सर्वाधिक पढ़ी गईं

COVID19 टीकाकरण: मुकेश अंबानी उपलब्ध कराएंगे टेक्नोलॉजी टूल्स, कहा- डिजिटल पुश ने महामारी में भी देश को रुकने नहीं दिया

इसके लिए ग्रुप अथॉरिटीज के साथ मिलकर काम कर रहा है.

Updated: Dec 15, 2020 8:39 PM
Mukesh Ambani says will provide technology tools for COVID-19 vaccination drive, coronavirus, reliance industries, digital pushImage: PTI

रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) के चेयरमैन मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) ने कहा है कि उनका ग्रुप कोविड19 टीकाकरण अभियान के लिए टेक्नोलॉजी टूल्स उपलब्ध कराएगा. इसके लिए ग्रुप अथॉरिटीज के साथ मिलकर काम कर रहा है. फेसबुक के एक ईवेंट में अंबानी ने कहा कि डिजिटल माध्यम पर सरकार के जोर ने देश को महामारी के वक्त में भी चालू रखा है और अब यही डिजिटल पुश सबसे बड़े वैक्सीन प्रोग्राम्स में से एक को शुरू करने में मदद कर रहा है.

अंबानी ने कहा कि कई बार मुझे हैरानी होती है कि अगर भारत आज से 4 या 5 साल पहले महामारी में फंस गया होता तो हम उतनी अच्छी स्थिति में नहीं होते, जितनी कि आज हैं और इसकी वजह बेहतर कनेक्टिविटी है. आगे कहा कि इसका श्रेय प्रधानमंत्री के डिजिटल इंडिया विजन को जाता है. उन्होंने अपने पहले पीएम कार्यकाल में पूरी इंडस्ट्री को ब्रॉडबैंड लाने के लिए प्रेरित किया.

हेल्थ सर्विसेज देने में भी टेक्नोलॉजी ने की मदद

इस डिजिटल पुश ने महामारी के दौरान 20 करोड़ जरूरतमंदों के बैंक खातों में पैसे ट्रांसफर करने में मदद की और अब हम ​2021 की पहली छमाही में सबसे बड़े वैक्सीन प्रोग्राम्स में से एक को शुरू करने के​ लिए तैयार हैं. टेक्नोलॉजी ने हेल्थ सर्विसेज डिलीवर करने में भी मदद की है. मुकेश अंबानी ने कहा कि हम सभी अथॉरिटीज के साथ काफी नजदीकी के साथ काम कर रहे हैं ताकि टीकाकरण के लिए टेक्नोलॉजी टूल्स और बैकबोन सुनिश्चित की जा सके. बता दें कि इस माह की शुरुआत में पीएम नरेन्द्र मोदी ने भी कोविड19 के खिलाफ व्यापक टीकाकरण अभियान के लिए मोबाइल टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल की बात कही थी.

प्रतिकूल घटना के लिए भी रहें तैयार: सरकार

इस बीच सरकार की ओर से कहा गया है कि कोविड19 वैक्सीन लगने के बाद प्रतिकूल घटना की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता है. इसलिए राज्य व केन्द्र शासित प्रदेश इसके लिए भी तैयार रहें. एक प्रेस कांफ्रेंस में स्वास्थ्य मंत्रालय में सचिव राजेश भूषण ने कहा कि इम्युनाइजेशन के बाद प्रतिकूल घटनाएं एक गंभीर पहलू है. राज्यों को हर ब्लॉक में इम्युनाइजेशन मैनेजमेंट सेंटर के बाद कम से कम एक प्रतिकूल घटना की पहचान करने को कहा गया है. उन्होंने कहा कि जिन देशों में वैक्सिनेशन शुरू हो चुका है विशेषकर ब्रिटेन, वहां पहले ही दिन प्रतिकूल घटना सामने आई. इसलिए भारत में भी राज्यों व केन्द्र शासित प्रदेशों को इसके लिए तैयार रहना चाहिए.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. COVID19 टीकाकरण: मुकेश अंबानी उपलब्ध कराएंगे टेक्नोलॉजी टूल्स, कहा- डिजिटल पुश ने महामारी में भी देश को रुकने नहीं दिया

Go to Top