सर्वाधिक पढ़ी गईं

Paytm: आईपीओ की आहट से ग्रे मार्केट में 24 हजार तक पहुंचा भाव, सब्सक्रिप्शन के बारे में ये है एक्सपर्ट की सलाह

Paytm IPO: पिछले हफ्ते ही पेटीएम के बोर्ड ने आईपीओ के जरिए 22 हजार करोड़ रुपये जुटाने की योजना को मंजूरी दी थी.

Updated: Jun 02, 2021 2:51 PM
Paytm share price doubles to Rs 24000 in grey market on IPO buzz should you buy it ahead of IPO know here in detailsपेटीएम को कारोबारी नुकसान हो रहा है और गूगलपे व फोनपे से इसे कंपटीशन मिल रहा है जिन्होंने पिछले कुछ वर्षों में खुद को अच्छी तरह से स्थापित कर दिया है.

Paytm IPO: देश की सबसे बड़ी डिजिटल पेमेंट कंपनी पेटीएम (Paytm) इस साल आईपीओ लाने की तैयारी कर रही है. आईपीओ के एलान के बाद से ही अनलिस्टेड मार्केट में कंपनी के शेयर के भाव जबरदस्त ढंग से बढ़े हैं. पेटीएम के स्टॉक के दाम अनलिस्टेड मार्केट में लगभग दोगुने यानी 24 हजार रुपये पर पहुंच गए हैं. आईपीओ आने की खबर से पहले इसके भाव 11-12 हजार रुपये प्रति शेयर के आसपास थे. आईपीओ की खबर आने के महज 5 दिनों के भीतर ही इसके भाव 21 हजार रुपये तक पहुंच गए.

अनलिस्टेड शेयर प्राइसेज के आधार पर कंपनी की वैल्यू 1.1 लाख करोड़ रुपये से अधिक हो चुकी है. इस हिसाब से कंपनी की वैल्यूएशन बैंकिंग व फाइनेशियल सेक्टर की कई अन्य कंपनियों, मसलन इंडसइंड बैंक, बंधन बैंक, पीएनबी, एसबीआई कार्ड्स एंड पेमेंट्स सर्विसेज, एसबीआई लाइफ इंश्योरेंस और आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल से अधिक हो चुकी हैं. हालांकि पेटीएम की मौजूदा वैल्यूएशन 2019 की उस वैल्यूएशन से कम है जिस पर कंपनी ने फंड जुटाया था.

पिछले हफ्ते ही पेटीएम के बोर्ड ने आईपीओ के जरिए 22 हजार करोड़ रुपये जुटाने की योजना को मंजूरी दी थी. योजना के मुताबिक यह आईपीओ इस वित्त वर्ष में अक्टूबर से दिसंबर 2021 की तिमाही के दौरान आ सकता है. कंपनी की योजना आईपीओ के जरिए 21 से 22 हजार करोड़ रुपये जुटाने की है. इसके लिए कंपनी रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस का ड्राफ्ट (DRHP) जुलाई में फाइल कर सकती है.

रिटायरमेंट के बाद अपनी मर्जी से नहीं लिख सकेंगे कोई लेख या किताब, उल्लंघन करने पर रूक सकती है पेंशन

एक हफ्ते में ही 100 फीसदी बढ़ गए शेयर भाव

प्री-आईपीओ और अनलिस्टेड शेयर्स में डीलिंग करने वाली वेबसाइट अनलिस्टेडडॉटकॉम के फाउंडर अभय दोषी के मुताबिक आईपीओ के एलान के पहले पेटीएम के शेयर बहुत सस्ते वैल्यूएशन पर उपलब्ध थे. हालांकि वैल्यूएशन गैप के चलते निवेशकों के बीच इसकी मांग बहुत बढ़ गई और महज एक हफ्ते में ही इसके शेयर 100 फीसदी से अधिक चढ़ गए. दोषी के मुताबिक अनलिस्टेड मार्केट्स में अभी शेयरों की कम सप्लाई होने के चलते सीमित संख्या में ही डील्स हो पा रही हैं. दोषी का मानना है कि आईपीओ लाने से पहले कंपनी बोनस या शेयर स्प्लिट जैसे कॉरपोरेट एक्शन ले सकती है.

