सर्वाधिक पढ़ी गईं

Paytm IPO: पेटीएम के रिकॉर्ड आईपीओ में पैसे लगाए या नहीं, एक्सपर्ट की ये है राय; इश्यू से जुड़ी सभी डिटेल्स यहां देखें

Paytm IPO: पेटीएम का आईपीओ 18300 करोड़ रुपये का है जिसमें करीब 30 फीसदी हिस्सा चीन की दिग्गज कंपनी एंट ग्रुप का है यानी कि एंट ग्रुप की दो कंपनियां इश्यू के जरिए करीब 5490 करोड़ रुपये के शेयरों की बिक्री करेंगी.

Updated: Nov 08, 2021 1:40 PM
Paytm IPO, Paytm IPO share allotmentPaytm IPO comprised a fresh issue of equity shares worth Rs 8,300 crore and an offer for sale (OFS) of shares worth up to Rs 10,000 crore. (File)

Paytm IPO: देश की सबसे बड़ी डिजिटल कंपनी पेटीएम का आईपीओ आज खुल गया है. 18300 करोड़ रुपये का यह आईपीओ देश में अब तक का सबसे बड़ा आईपीओ है. इससे पहले यह रिकॉर्ड दिग्गज सरकारी कंपनी कोल इंडिया (Coal India) के नाम पर था जिसका आईपीओ 2010 में आया था और यह 15475 करोड़ रुपये का था. पेटीएम का आईपीओ 18300 करोड़ रुपये का है जिसके तहत 8300 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी किए जाएंगे. इसमें निवेश के लिए निवेशकों को तय प्राइस बैंड के अपर प्राइस के हिसाब से कम से कम 12,900 रुपये का निवेश करना होगा. पेटीएम के 18300 करोड़ रुपये के आईपीओ में करीब 30 फीसदी हिस्सा चीन की दिग्गज कंपनी एंट ग्रुप का है यानी कि एंट ग्रुप की दो कंपनियां इश्यू के जरिए करीब 5490 करोड़ रुपये के शेयरों की बिक्री करेंगी. ग्रे मार्केट में इसके शेयर प्राइस बैंड के अपर प्राइस से महज 3 फीसदी प्रीमियम यानी कि 2210 रुपये प्रति शेयर के भाव पर हैं. हालांकि मार्केट एक्सपर्ट्स ने लांग टर्म के लिए इसमें निवेश की सलाह दी है.

वन97 कम्यूनिकेशंस (One97 Communications) की पेमेंट ऐप कंपनी पेटीएम की ब्रांड वैल्यू Kantar BrandZ India 2020 Report के मुताबिक 630 करोड़ डॉलर (46753.15 करोड़ रुपये) है जो सभी पेमेंट्स ब्रांड्स में सबसे अधिक है. इस ऐप के न जरिए सिर्फ पैसों का लेन-देन और शॉपिंग ही नहीं होता है बल्कि दुकानदार इसका इस्तेमाल अपने प्रोडक्ट्स के विज्ञापन इत्यादि के लिए भी करते हैं.

Jhunjhunwala Portfolio: मुहूर्त ट्रेडिंग में राकेश झुनझुनवाला ने कमाए 101 करोड़, महज पांच स्टॉक्स ने बिग बुल की कराई शानदार दीवाली

One 97 Communications Limited IPO (Paytm IPO)

  • देश की सबसे बड़ी डिजिटल पेमेंट कंपनी Paytm का 18,300 करोड़ रुपये का आईपीओ आज खुल गया है और यह 10 नवंबर तक खुला रहेगा.
  • इश्यू के तहत 8300 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी किए जाएंगे जबकि 10 हजार करोड़ रुपये के शेयरों की ऑफर फॉर सेल (OFS) के तहत बिक्री होगी.
  • 1 रुपये की फेस वैल्यू वाले शेयरों के लिए प्राइस बैंड 2080-2150 रुपये प्रति इक्विटी शेयर रखा गया है.
    पेटीएम की पैरेंट कंपनी वन97 कम्युनिकेशंस ने 6 शेयरों का लॉट साइज तय किया है यानी कि निवेशकों को कम से कम 12900 रुपये का निवेश करना होगा.
  • अलॉटमेंट 15 नवंबर को फाइनल हो सकता है जबकि शेयर एक्सचेंज पर 18 नवंबर को लिस्ट हो सकते हैं.
  • इश्यू के लिए लिंक इनटाइम इंडिया को रजिस्ट्रार नियुक्त किया गया है.
  • आईपीओ के जरिए जुटाए गए 4300 करोड़ रुपये से कंपनी अपने इकोसिस्टम को और मजबूत करेगी. दो हजार करोड़ रुपये को नए कारोबार या अधिग्रहण या रणनीतिक साझेदारी में निवेश किया जाएगा. इसके अलावा पैसों का इस्तेमाल आम कॉरपोरेट उद्देश्यों में किया जाएगा.

