मुख्य समाचार:
  1. इस साल भी मुकेश अंबानी ने नहीं बढ़ाई अपनी सैलरी, पिछले 11 साल से है 15 करोड़ रुपये

इस साल भी मुकेश अंबानी ने नहीं बढ़ाई अपनी सैलरी, पिछले 11 साल से है 15 करोड़ रुपये

लगातार 11वें साल मुकेश अंबानी की सैलरी 15 करोड़ रुपये रही.

July 20, 2019 3:09 PM
Mukesh Ambani salary capped at Rs 15 crore for 11th yr in a rowअंबानी ने खुद की इच्छा से अपनी रेमुनरेशन स्थिर रखने की अक्टूबर 2009 में घोषणा की थी.

भारत के सबसे अमीर व्यक्ति और रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर मुकेश अंबानी का सालाना सैलरी पैकेज लगातार 11वें साल 15 करोड़ रुपये के स्तर पर बना रहा. कंपनी से मिलने वाली अंबानी सैलरी, पर्क्स और अलाउंस जैसे अन्य बैनिफिट्स साल 2008-09 से स्थिर हैं. हालांकि इस दौरान दौरान रिलायंस इंडस्ट्रीज में अंबानी के सभी पूर्णकालिक डायरेक्टर्स की रेमुनरेशन्स में अच्छी ग्रोथ देखने को मिली है दर्ज जिनमें उनके निकट संबंधी निखिल और हीतल मेसानी भी हैं.

बैलेंस बनाए रखने के लिए नहीं बढ़ाई सैलरी

कंपनी की एनुअल रिपोर्ट के अनुसार ‘‘चेयरमैन एवं मैनेजिंग डायरेक्टर मुकेश अंबानी की कुल रेमुनरेशन सालाना 15 करोड़ रुपये के स्तर पर बरकरार रखी गई हैं. यह कंपनी में डायरेक्टर लेवल की रेमुनरेशन्स को संतुलित रखने के लिए उदाहरण पेश करते रहने की उनकी इच्छा को दिखाता है.’’मुकेश अंबानी के वित्त वर्ष 2018-19 की रेमुनरेशन्स में 4.45 करोड़ रुपये सैलरी और अलाउसेंस के रूप में दिए गए. उनका वेतन एवं भत्ता 2017-18 में 4.49 करोड़ रुपये रहा था. अंबानी ने खुद की इच्छा से अपनी रेमुनरेशन स्थिर रखने की अक्टूबर 2009 में घोषणा की थी.

अन्य डायरेक्टर्स की सैलरी में अच्छी ग्रोथ

निखिल और हीतल दोनों को 2018-19 में 20.57-20.57 करोड़ रुपये का पैकेज दिया गया. एक साल पहले इन दोनों में से हर व्यक्ति को 19.99 करोड़ रुपये मिले थे.इसी दौरान कंपनी के एक्जिक्यूटिव डायरेक्टर पी.एम.एस. प्रसाद का मानदेय 8.99 करोड़ रुपये से बढ़कर 10.01 करोड़ रुपये किया गया . इसी तरह कंपनी के रिफाइनरी चीफ पवन कुमार कपिल का मानदेय भी 3.47 करोड़ रुपये से बढ़कर 4.17 करोड़ रुपये पर पहुंच गया. कंपनी के पूर्णकालिक डायरेक्टर्स में अंबानी के अलावा निखिल, हीतल, प्रसाद और कपिल शामिल हैं.

Go to Top