मुख्य समाचार:

बजाज फाइनेंस के चेयरमैन पद से राहुल बजाज का इस्तीफा, तीन दशक से संभाल रहे थे जिम्मेदारी

राहुल बजाज की जगह संजीव बजाज कंपनी के गैर-कार्यकारी चेयरमैन पद की जिम्मेदारी 1 अगस्त से संभालेंगे.

Published: July 21, 2020 5:05 PM
Rahul Bajaj steps down as Chairman of Bajaj Financeराहुल बजाज राज्यसभा के लिए 2006-2010 तक सदस्य भी रहे.

Rahul Bajaj: जाने माने उद्योगपति राहुल बजाज (Rahul Bajaj) ने बजाज फाइनेंस (Bajaj Finance) के गैर-कार्यकारी चेयरमैन पद से 31 जुलाई को इस्तीफा दे देंगे. बीते तीस साल से अधिक समय से यह कंपनी से जुड़े थे.  कंपनी ने नियामक को दी जानकारी में बताया कि उनकी जगह मौजूदा वाइस चेयरमैन संजीव बजाज लेंगे. हालांकि, राहुल बजाज कंपनी के गैर कार्यकारी गैर स्वतंत्र निदेशक बने रहेंगे. कंपनी के बोर्ड ने संजीव बजाज की बतौर गैर कार्यकारी चेयरमैन पद पर नियुक्ति को मंजूरी दे दी है. उनका कार्यकाल 1 अगस्त से प्रभावी हो जाएगा.

कंपनी ने बताया कि गैर कार्यकारी चेयरमैन राहुल बजाज 1987 में इसकी स्थापना से ही इसका संचालन कर रहे हैं. साथ ही समूह में वे बीते 5 दशक से सक्रिय हैं. सक्सेशन योजना के तहत उन्होंने कंपनी बोर्ड के चेयरमैन का पद 31 जुलाई 2020 को छोड़ने का फैसला किया है.

राज्य सभा के सदस्य भी रहे राहुल बजाज

राहुल बजाज हार्वर्ड बिजनेस स्कूल से एमबीए हैं. इसके अलावा उन्होंने बॉम्बे यूनिवर्सिटी से वकालत की पढ़ाई भी की है. साल 1968 में 30 वर्ष की उम्र में जब राहुल बजाज ने ‘बजाज ऑटो लिमिटेड’ के सीईओ का पद संभाला था. 2005 में उन्होंने बजाज समूह के चेयरमैन पद से इस्तीफा दे दिया. उनके बेटे राजीव बजाज ने ग्रुप की प्रबंध निदेशक का कार्यभार संभाला.

बजाज राज्यसभा के लिए 2006-2010 तक सदस्य भी रहे. उन्हें भारत के तीसरे सर्वोच्च सम्मान ‘पद्म भूषण’ से भी सम्मानित किया गया है. Forbes 2016 की लिस्ट में वे दुनिया के अरबपतियों में 2.4 अरब डॉलर की नेटवर्थ के साथ 722वें स्थान पर रहे.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. बजाज फाइनेंस के चेयरमैन पद से राहुल बजाज का इस्तीफा, तीन दशक से संभाल रहे थे जिम्मेदारी

Go to Top