scorecardresearch

New IPO: SEBI ने 28 कंपनियों को दी 45 हजार करोड़ के IPO लाने की मंजूरी, जानें कब तक मिलेगा निवेश का मौका

सेबी ने वित्त वर्ष 2022-23 की पहली तिमाही अप्रैल-जुलाई के दौरान 28 दिग्गज कंपनियों को आईपीओ लाने की मंजूरी दी है. इसके अलावा जून-जुलाई में 15 ने ड्राफ्ट फाइल किया है.

New IPO 28 companies secure Sebi clearance to float IPOs worth Rs 45 thousand crore in Apr-Jul FY23
जिन कंपनियों को आईपीओ लाने के लिए मंजूरी मिली है, उन्होंने अभी तक इसे लाने की तारीख घोषित नहीं की है.

New IPO: बाजार नियामक सेबी (SEBI) ने वित्त वर्ष 2022-23 की पहली तिमाही अप्रैल-जुलाई के दौरान 28 दिग्गज कंपनियों को आईपीओ लाने की मंजूरी दी है. इन आईपीओ के जरिए करीब 45 हजार करोड़ रुपये जुटाने की योजना है. जिन फर्मों को आईपीओ लाने के लिए बाजार नियामक की मंजूरी मिली है, उनमें लाइफस्टाइल रिटेल ब्रांड फैबइंडिया (FabIndia), एफआईएच मोबाइल्स और फॉक्सकॉन टेक्नोलॉजी समूह की सहायक कंपनी- भारत एफआईएच (Bharat FIH), टीवीएस सप्लाई चेन सॉल्युशंस (TVS Supply Chain Solutions), ब्लैकस्टोन की आधार हाउसिंग फाइनेंस (Aadhar Housing Finance) और मैकलियोड्स फार्मा एंड किड्स क्लिनिक इंडिया (Macleods Pharmaceuticals and Kids Clinic India) शामिल हैं. जून-जुलाई में 15 कंपनियों ने ड्राफ्ट पेपर फाइल किए हैं जिसमें सुला विनेयार्ड्स, अलाइड ब्लेंडर्स एंड डिस्टिलर्स, उत्कर्ष स्माल फाइनेंस बैंक और साई सिल्क कालामंदिर शामिल हैं.

टॉप-10 कंपनियों में 8 के मार्केट कैप में इजाफा, इंफोसिस और टीसीएस की सबसे अधिक बढ़ी वैल्यू

IPO लाने के लिए कंपनियां सही वक्त का कर रहीं इंतजार

मर्चेंट बैंकरों के मुताबिक जिन कंपनियों को आईपीओ लाने के लिए मंजूरी मिली है, उन्होंने अभी तक इसे लाने की तारीख घोषित नहीं की है. आनंद राठी इनवेस्टमेंट बैंकिंग के निदेशक और इक्विटी पूंजी बाजार के प्रमुख प्रशांत राव के मुताबिक बाजार की मौजूदा स्थितियां चुनौतीपूर्ण हैं जिसके चलते मंजूरी मिलने के बाद कंपनियां इश्यू लाने के लिए सही समय की प्रतीक्षा कर रही हैं. राव के मुताबिक अधिकतर कंपनियों ने पूरी तैयारी कर ली है लेकिन वे सही समय की प्रतीक्षा में रुकी हुई हैं. मोतीलाल ओसवाल इंवेस्टमेंट एडवायजर्स के एमडी और सीईओ अभिजीत तारे के मुताबिक बाजार में रिकवरी दिख रही है और मार्केट सेंटिमेंट भी बेहतर हो रहा है जिसके चलते अगले दो से तीन महीने में कुछ आईपीओ मार्केट में आ सकते हैं.

तिरंगा के आर्किटेक्ट पिंगली वैंकेया की कहानी, आजादी के 75वें वर्ष में उनके गांव में कैसा है माहौल?

FY22 में 52 कंपनियों ने IPO के जरिए जुटाए थे 1.11 लाख करोड़

सेबी ने जून 2022 तिमाही में 28 कंपनियों को करीब 45 हजार करोड़ रुपये के आईपीओ के लिए मंजूरी दी है. चालू वित्त वर्ष 2022-23 में अब तक 11 कंपनियां आईपीओ के जरिए 33,254 करोड़ रुपये जुटा चुकी हैं. इसमें एक बड़ा हिस्सा करीब 20,557 करोड़ रुपये एलआईसी के आईपीओ का था. ये सभी इश्यू अप्रैल और मई में खुले थे और मई के बाद यानी जून महीने में एक भी आईपीओ नहीं आया था. पिछले वित्त वर्ष 2021-22 में 52 कंपनियों ने आईपीओ के जरिए 1.11 लाख करोड़ रुपये के आईपीओ जुटाए थे.
(Input: PTI)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

TRENDING NOW

Business News