scorecardresearch

Tata Motors: टाटा ग्रुप के शेयर पर ब्रोकरेज हैं बुलिश, मिल सकता है हाई रिटर्न, राकेश झुनझुनवाला का है फेवरेट

Rakesh Jhunjhunwala Portfolio Stock: Tata Motors का कहना है कि डिमांड मजबूत है, आगे सप्लाई साइड में सुधार देखने को मिलेगा. तिमाही नतीजों के बाद ब्रोकरेज हाउस भी शेयर को लेकर बुलिश दिख रहे हैं.

Tata Motors: टाटा ग्रुप के शेयर पर ब्रोकरेज हैं बुलिश, मिल सकता है हाई रिटर्न, राकेश झुनझुनवाला का है फेवरेट
ब्रोकरेज हाउस तिमाही नतीजों के बाद Tata Motors के शेयर पर बुलिश दिख रहे हैं. (Reuters)

Rakesh Jhunjhunwala Portfolio: टाटा ग्रुप की दिक्कज ऑटो कंपनी Tata Motors के लिए दिसंबर तिमाही कमजोर रही है. दिसंबर तिमाही में कंपनी को 1516 करोड़ रुपये का भारी भरकम घाटा हुआ है. हालांकि जून तिमाही की तुलना में कंपनी का नुकसान घटा है. JLR का प्रदर्शन भी कमजोर रहा है. हालांकि इसके पीछे ​सेमी कंडक्टर की शॉर्टेज को बड़ा कारण बताया गया है. कंपनी का कहना है कि डिमांड मजबूत है, आगे सप्लाई साइड में सुधार देखने को मिलेगा. तिमाही नतीजों के बाद ब्रोकरेज हाउस भी शेयर को लेकर बुलिश दिख रहे हैं. उनका कहना है कि चिप की कमी स्थाई नहीं है. जैसे जैसे चिप शॉर्टेज की समस्या दूर होगी, सप्लाई में तेजी आएगी. डिमांड पहले से मजबूत है. ऐसे में कंपनी का लॉन्ग टर्म आउटलुक मजबूत है. राकेश झुनझुनवाला के पास कंपनी में 1.2 फीसदी हिस्सेदारी है. उनके पास कंपनी के 39,250,000 शेयर हैं, जिनकी वैल्यू 2004.5 करोड़ रुपये हैं.

बिजनेस आउटलुक पॉजिटिव

ब्रोकरेज हाउस शेयरखान ने Tata Motors में निवेश की सलाह दी है और शेयर के लिए 610 रुपये का टारगेट रखा है. करंट प्राइस 505 रुपये से प्रति शेयर 105 रुपये या 20 से 21 फीसदी रिटर्न मिल सकता है. ब्रोकरेज हाउस का कहना है कि Tata Motors के दिसंबर तिमाही के नतीजे उम्मीद से बेहतर हैं. कंपनी को ज्यादा घाटे का अनुमान था. JLR का आपरेशनल परफॉर्मेस मजबूत रहा है. ओवरआल प्रदर्शन भी दूसरी तिमाही की तुलना में सुधरा है. बिजनेस आउटलुक पॉजिटिव है. आगे चिप की कमी दूर होने, नए लॉन्चिंग और मैक्रो आउटलुक बेहतर होने से कंपनी को फायदा होगा. ब्रोकरेज का अनुमान है कि कंपनी का मुनाफा FY2023E के दौरान 11,708 करोड़ रह सकता है. FY2021E-FY2023E के दौरान रेवेन्यू ग्रोथ 16.7 फीसदी CAGR रह सकती है.

JLR की डिमांड मजबूत

ब्रोकरेज हाउस मोतीलाल ओसवाल ने Tata Motors के शेयर में निवेश की सलाह देते हुए 600 रुपये का टारगेट दिया है. ब्रोकरेज हाउस का कहना है कि कंपनी का प्रदर्शन दिसंबर तिमाही में मिक्स्ड रहा है. JLR के प्रदर्शन में सुधार है. सप्लाई एन्वायरमेंट में सुधार की उम्मीद है. JLR की डिमांड मजबूत है. कमोडिटी की कीमतों में स्थिरता और मजबूत डिमांड से इंडिया बिजनेस बेहतर रहने की उम्मीद है. हालांकि ब्रोकरेज हाउस ने FY23E EPS में 10 फीसदी की कटौती की है. ब्रोकरेज का कहना है कि चिप की कमी के चलते शॉर्ट टर्म सेंटीमेंट पर असर पड़ेगा.

कंपनी के नतीजे एक नजर में

Tata Motors को दिसंबर तिमाही में 1516 करोड़ रुपए का घाटा हुआ है. एक साल पहले की समान तिमाही में कंपनी को 2906.5 करोड़ रुपए का घाटा हुआ था. कंसोलिडेटड आय में दिसंबर तिमाही में सालाना आधार पर 4.5 फीसदी की गिरावट देखने को मिली है औऱ यह 72,229 करोड़ रुपये पर रहा है. एबिटडा मार्जिन सालाना आधार पर 16 फीसदी से घटकर 9.8 फीसदी पर रहा, जबकि कंसोलिडेटड एबिटडा घटकर 7078 करोड़ रुपये रहा. Jaguar Land Rover का प्रदर्शन भी कमजोर रहा है.

(Disclaimer: स्टॉक में निवेश की सलाह ब्रोकरेज हाउस के द्वारा दी गई है. यह फाइनेंशियल एक्सप्रेस के निजी विचार नहीं हैं. बाजार में जोखिम होते हैं, इसलिए निवेश के पहले एक्सपर्ट की राय लें.)  

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

First published on: 02-02-2022 at 08:45 IST

TRENDING NOW

Business News