Record Cash Even After 5-years Note Ban: नोटबंदी के पांच साल बाद भी कम नहीं हुई नगदी, सिस्टम में रिकॉर्ड कैश उपलब्ध

चीन की दिग्गज कंपनी की कम होगी हिस्सेदारी

आईपीओ के जरिए 10 हजार करोड़ रुपये के शेयरों की ऑफर फॉर सेल (OFS) के तहत बिक्री होगी. इसमें सबसे अधिक बिक्री एंट ग्रुप की कंपनियां करेंगी. कंपनी द्वारा दाखिल आरएचपी (रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस) के मुताबिक एंट ग्रुप की एंटफाइनेंस (नीदरलैंड) 4704.43 करोड़ रुपये और अलीबाबाडॉटकॉम सिंगापुर ई-कॉमर्स 784.82 करोड़ रुपये के शेयरों की बिक्री करेगी. सेबी के पास दाखिल दस्तावेजों के मुताबिक एंटफिन (नीदरलैंड्स) होल्डिंग बीवी की कंपनी में 27.9 फीसदी और अलीबाबाडॉटकॉम सिंगापुर ई-कॉमर्स प्राइवेट लिमिटेड की 6.8 फीसदी हिस्सेदारी है, ये दोनों कंपनियां 5489.25 करोड़ रुपये के शेयरों की बिक्री करेंगी जो कुल इश्यू का करीब 30 फीसदी है. कंपनी के संस्थापक और सीईओ विजय शेखर वर्मा के पास इसमें 14.7 फीसदी इक्विटी होल्डिंग है और वह 402.65 करोड़ रुपये के शेयरों की बिक्री करेंगे.

निवेश को लेकर एक्सपर्ट की ये है राय

  • रिलायंस सिक्योरिटीज के मुताबिक पेटीएम के आईपीओ की वैल्यू वित्त वर्ष 2021 की बिक्री के मुकाबले 43.7 गुने और वित्त वर्ष 2022 की अनुमानित बिक्री के मुकाबले 36.7 गुने पर है जोकि हाल ही में लिस्ट हुी यूनीकॉर्न जोमैटो के मुकाबले 12 फीसदी डिस्काउंट पर है. महामारी के बावजूद पेटीएम की ग्रॉस मर्चेंटाइज वैल्यू वित्त वर्ष 2019-21 के बीच 33 फीसदी की सीएजीआर (कंपाउंड एनुअल ग्रोथ रेट) से बढ़ी है और वित्त वर्ष 2021-26 के बीच वैल्यू टर्म्स में इसके डिजिटल पेमेंट्स कारोबार में 17 फीसदी की सीएजीआर से बढ़ोतरी का अनुमान है. इन सबसे आधार पर रिलायंस सिक्योरिटीज के सीनियर रिसर्च एनालिस्ट विकास जैन ने निवेशकों को लांग टर्म के लिए पेटीएम के आईपीओ को सब्सक्राइब करने की सलाह दी है.
  • सैंक्टम हेल्थ के डायरेक्टर रिसर्च आशीष चतुरमोहता के मुताबिक अगले पांच वर्षों में डिजिटल कारोबार तीन गुना से अधिक बढ़ सकता है और कैशलेस सोसयटी की तरफ तेजी से बढ़ रहे एरा में मोबाइल ऐप पेमेंट्स की भूमिका बढ़ रही है. पेटीएम का आईपीओ 49.7 एमकैप/वित्त वर्ष21 रेवेन्यू पर उपलब्ध है. हाई वैल्यूएशन के बावजूद डिजिटल फाइनेंस स्पेस में पेटीएम की मजबूत मौजूदगी है. इसके चलते सैंक्टम वेल्थ ने इसे सब्सक्राइब की रेटिंग दी है.

किसी भी वित्त वर्ष में पेटीएम को मुनाफा नहीं

कंपनी के करीब 33.3 करोड़ ग्राहक हैं और 11.4 करोड़ एनुअल ट्रांजैक्टिंग यूजर्स और 2.10 करोड़ रजिस्टर्ड मर्चेंट्स हैं. कंपनी के वित्तीय स्थिति की बात करें तो पेटीएम जब से शुरू हुई है, इसे किसी भी वित्त वर्ष में मुनाफा नहीं हुआ है. पिछले तीन वित्त वर्ष में मुनाफा (प्रॉफिट आफ्टर टैक्स) तो नहीं हुआ है लेकिन नुकसान में कमी आई है. वित्त वर्ष 2019 में कंपनी को 4230.9 करोड़ रुपये का लॉस हुआ था जो अगले वित्त वर्ष 2020 में घटकर 2942.4 करोड़ रुपये और फिर अगले वित्त वर्ष 2021 में घटकर 1701 करोड़ रुपये रह गया.

(स्टोरी में दिए गए स्टॉक रिकमंडेशन संबंधित रिसर्च एनालिस्ट व ब्रोकरेज फर्म के हैं. फाइनेंशियल एक्सप्रेस ऑनलाइन इनकी कोई जिम्मेदारी नहीं लेता. पूंजी बाजार में निवेश जोखिमों के अधीन हैं. निवेश से पहले अपने सलाहकार से जरूर परामर्श कर लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Paytm IPO: पेटीएम के रिकॉर्ड आईपीओ में पैसे लगाए या नहीं, एक्सपर्ट की ये है राय; इश्यू से जुड़ी सभी डिटेल्स यहां देखें

Go to Top