सर्वाधिक पढ़ी गईं

PNB को पहली तिमाही में NPA से आठ हजार करोड़ रुपये की उगाही की उम्मीद

पीएनबी ने पिछले वित्त वर्ष में 5,617.55 करोड़ रुपये की उगाही की थी जबकि इस वित्त वर्ष में जून के पहले सप्ताह तक ही उगाही छह हजार करोड़ रुपये पहुंच चुकी है.

Updated: Jun 11, 2018 11:51 AM
pnb, punjab national bank, npa, npa in hindi, pnb scam, public sector bank, business news in hindiपीएनबी ने पिछले वित्त वर्ष में 5,617.55 करोड़ रुपये की उगाही की थी जबकि इस वित्त वर्ष में जून के पहले सप्ताह तक ही उगाही छह हजार करोड़ रुपये पहुंच चुकी है. (Reuters)

घोटाला प्रभावित पंजाब नेशनल बैंक (PNB) को चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में फंसे ऋण से आठ हजार करोड़ रुपये की उगाही की उम्मीद है. बैंक के एक वरिष्ठ अधिकारी ने पीटीआई भाषा से कहा कि पीएनबी ने चालू वित्त वर्ष के पहले दो महीने में इतनी राशि की उगाही कर ली है जो पिछले वित्त वर्ष की कुल राशि से अधिक है.

अधिकारी ने कहा, ‘ इसका कारण दिवाला एवं ऋणशोधन संहिता के तहत कई मामलों को राष्ट्रीय कंपनी कानून न्यायाधिकरण के पास भेजने समेत सार्वजनिक बैंकों का उगाही पर जोर देना है. इसके कारण अधिकांश डिफॉल्टर कंपनियों को गैर-निष्पादित संपत्ति का निपटान करना पड़ रहा है.’’

अधिकारी ने कहा कि पीएनबी ने पिछले वित्त वर्ष में 5,617.55 करोड़ रुपये की उगाही की थी जबकि इस वित्त वर्ष में जून के पहले सप्ताह तक ही उगाही छह हजार करोड़ रुपये पहुंच चुकी है. पीएनबी को उम्मीद है कि इस तिमाही के अंत तक करीब आठ हजार करोड़ रुपये की उगाही कर ली जाएगी. बैंक ने बताया कि उसके द्वारा लगाये गये उगाही शिविरों के जरिये पिछले दो महीने में रेलिगेयर आर्कोटेक और सूर्या एलॉय जैसी बड़ी कंपनियों ने 350 करोड़ रुपये के फंसे ऋण सुलटाये हैं.

अधिकारी ने कहा कि उगाही पर जोर देते हुए बैंक ने देश भर में तीन हजार से अधिक कर्मचारियों को परिचालन से फंसी संपत्तियों संबंधी विभाग में हस्तांतरित कर दिया है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. PNB को पहली तिमाही में NPA से आठ हजार करोड़ रुपये की उगाही की उम्मीद

Go to Top