scorecardresearch

Reliance Industries AGM में क्या होगा? जियो की लिस्टिंग पर होगा कोई एलान? या 5G सर्विस का आएगा रोडमैप?

रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) की 29 अगस्त को होने वाली AGM में मुकेश अंबानी रिलायंस जियो की लिस्टिंग या 5G सर्विस के बारे में क्या कहने वाले हैं इसका सबको इंतजार है.

Reliance Industries AGM में क्या होगा? जियो की लिस्टिंग पर होगा कोई एलान? या 5G सर्विस का आएगा रोडमैप?
मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) 29 अगस्त को अपनी एनुअल जनरल मीटिंग (AGM) करने जा रही है.

Reliance Industries 45th AGM: मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) 29 अगस्त को अपनी एनुअल जनरल मीटिंग (AGM) करने जा रही है. उम्मीद की जा रही है कि इस मीटिंग में 5G सर्विसेज के लॉन्च के साथ Reliance Jio, Retail या O2C बिजनेस की शेयर मार्केट लिस्टिंग के बारे में घोषणा हो सकती है. इस साल की AGM अपने आईपीओ (इनिशियल पब्लिक ऑफरिंग) के बाद से रिलायंस की 45वीं AGM होगी. रिलायंस इंडस्ट्रीज AGM का बेसब्री से इंतजार किया जाता है क्योंकि इस मीटिंग में मुकेश अंबानी खुलासा करते हैं कि तेल से लेकर टेलिकॉम बिजनेस के ग्रोथ के लिए आगे कौन से कदम उठाए जाएंगे. पिछले साल रिलायंस की 44वीं AGM में जियोफोन नेक्स्ट के लॉन्च के साथ-साथ सोलर और न्यू एनर्जी बिजनेस से जुड़ी कई घोषणाएं की गई थीं.

विदेशी कंपनियों में निवेश के लिए भारतीय कनेक्शन की बाध्यता खत्म, सेबी ने AIF और VCF से जुड़े प्रावधानों में किया बदलाव

हो सकते हैं ये बड़े एलान

जेएम फाइनेंशियल को उम्मीद है कि इस साल की RIL AGM में कंपनी के तीन प्रमुख बिजनेस – रिलायंस जियो, रिलायंस डिजिटल, और ऑयल टू केमिकल यूनिट (O2C) की संभावित लिस्टिंग को लेकर टाइमलाइन की घोषणा हो सकती है. वहीं उम्मीद यह भी है कि रिलायंस इंडस्ट्रीज जल्द ही रिलायंस जियो के लिए आईपीओ लाएगी. बता दें कि CLSA ने अनुमान लगाया था कि Jio का IPO इस साल लगभग 100 बिलियन डॉलर के एंटरप्राइज वैल्यू के साथ लॉन्च किया जा सकता है.

RIL एनर्जी बिजनेस में बेच सकती है हिस्सेदारी

इसके अलावा, एनालिस्ट्स को रिलायंस इंडस्ट्रीज की O2C, रिटेल और न्यू एनर्जी बिजनेस यूनिट में संभावित रणनीतिक हिस्सेदारी बिक्री की घोषणा की उम्मीद है. निवेशकों के अनुसार, रिलायंस इंडस्ट्रीज की ट्रेडिशनल कैश – O2C बिजनेस यूनिट को आंशिक रूप से बेचा जा सकता है. पिछले साल की शुरुआत में, मुकेश अंबानी और सऊदी अरामको ने यूनिट में 20% हिस्सेदारी बाद में बेचने के लिए अपने सौदे को रद्द कर दिया था. इसके अलावा, तेजी से बढ़ते रिटेल बिजनेस या न्यू एनर्जी बिजनेस में हिस्सेदारी बिक्री से इनकार नहीं किया गया है. रिलायंस रिटेल ने पिछले कुछ वर्षों में तेजी से ग्रोथ किया है जबकि न्यू एनर्जी यूनिट को फर्म के भविष्य के ग्रोथ इंजन के रूप में देखा जा रहा है.

रिलायंस जियो से जून में जुड़े 47.2 लाख नए यूजर, 7.9 लाख ने लिया एयरटेल का कनेक्शन

5G सर्विसेज लॉन्च करने की हो सकती है घोषणा

मुकेश अंबानी की फर्म इस महीने की 45 वीं AGM में अपनी 5G सेवा शुरू करने की घोषणा कर सकती है. बता दें कि 5G की नीलामी समाप्त हो चुकी है जिसमें Reliance Jio ने सबसे बड़ी बोली लगाई थी. इस महीने की शुरुआत में, रिलायंस जियो ने 88,078 करोड़ रुपये खर्च किए और 700 मेगाहर्ट्ज, 800 मेगाहर्ट्ज, 1800 मेगाहर्ट्ज, 3300 मेगाहर्ट्ज और 26 गीगाहर्ट्ज़ बैंड में कुल 24.7 गीगाहर्ट्ज़ स्पेक्ट्रम हासिल किया. टेलिकॉम मिनिस्टर अश्विनी वैष्णव ने भी टेलिकॉम कंपनियों को 5जी लॉन्च के लिए कमर कसने को कहा है.

Reliance Industries stock: ब्रोकरेज बुलिश

जेएम फाइनेंशियल रिलायंस इंडस्ट्रीज को लेकर बुलिश है और खरीदारी की सलाह दी है. उन्होंने कहा, “हम अगले 3-5 वर्षों में RIL की इंडस्ट्री-लीडिंग क्षमताओं और अगले 3-5 वर्षों में मजबूत 14-15% EPS CAGR की उम्मीद को देखते हुए BUY की रेटिंग को दोहराते हैं.” ब्रोकरेज ने इसके लिए 2,950 रुपये प्रति शेयर का टारगेट प्राइस तय किया गया है.

(Article: Shaleen Agrawal)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

TRENDING NOW

Business News