मुख्य समाचार:

निफ्टी छू सकता है 10500 का स्तर, अर्निंग सीजन और DII पर रहेगी मार्केट की नजर

बाजार किसी बड़े पॉजिटिव ट्रिगर की तलाश में है, जिसके न मिलने पर निफ्टी आगे 10500 और सेंसेक्स 35000 का स्तर भी छू सकता है. एक्सपर्ट का कहना है कि आगे कॉरपोरेट अर्निंग पर बाजार की खास तौर पर नजर रहेगी.

September 21, 2018 7:50 AM
stock market, sensex, nifty, earning season, corporate earning, rupee, crude, trade war, electionबाजार किसी बड़े पॉजिटिव ट्रिगर की तलाश में है, जिसके न मिलने पर निफ्टी आगे 10500 और सेंसेक्स 35000 का स्तर भी छू सकता है. एक्सपर्ट का कहना है कि आगे कॉरपोरेट अर्निंग पर बाजार की खास तौर पर नजर रहेगी.

शेयर बाजार में पिछले 3 दिन ट्रेडिंग सेशन से लगातार गिरावट है. इस दौरान सेंसेक्स करीब 900 अंक और निफ्टी करीब 270 अंक टूटा है. एक्सपर्ट का कहना है कि मौजूदा समय में कई घरेलू और बाहरी फैक्टर हैं जो बाजार में निगेटिव सेंटीमेंट को बढ़ा रहे हैं. ग्लोबल एजेंसिया भी मार्केट की रेटिंग घटा रही हैं.ऐसे में बाजार किसी बड़े पॉजिटिव ट्रिगर की तलाश में है, जिसके न मिलने पर निफ्टी आगे 10500 और सेंसेक्स 35000 का स्तर भी छू सकता है. एक्सपर्ट का कहना है कि आगे कॉरपोरेट अर्निंग पर बाजार की खास तौर पर नजर रहेगी.

बाजार में वोलैटिलिटी हावी

सेंट्रम ब्रोकिंग के सीनियर वीपी और रिसर्च हेड जगन्नाधम थुनुगुंटला का कहना है कि घरेलू शेयर बाजार में इस समय कई निगेटिव फैक्टर हावी हैं. जैसे रुपये में कमजेारी, क्रूड की महंगाई, बॉन्ड यील्ड में तेजी, कैड बढ़ने की आशंका और ट्रेड वार, जिससे बाजार में वोलैटिलिटी हावी हो चुकी है. वहीं, आगे की बात करें तो 3 राज्यों में चुनाव होने हैं, जो आम चुनावों के पहले केंद्र सरकार की स्थिरता को लेकर बड़ा संकेत हो सकते हैं. 2019 में आम चुनाव भी है. ऐसे में बाजार में कई तरह की आशंकाएं रहेंगी. ऐसे में अगले कुछ महीने बाजार में दबाव रहेगा.

अर्निंग सीजन और डीआईआई पर नजर

इक्विटी 99 के सीनियर एनालिस्ट राहुल शर्मा का कहना है कि मौजूदा समय में कोई पॉजिटिव ट्रिगर नहीं दिख रहा है. ऐसे में आने वाले दिनों में अर्निंग सीजन और घरेलू निवेशकों का क्या रुख है, यह बाजार के लिए अहम है. अगर अर्निंग में रिकवरी होती है तो बाजार को वहां से एक नया सपोर्ट मिल सकता है. दूसरी ओर जब विदेशी निवेशक लगातार पैसा निकाल रहे हैं, घरेलू निवेशकों का सपोर्अ बाजार के लिए जरूरी है.

निफ्टी छू सकता है 10500 का स्तर

सैमको सिक्युरिटीज के सीईओ जिमित मोदी का कहना है कि आगे ग्लोबल इंटरेस्ट रेट, ट्रेड वार, रुपये की चाल, महंगाई और राजनैतिक स्थिरता को लेकर मिलने वाले संकेत बाजार पर बड़ा असर डाल सकते हैं. अगर पॉजिटिव संकेत नहीं मिलते हैं तो निफ्टी 10500 से 10800 की रेंज में और सेंसेक्स 35000 से 35500 की रेंज में कारोबार करता दिख सकता है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. निफ्टी छू सकता है 10500 का स्तर, अर्निंग सीजन और DII पर रहेगी मार्केट की नजर

Go to Top