कड़े कंपटीशन के बीच घाटे में चल रही है पेटीएम

पेटीएम में अलीबाबा के एंट ग्रुप (29.71 फीसदी), सॉफ्टबैंक विजन फंड (19.63फीसदी), सैफ पार्टनर्स (18.56 फीसदी और संस्थापक विजस शेखर वर्मा (14.67) की प्रमुख हिस्सेदारी है. इसके अलावा एजीएस होल्डिंग, टी रोवे प्राइस एंड डिस्कवरी कैपिटल और वारेन बफे के बर्कशायर हाथवे की कंपनी में 10 फीसदी से कम हिस्सेदारी है. पेटीएम को कारोबारी नुकसान हो रहा है और गूगलपे व फोनपे से इसे कंपटीशन मिल रहा है जिन्होंने पिछले कुछ वर्षों में खुद को अच्छी तरह से स्थापित कर दिया है.

Paytm देश का सबसे बड़ा IPO लाने की तैयारी में, बाजार से 22500 करोड़ रु जुटाने की योजना

सोच-समझकर लें निवेश का फैसला

  • जेएसटी इंवेस्टमेंट्स के फाउंडर और सीओओ आदित्य कोंडवार का मानना है कि अनलिस्टेड मार्केट में पेटीएम के शेयर प्राइस से सावधान रहने की जरूरत है. कोंडवार के मुताबिक पेटीएम ने अभी तक इशू प्राइस तय नहीं किया तो ऐसे में यह भी हो सकता कि आईपीओ प्राइस की तुलना में अभी जिस प्राइस पर अनलिस्टेड मार्केट से इसके शेयर खरीदेंगे, वह बहुत अधिक हो. ऐसे में भारी नुकसान होने की संभावना है. उन्होंने कहा कि इससे पहले भी ऐसा हुआ, जब बार्बीक्यू नेशन की प्री-आईपीओ प्राइस 1100 रुपये था जो बाद में घटकर 500 रुपये पर आ गया और इसका आईपीओ 500 रुपये पर आया था. ऐसे में समझा जा सकता है कि जिन निवेशकों ने प्री-आईपीओ 1100 रुपये में शेयर ले लिए होंगे, उनका कितना नुकसान हुआ होगा. इसके अलावा प्री-आईपीओ शेयर में एक साल का लॉक-इन पीरियड भी होता है. कोंडवार के मुताबिक प्री-आईपीओ में निवेश करने पर मुनाफा भी होता है लेकिन निवेशकों को सावधान रहकर फैसला लेना चाहिए.
  • कैपिटलवाया ग्लोबल रिसर्च के बैंकिंग एनालिस्ट विशाल बलभद्रूनी का कहना है कि इस स्टॉक से बड़ी उम्मीदें हैं और अधिक भाव के बावजूद कई निवेशक आईपीओ से मुनाफे को लेकर आश्वस्त हैं. बलभद्रूनी के मुताबिक अभी आईपीओ का प्राइस बैंड अभी तक तय नहीं हुआ है लेकिन ग्रे मार्केट में इस तरह के प्रीमियम से लिस्टिंग गेन्स हासिल हो सकते हैं.
    (स्टोरी में स्टॉक रिकमंडेशंस रिसर्च एनालिस्ट्स और ब्रोकरेज फर्म द्वारा दी गई जानकारियों पर आधारित है. फाइनेंशियल एक्सप्रेस ऑनलाइन किसी भी निवेश सलाह को लेकर कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है. निवेश के पहले अपने सलाहकार से जरूर संपर्क कर लें.)
    (Article: Surbhi Jain)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Paytm: आईपीओ की आहट से ग्रे मार्केट में 24 हजार तक पहुंचा भाव, सब्सक्रिप्शन के बारे में ये है एक्सपर्ट की सलाह
Tags:Paytm

Go to Top