मुख्य समाचार:
  1. जियो में निवेश कर सकता है जापान का सॉफ्टबैंक, मुकेश अंबानी हिस्सेदारी बेचने की कोशिश में

जियो में निवेश कर सकता है जापान का सॉफ्टबैंक, मुकेश अंबानी हिस्सेदारी बेचने की कोशिश में

जापान का सॉफ्टबैंक दूरसंचार क्षेत्र की तेजी से बढ़ती कंपनी रिलायंस जियो में 21 हजार करोड़ रुपये (300 करोड़ डॉलर) निवेश करने पर विचार कर रहा है.

April 23, 2019 10:17 PM
Mukesh Ambani, Jio success, Softbank, Industry, JPMorgan, Reliance, Reliance Retail, reliance jio, mukesh ambani in jio, mukesh ambani sale stake in jio, jio softbankसितंबर 2016 में जियो की हुई थी शुरुआत

जापान का सॉफ्टबैंक दूरसंचार क्षेत्र की तेजी से बढ़ती कंपनी रिलायंस जियो में 21 हजार करोड़ रुपये (300 करोड़ डॉलर) निवेश करने पर विचार कर रहा है. माना जा रहा है कि अरबपति कारोबारी मुकेश अंबानी कारोबार में हिस्सेदारी बेचने के इच्छुक हैं. यह खबर ऐसे समय आई है जब सऊदी अरब की आरामको के रिलायंस इंडस्ट्रीज के रिफाइनरी एवं पेट्रोकेमिकल कारोबार में 25 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने की रिपोर्टें आ रहीं हैं. यह सौदा 1 लाख करोड़ रुपये (1500 करोड़ डॉलर) का होने की उम्मीद है. हालांकि, इस खबर पर रिलायंस और सॉफ्टबैंक दोनों के ही प्रवक्ताओं ने टिप्पणी करने से इनकार कर दिया.

सॉफ्टबैंक लंबे समय से जियो का संभावित निवेशक

जेपी मॉर्गन ने अपनी एक शोध रिपोर्ट में कहा, ‘‘सॉफ्टबैंक को लंबे समय से जियो में एक संभावित निवेशक के तौर पर देखा जा रहा है. पिछले दो साल में हमने कई निवेशकों से बातचीत की जिसमें सॉफ्टबैंक के जियो में निवेश करने की संभावनाओं को उजागर किया गया है. ऐसे में यह खबर चौंकाने वाली नहीं है.’’

सितंबर 2016 में जियो की हुई थी शुरुआत

कंपनी ने सितंबर 2016 में अपनी सेवा शुरू की थी और मात्र दो साल के भीतर ही वह भारत की तीसरी सबसे बड़ी दूरसंचार सेवाप्रदाता कंपनी बन गयी.

Go to Top

FinancialExpress_1x1_Imp_Desktop