सर्वाधिक पढ़ी गईं

लोढ़ा डेवलपर्स IPO: आईपीओ से 2500 करोड़ जुटाएगी कंपनी! तीसरी कोशिश, पहले इन वजहों से वापस लिया प्लान

Lodha Developers IPO: भारत की लीडिंग रेजिडेंशियल रीयल एस्टेट कंपनी लोढ़ा डेवलपर्सआईपीओ के जरिए 2500 करोड़ रुपये जुटाने की तैयारी में है.

Updated: Feb 17, 2021 2:11 PM
Lodha Developers IPOLodha Developers IPO: भारत की लीडिंग रेजिडेंशियल रीयल एस्टेट कंपनी लोढ़ा डेवलपर्सआईपीओ के जरिए 2500 करोड़ रुपये जुटाने की तैयारी में है.

Lodha Developers IPO: भारत की लीडिंग रेजिडेंशियल रीयल एस्टेट कंपनी लोढ़ा डेवलपर्स (Macrotech Developers) आईपीओ के जरिए 2500 करोड़ रुपये जुटाने की तैयारी में है. कंपनी अगले कुछ महीनों में अपना आईपीओ ला सकती है. इसके लिए लोढ़ा डेवलपर्स ने मार्केट रेगुलेटर सिक्योरिटज एंड एक्सचेंज बोर्ड आफ इंडिया यानी सेबी के पास जरूरी डॉक्यूमेंट जमा कराए हैं. यह कंपनी का आईपीओ के जरिए फंड जुटाने की तीसरी कोशिश है. लोढ़ा डेवलपर्स मुंबई बेस्ड कंपनी है.

पहले भी की थी 2 कोशिश

इसके पहले लोढ़ा डेवलपर्स ने सितंबर 2009 में आईपीओ लाने की पहली कोशिश की थी. इसके बाद 2018 में कंपनी ने फिर आईपीओ के जरिए 2800 करोड़ रुपये जुटाने की कोशिश की. 2008 में ग्लोबल मंदी के चलते कंपनी ने अपना प्लान वापस ले लिया. वहीं 2018 में भी मंदी और रीयल एस्टेट सेक्टर में कमजोर मांग के चलते कंपनी का आईपीओ प्लान पटरी पर नहीं आ सका. अब यह कंपवनी की तीसरी कोशिश है.

कहां होगा फंड का इस्तेमाल

लोढ़ा डेवलपर्स आईपीओ के जरिए अपनी 10 फीसदी हिस्सेदारी कम करेगी. आईपीओ में मुख्य रुप से शेयरों का प्राइमरी इश्यू शामिल होगा. आईपीओ से मिलने वाले फंड का इस्तेमाल कंपनी के कर्ज को घटाने, जमीन अधिग्रहित करने और नए प्रोजेक्ट के डेवलपमेंट पर किया जाएगा. लोढ़ा डेवलपर्स के लग्जरी प्रोडक्ट्स की डिमांड है. मुंबई का ट्रंप टावर इसका उदाहरण है. कंपनी ने विदेशों में भी कई प्रोजेक्ट पूरे किए हैं.

ICICI सिक्योरिटीज, इडेलवाइस सिक्योरिटीज, IIFL सिक्योरिटीज, SBI कैपिटल, JM फाइनेंशियल, यस सिक्योरिटीज और बैंक आफ बड़ौदा कैपिटल आईपीओ में बुक रनिंग लीड मैनेजर्स होंगे. जबकि Link Intime India Private Ltd आईपीओ के लिए रजिस्ट्रार होगा. रिपोर्ट के अनुसार एक्सिस कैपिटल, JP मॉर्गन और कोटक लीड एडवाइजर होंगे.

कंपनी का फाइनेंशियल

कंपनी की वित्तीय सेहत ठीक है. फाइनेंशियल ईयर 2019-20 में लोढ़ा डेवलपर्स का कुल रेवेन्यू 12,440 करोड़ रुपये रहा था, जो एक साल पहले की अवधि में 11,910 करोड़ रुपये था. कंपनी का नेट डेट भी इस दौरान 25120 करोड़ से घटकर 23,490 करोड़ रुपये रह गया.

रीयल एस्टेट सेक्टर में लौट रही है ग्रोथ

लॉकडाउन खत्म होने के बाद से अब रीयल एस्टेट सेक्टर में ग्रोथ लौटने लगी है. हाल के दिनों में हाउसिंग डिमांड बढ़ी है. सेक्टर को लेकर निवेशकों का सेंटीमेंट भी पहले से बेहतर हुआ है. माना जा रहा है कि इसे देखते हुए लोढ़ा डेवलपर्स ने आईपीओ के लिए यह समय चुना है. दिसंबर में खत्म हुई तिमाही में कंपनी को अच्छी बुकिंग मिली है. लग्जरी और प्रीमियम के अलावा अफोर्डेबल हाउसिंग में भी डिमांड तेज हो रही है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. लोढ़ा डेवलपर्स IPO: आईपीओ से 2500 करोड़ जुटाएगी कंपनी! तीसरी कोशिश, पहले इन वजहों से वापस लिया प्लान
Tags:IPO

Go to Top