सर्वाधिक पढ़ी गईं

कोरोना लॉकडाउन के चलते हाउसहोल्ड सेविंग्स में आया उछाल, 2019 की तुलना में पिछले साल बढ़ी बचत: रिपोर्ट

कोरोना के चलते पिछले साल 2020 में लॉकडाउन के चलते अधिकतम समय तक लोग घरों में ही बंद रहे. इसके चलते हाउसहोल्ड सेविंग्स में उछाल आया.

Updated: Apr 27, 2021 7:16 PM
The Centre's aggressive use of the cess route to bolster its own tax revenue has in recent years decelerated the growth of the divisible tax pool, thereby adversely impacting the states' tax revenue.The Centre's aggressive use of the cess route to bolster its own tax revenue has in recent years decelerated the growth of the divisible tax pool, thereby adversely impacting the states' tax revenue.

कोरोना के चलते पिछले साल 2020 में लॉकडाउन के चलते अधिकतम समय तक लोग घरों में ही बंद रहे. इसके चलते हाउसहोल्ड सेविंग्स में उछाल आया. 2019 में हाउसहोल्ड सेविंग्स जीडीपी का 19.8 फीसदी था जो 2020 में बढ़कर 22.5 फीसदी हो गया. हालांकि अप्रैल-जून के दौरान जब देश भर में सख्त लॉकडाउन था तो हाउसहोल्ड की फिजिकल सेविंग्स जीडीपी के 5.8 फीसदी पर पहुंच गई. यह कोरोना से पहले के मुकाबले लगभग आधा था. यह खुलासा ब्रोकरेज फर्म मोतीलाल ओसवाल फाइनेंसियल सर्विसेज द्वारा जारी एक रिपोर्ट से हुआ है. पिछले साल 2020 की दिसंबर तिमाही तक इसमें रिकवरी रही और जीडीपी के 13.7 फीसदी के बराबर पहुंच गया जो पिछले कई वर्षों में सबसे अधिक है.
पिछले साल 2020 में सितंबर तिमाही की तुलना में दिसंबर तिमाही में लोगों ने अपनी बचत करेंसी और इंवेस्टमेंट के रूप में बढ़ाई लेकिन डिपॉजिट्स, पेंशन व स्माल सेविंग्स के रूप में बचत में गिरावट आई. दिसंबर तिमाही में लोगों ने बैंकों से अधिक उधार लिया लेकिन गैर-बैंकों व हाउसिंग फाइनेंस कंपनीज के प्रति उनकी देनदारी में गिरावट आई.

Oppo A53s 5G India Launch: 14,990 रु शुरुआती कीमत, 5,000mAh की दमदार बैटरी

जापान में 5.4 गुना बढ़ी हाउसहोल्ड सेविंग्स

आवाजाही पर रोक के चलते पिछले साल 2020 में दुनिया भर में हाउसहोल्ड सेविंग्स बढ़ी. 2019 के मुकाबले भारत में पिछले साल हाउसहोल्ड सेविंग्स 1.1 गुना अधिक रही लेकिन यह अन्य देशों के मुकाबले बहुत कम रही. जापान में इस दौरान हाउसहोल्ड सेविंग्स 5.4 गुना बढ़ी. दिलचस्प रूप से हाउसहोल्ड सेविंग्स में धीमी बढ़त की मुख्य वजह आय में हल्की बढ़त रही. भारत में पिछले साल प्राइवेट फाइनल कंजम्प्शन 6 फीसदी गिरा जो कि अन्य प्रमुख देशों के मुकाबले लगभग बराबर या कम रहा. हालांकि अमेरिका इस मामले में अपवाद रहा जहां खपत में 2019 के मुकाबले 2020 में सिर्फ 2.7 फीसदी की गिरावट आई.

जून 2020 तिमाही में गैर-वित्तीय बचत 21.4 फीसदी

आरबीआई द्वारा हालिया जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले साल 2020 की जून तिमाही में परिवारों की गैर-वित्तीय बचत जीडीपी के 21.4 फीसदी के बराबर थी और सितंबर 2020 तिमाही में 10.4 फीसदी थी. कोरोना से पहले जनवरी-मार्च तिमाही में हाउसहोल्ड नॉन-फाइनेंसियल सेविंग्स जीडीपी का 7-8 फीसदी था. हालांकि दिसंबर तिमाही में यह गिरकर 8.4 फीसदी रह गया. आरबीआई के आंकड़ों के मुताबिक दिसंबर तिमाही में ग्रॉस फाइनेंसियल सेविंग्स जीडीपी के 13.2 फीसदी तक गिर गया और फाइनेंशियल लॉयबिलिटीज जीडीपी के 4.8 फीसदी के बराबर रहा.

पिछले दशक के मुकाबले दिसंबर 2020 में अधिक फाइनेंसियल सेविंग्स

पिछले दशक में ग्रॉस फाइनेंसियल सेविंग्स जीडीपी का 10-12 फीसदी रहा लेकिन इसकी तुलना में दिसंबर 2020 तिमाही में यह 13.2 फीसदी रहा. दिसंबर तिमाही में वित्तीय देनदारी जीडीपी के 4.8 फीसदी के बराबर रही. हाउसहोल्ड नॉन-फाइनेंसियल सेविंग्स की बात करें तो दिसंबर 2020 तिमाही में यह गिरकर जीडीपी के 8.4 फीसदी के बराबर पहुंच गया. इसका मतलब हुआ कि पिछले साल 2020 की अंतिम तीन तिमाहियों में गैर-वित्तीय बचत जीडीपी के 12.7 फीसदी के बराबर था जो पिछले दशक में 7-8 फीसदी से अधिक रहा और अब तक किसी वित्तीय वर्ष 2010 में रिकॉर्ड 12.1 फीसदी से अधिक रहा.

अप्रैल-दिसंबर में 10.6 फीसदी रही फिजिकल सेविंग्स

अधिकतर विकसित देशों की तुलना में भारत में हाउसहोल्ड सेविंग्स अप्रत्यक्ष रूप से एस्टीमेट की जाती है. इसके अलावा फाइनेंसियल सेविंग्स के लिए फंड के फ्लो अप्रोच और फिजिकल सेविंग्स के लिए कमोडिटी या रेजिड्यूअल अप्रोच के जरिए हाउसहोल्ड सेविंग्स को परिभाषित किया जाता है और कैलकुलेट किया जाता है. एडवांस्ड इकोनॉमीज में इसे हाउसहोल्ड की आय और उनके खपत के अंतर के रूप में कैलकुलेट किया जाता है.
मोतीलाल ओसवाल के कैलकुलेशंस के मुताबिक 2020 की दूसरी तिमाही में हाउसहोल्ड इंवेस्टमेंट या फिजिकल सेविंग्स जीडीपी के 5.8 फीसदी तक गिर गई लेकिन इसके बाद तीसरी तिमाही में यह कई साल के रिकॉर्ड स्तर 13.7 फीसदी पर पहुंच गई. पिछले साल 2020 की दूसरी, तीसरी और चौथी तिमाही में फिजिकल सेविंग्स 10.6 फीसदी रहा जोकि कोरोना से पहले के 11 फीसदी के मुकाबले कम रहा.

 

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. कोरोना लॉकडाउन के चलते हाउसहोल्ड सेविंग्स में आया उछाल, 2019 की तुलना में पिछले साल बढ़ी बचत: रिपोर्ट

Go to Top