सर्वाधिक पढ़ी गईं

RBI प्रवासी भारतीय बांड के जरिये जुटाएगा 30 से 35 अरब डालर     

रिजर्व बैंक रुपये को समर्थन देने तथा विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों के प्रवाह में कमी से निपटने के लिये प्रवासी भारतीय बांड के जरिये 30 से 35 अरब डालर जुटा सकता है. एक रिपोर्ट में यह कहा गया है.

June 11, 2018 6:05 PM
चीनी रणनीतिकारों का अनुमान है कि मानक सूचकांकों में चीनी कंपनियों के आने से 2019 तक चीनी बाजार में 100 अरब डालर तक जा सकता है. (REUTERS)

रिजर्व बैंक रुपये को समर्थन देने तथा विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों के प्रवाह में कमी से निपटने के लिये प्रवासी भारतीय बांड के जरिये 30 से 35 अरब डालर जुटा सकता है. एक रिपोर्ट में यह कहा गया है.  इसमें कहा गया है कि चीनी कपनियों के एमएससीआई जैसे वैश्विक स्तर पर प्रतिष्ठित सूचकांकों में शामिल होने से विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफपीआई) के निवेश का प्रवाह उस ओर बढ़ सकता है. इससे भारत में प्रवाह प्रभावित होने की संभावना है.

बैंक आफ अमेरिका मेरिल लिंच (बोफाएमएल) की रिपोर्ट के अनुसार मानक सूचकांकों में सूचीबद्धता से चीनी बाजार में 2019 तक 100 अरब डालर स्थानांतरित होगा. बोफाएमएल ने एक शोध रिपोर्ट में कहा , ‘‘ चीनी रणनीतिकारों का अनुमान है कि मानक सूचकांकों में चीनी कंपनियों के आने से 2019 तक चीनी बाजार में 100 अरब डालर तक जा सकता है.’’

रिपोर्ट के अनुसार भारत में अगले साल होने वाले आम चुनावों से पहले एफपीआई इक्विटी प्रवाह कुछ धीमा हो सकता है. इसमें कहा गया है , ‘‘ हमारा मानना है कि आरबीआई 30 से 35 अरब डालर तक जुटाने के लिये एनआरआई बांड की चौथी किस्त जारी करेगा ताकि एफपीआई प्रवाह में नरमी के प्रभाव से निपटा जाए … . ’’ रिपोर्ट के अनुसार एनआरआई बांड विदेशह मुद्रा जमा होगा जिसे प्रवासी भारतीयों के जरिये जुटाया जाएगा. यह 3 से 5 साल के लिये होगा जिस पर आकर्षक ब्याज मिलेगा.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. RBI प्रवासी भारतीय बांड के जरिये जुटाएगा 30 से 35 अरब डालर     

Go to Top