मुख्य समाचार:

50 हजार बन गए 1 करोड़, 10 साल में 1900% रिटर्न; ये बिस्कुट कंपनी COVID-19 में भी बनी विनर

एफएमसीजी सेक्टर की प्रमुख कंपनी ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज कोरोना वायरस संकट में भी विनर साबित हुई है.

Published: June 4, 2020 4:02 PM
Multibagger Stocks, Britannia Industries, Biscuit Maker Company make investors crorepati, 1900% return in 10 years, britannia industries COVID-19 winner stocks, good day biscuit, tiger biscuit, home consumption, britannia profit, crorepati stocksएफएमसीजी सेक्टर की प्रमुख कंपनी ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज कोरोना वायरस संकट में भी विनर साबित हुई है.

एफएमसीजी सेक्टर की प्रमुख कंपनी ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज कोरोना वायरस संकट में भी विनर साबित हुई है. कंपनी को मार्च तिमाही में 381 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ है, जो सालाना आधार पर 32 फीसदी ज्यादा है. वहीं इस दौरान कंपनी की कुल आय भी बढ़कर 2767 करोड़ रुपये हो गया है. एक ओर जहां लॉकडाउन के चलते दूसरी कंपनियों को घाटा उठाना पड़ रहा है, बिस्कुट बनाने वाली कंपनी ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज कोविड 19 में भी विनर साबित हुई है. खासतौर से लॉकडाउन में पैकेट बंद खाने पीने की चीजों के दाम बढ़ने, कास्ट एफिसिएंसी प्रोग्राम और सस्ते रॉ मटेरियल का फायदा हुआ है. इसके बाद से ब्रोकरेज हाउस शेयर में आगे भी ग्रोथ की बात कह रहे हैं. बता दें कि ब्रिटानिया का शेयर निवेशकों के लिए लंबे समय से मल्टीबैगर साबित हुआ है.

10 साल में 50 हजार के बने 1 करोड़

ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज के शेयरों में पिछले 10 साल में 20 गुना की तेजी आई है. 10 साल पहले 172 रुपये के भाव वाला ये शेयर 3445 रुपये के भाव पर पहुंच गया है. इस दौरान शेयर में 3273.36 रुपये की तेजी आई है. फीसदी के हिसाब से यह शेयर 10 साल में 1900 फीसदी
की ग्रोथ दिखा चुका है. इस लिहाज से अगर 10 साल पहले शेयर में किसी ने महज 50 हजार रुपये निवेया कर इंतजार किया होगा तो उसका पैसा आज 1 करोड़ रुपये हो गया. इस साल की भी बात करें तो शेयर में करीब 14 फीसदी तेजी आ चुकी है और उन चुनिंदा शेयरों में शामिल हे, जिनमें इस साल अबतक ग्रोथ रही है.

पियर कंपनियों की तुलना में अच्छा प्रदर्शन

ब्रोकरेज हाउस एमके ग्लोबल का कहना है कि ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज के नतीजे पियर कंपनियों की तुलना में बेहतर रहे हैं. लॉकडाउन में खाने पीने वाले प्रोडक्ट की बिक्री पर रोक नहीं थी, जिसका फायदा कंपनी को हुआ है. कंपनी गुड डे और टाइगर ब्रांड नाम से बिस्कुल बनाती है. हालांकि लॉकडाउन के चलते कंपनी के ओवरआल सेल्स और नेट प्रॉफिट पर 7-10 फीसदी असर हुआ है. होम कंजम्पशन ज्यादा रहने और मजबूत बाजार हिस्सेदारी का फायदा कंपनी को आगे भी मिलेगा. मौजूदा तिमाही में भी कंपनी को अच्छी डिमांड मिलेगी, जिससे शेयर में तेजी आ सकती है. एमके ग्लोबन ने शेयर के लिए 3960 रुपये का लक्ष्य दिया है.

ब्रोकरेज हाउस मोतीलाल ओसवाल के मुताबिक कंपनी के नतीजे अनुमान से बेहतर रहे हैं. मैनजमेंट की कमेंट्री से उम्मीद और बढ़ती है. मैनेजमेंट ने दूसरी तिमाही में सेल्स ग्रोथ 24 फीसदी रहने का अनुमान जताया है. मैनेजमेंट का फोकस है कि प्रोडक्ट की उपलब्धता में किसी तरह की देरी न हो, जिससे होम कंजम्पशन बढ़े. कंपनी का पोर्टफोलियो बेहतर है. इसकी मार्केट हिस्सेदारी भी बढ़ रही है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. 50 हजार बन गए 1 करोड़, 10 साल में 1900% रिटर्न; ये बिस्कुट कंपनी COVID-19 में भी बनी विनर

Go to Top