 13,101 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है. ऐसा सुधरते ऑयल टू कैमिकल बिजनेस, रिटेल में बरकरार मजबूती और टेलिकॉम यूनिट जियो के कारण हुआ. अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में कंपनी का कंसोलिडेटेड नेट प्रॉफिट 13,101 करोड़ रहा है, जो एक साल पहले की समान अवधि में 11,640 करोड़ था. कंपनी ने शेयर बाजार को फाइलिंग में यह जानकारी दी.

कंपनी का रेवेन्यु वर्तमान वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में गिरकर 1.28 लाख करोड़ पर पहुंच गया, जो एक साल पहले 1.57 लाख करोड़ पर था.

वहीं, रिलायंस जियो का शुद्ध लाभ 15.5 फीसदी बढ़कर 3,489 करोड़ पर पहुंच गया और रेवेन्यु 22,858 करोड़ रुपये रहा.

रिफाइनिंग कारोबार से रेवेन्यु गिरा

समीक्षाधीन तिमाही में रिफाइनिंग और पेट्रोकेमिकल कारोबार का रेवेन्यु समीक्षाधीन तिमाही में गिरकर 83,838 करोड़ रुपये हो गया, जो एक साल पहले 1.19 लाख करोड़ रुपये रहा. जहां डिजिटल सर्विसेज ऑपरेशंस से रेवेन्यु बढ़कर 23,678 करोड़ रुपये पर पहुंच गया, जो एक साल पहले 17,849 करोड़ था. तिमाही के दौरान गूगल ने जियो प्लेटफॉर्म्स लिमिटेड में 7.73 फीसदी हिस्सेदारी के लिए 33,737 करोड़ रुपये की राशि का निवेश किया. इससे जियो प्लेटफॉर्म्स में 32.88 फीसदी हिस्सेदारी के लिए 1.52 लाख करोड़ रुपये का कुल निवेश हो गया है.

Reliance Jio Q3 Updates: जियो का मुनाफा 15.5% बढ़कर 3,489 करोड़, ARPU 151 रु हुआ

डिजिटल सेवाओं में मजबूत ग्रोथ: मुकेश अंबानी

नतीजों पर बोलते हुए, रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर मुकेश अंबानी ने कहा कि रिलायंस ने तिमाही के दौरान मजबूत ऑपरेशनल रिजल्ट दिखाए हैं, जिसमें O2C और रिटेल सेगमेंट में मजबूत रिवाइवल और डिजिटल सेवाओं में मजबूत ग्रोथ हुई है. वह खास तौर पर इससे खुश हैं कि दुनिया अब जलवायु परिवर्तन पर मजबूत ग्लोबल एक्शन पर ध्यान दे रही है. इससे रिलायंस को अपने महत्वाकांक्षी न्यू एनर्जी और न्यू मैटेरियल बिजनेस को बढ़ाने के लिए सही अवसर मिलता है.

इससे पहले दूसरी तिमाही में कंपनी के शुद्ध मुनाफे में 15 फीसदी की गिरावट आई थी. ऐसा कमजोर तेल कारोबार और केमिकल बिजनेस में गिरावट के कारण हुआ. जुलाई-सितंबर में उसे 9,567 करोड़ रुपये का शुद्ध मुनाफा हुआ था जो एक साल पहले 11,262 करोड़ रुपये था.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. RIL Q3: रिलायंस इंडस्ट्रीज का मुनाफा 12% बढ़ा, रेवेन्यु घटकर 1.28 लाख करोड़ हुआ

Go to Top