सर्वाधिक पढ़ी गईं

RIL Q4 Results: रिलायंस इंडस्ट्रीज ने चौथी तिमाही में कमाया 13,227 करोड़ रुपये का मुनाफा, पिछले साल से दोगुना, फिर भी अनुमानों से रहा कम

मुकेश अंबानी की कंपनी RIL ने जनवरी-मार्च 2021 के दौरान पिछले साल की इसी अवधि के मुकाबले 108.36 फीसदी ज्यादा नेट प्रॉफिट दर्ज किया है, कंपनी ने अपने शेयरधारकों को 7 रुपये प्रति शेयर की दर से डिविडेंड देने का एलान भी किया है.

Updated: Apr 30, 2021 8:57 PM
मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज के वित्तीय नतीजे बाजार की उम्मीदों के मुताबिक नहीं रहे हैं.

Reliance Industries Q4 Results: मार्केट कैप के लिहाज से देश की सबसे बड़ी कंपनी रिलायस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) ने आज अपने चौथी तिमाही (जनवरी-मार्च 2021) के वित्तीय नतीजों का एलान कर दिया. ताजा नतीजों के मुताबिक चौथी तिमाही में कंपनी का शुद्ध मुनाफा 13,227 करोड़ रुपये रहा है. यह पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 108.4 फीसदी ज्यादा है. लेकिन पिछली तिमाही के मुकाबले यह बढ़ोतरी महज एक फीसदी की रही है.

पिछले साल की चौथी तिमाही में कंपनी का मुनाफा 6348 करोड़ रुपये रहा था. जिसके लिए कुछ हद तक कोरोना के कारण लागू लॉकडाउन को भी जिम्मेदार माना जाता है. देश के सबसे रईस उद्योगपति मुकेश अंबानी की कंपनी ने अक्टूबर से दिसंबर 2020 की तिमाही के दौरान 13,101 करोड़ रुपये का नेट प्रॉफिट दर्ज किया था.

वित्त वर्ष 2021 की चौथी तिमाही में कंपनी की कंसॉलिडेटेड आय 1,54,896 करोड़ रुपये रही है, जो पिछले साल की इसी अवधि की तुलना में 11 फीसदी अधिक है. जबकि पिछली तिमाही के मुकाबले इसमें 24.9 फीसदी की बढ़ोतरी देखने को मिली है. कंपनी ने 31 मार्च 2021 को खत्म कारोबारी साल के लिए अपने शेयरधारकों को 7 रुपये प्रति शेयर की दर से डिविडेंड यानी लाभांश देने का एलान भी किया है. आज चौथी तिमाही के नतीजे आने से पहले रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरों में 1.42 फीसदी की बड़ी गिरावट देखने को मिली. शुक्रवार को कंपनी के शेयर 1,994.45 रुपये पर बंद हुए.

रिलायंस इंडस्ट्री के रिजल्ट की खास बातें

  • चौथी तिमाही में कंसॉलिडेटेड परिचालन आय पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 11 फीसदी बढ़कर 1.39 लाख करोड़ से 1.54 लाख करोड़ हो गई. अक्टूबर से दिसंबर 2020 के दौरान यह आय 1.23 लाख करोड़ रुपये रही थी.
  • जनवरी-मार्च 2021 की तिमाही में कंपनी का शुद्ध लाभ 13,227 करोड़ रुपये रहा, जो पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 108.4 फीसदी ज्यादा है. लेकिन अक्टूबर-दिसंबर 2020 की तिमाही के मुकाबले यह बढ़ोतरी सिर्फ एक फीसदी है.
  • कंपनी ने 31 मार्च 2021 को खत्म वित्तीय वर्ष के लिए अपने शेयर धारकों को 7 रुपये प्रति शेयर की दर से डिविडेंड देने का एलान किया है.
  • कंपनी को ऑयल टू केमिकल (O2C) बिजनेस से होने वाली आय चौथी तिमाही में 1.01 लाख करोड़ रुपये रही, जो पिछले साल की इसी तिमाही की 96,732 करोड़ रुपये की आय के मुकाबले 4.4 फीसदी ज्यादा है.
  • ऑयल और गैस सेगमेंट की आय जनवरी-मार्च 2021 के दौरान 848 करोड़ रुपये रही, जबकि पिछले साल की इसी तिमाही में यह 625 करोड़ रुपये रही थी.
  • कंपनी ने जनवरी-मार्च 2021 के तीन महीनों के दौरान डिजिटल सर्विसेज से 22,628 करोड़ रुपये की आय अर्जित की है, जबकि पिछले साल की इसी तिमाही में यह आय 19,153 करोड़ रुपये रही थी.
  • वित्त वर्ष 2020-21 की चौथी तिमाही में कंपनी ने रिटेल बिजनेस से 46,099 करोड़ रुपये कमाए हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. RIL Q4 Results: रिलायंस इंडस्ट्रीज ने चौथी तिमाही में कमाया 13,227 करोड़ रुपये का मुनाफा, पिछले साल से दोगुना, फिर भी अनुमानों से रहा कम

Go to Top