सर्वाधिक पढ़ी गईं

भारत के पास चौथी औद्योगिक क्रांति की अगुवाई करने का मौका, जियो करेगा मदद: मुकेश अंबानी

मुकेश अंबानी ने गुरुवार को कहा कि भारत के पास मौका है वह चौथी औद्योगिक क्रांति की अपनी आईटी शक्ति, अल्ट्रा हाई स्पीड इंटरनेट कनेक्टिविटी और किफायती स्मार्ट डिवाइजेस के मेल के जरिए अगुवाई कर सकता है.

October 8, 2020 6:37 PM
mukesh ambani, RILAmerican buyout firm had made the investment for an exchange of 1.28 per cent equity stake in RRVL

अरबपति मुकेश अंबानी ने गुरुवार को कहा कि भारत के पास मौका है वह चौथी औद्योगिक क्रांति की अपनी आईटी शक्ति, अल्ट्रा हाई स्पीड इंटरनेट कनेक्टिविटी और किफायती स्मार्ट डिवाइजेस के मेल के जरिए अगुवाई कर सकता है. सबसे अमीर भारतीय अंबानी जो देश की सबसे मूल्यवान कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के मालिक हैं, उन्होंने कहा कि ग्रुप की टेलिकॉम और डिजिटल यूनिट जियो को चौथी औद्योगिक क्रांति की अगुवाई करने के लिए जरूरी मुख्य चीजों को उपलब्ध कराने के लिए खड़ा किया गया था.

भारत पिछली औद्योगिक क्रांति में रहा पीछे

भारत पहली दो औद्योगिक क्रांति और उनके द्वारा लाए गए बदलावों का फायदा लेने में नाकामयाब रहा. तीसरी औद्योगिक क्रांति के दौरान जहां सूचना प्रौद्योगिकी उभर कर आगे आई, भारत इस दौड़ में शामिल हुआ लेकिन वह पीछे बना रहा और अगुवाई करने वालों के साथ पहुंचने की कोशिश करता रहा.

उन्होंने TM फोरम की डिजिटल ट्रांसफोर्मेशन वर्ल्ड सीरीज में कहा कि जैसे हम चौथी औद्योगिक क्रांति में जा रहे हैं, भारत के पास यह मौका है कि वे केवल लीडर के साथ नहीं ही आ सकता. बल्कि, वे खुद भी ग्लोबल लीडर के तौर पर उभर सकता है.

उन्होंने कहा कि चौथी औद्योगिक क्रांति डिजिटल और फिजिकल टेक्नोलॉजी के मेल से होगी जैसे डिजिटल कनेक्टिविटी, क्लाउड और एज कंप्यूटिंग, IoT एंड स्मार्ट डिवाइसेज, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, रोबोटिक्स, ब्लॉकचैन, AR/VR और जीनोमिक्स. उन्होंने कहा कि इस क्रांति में भाग लेने के लिए तीन मूलभूत जरूरतें अल्ट्रा हाई स्पीड कनेक्टिविटी, अफोर्डेबल स्मार्ट डिवाइसेज और ट्रांसफोर्मेशनल डिजिटल ऐप्स हैं. जियो को इस सफर को इनेबल करने के लिए बनाया गया था.

LIC एजेंट से अरबपति बनने की कहानी, ये शख्स कैसे बन गया 7700 करोड़ का मालिक

जियो ने भारत में डेटा की मुश्किल खत्म की: अंबानी

अंबानी ने कहा कि जियो से पहले भारत 2G टेक्नोलॉजी के साथ अटका था. जियो भारत की डेटा की मुश्किल को खत्म करना और डिजिटल क्रांति को लाना चाहता है. इसके बाद उन्होंने बताया कि उन्होंने एक वर्ल्ड क्लास, ऑल IP, फ्लूचर प्रूफ डिजिटल नेटवर्क बनाया है जो देश भर में सबसे तेज स्पीड और बेस्ट कवरेज देता है. जहां भारतीय टेलिकॉम उद्योग को अपने 2G नेटवर्क को बनाने में 25 साल लगे, जियो ने अपने 4G नेटवर्क को केवल तीन सालों में ही बना लिया.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. भारत के पास चौथी औद्योगिक क्रांति की अगुवाई करने का मौका, जियो करेगा मदद: मुकेश अंबानी

Go to Top