सर्वाधिक पढ़ी गईं

मुकेश अंबानी की रिलायंस रिटेल को सिल्वर लेक से मिले 7,500 करोड़, 1.75% हिस्सेदारी के लिए डील

मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) की खुदरा इकाई में सिल्वर लेक पार्टनर्स ने 7,500 करोड़ रुपये का भुगतान किया है.

Updated: Sep 26, 2020 6:17 PM
mukesh ambani reliance retail received 7,500 crore from silver lake for 1.75 percent stakeMukesh Ambani was speaking at TM Forum's Digital Transformation World Series 2020 Virtual Conference.

अरबपति मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) की खुदरा इकाई में अमेरिका की निजी इक्विटी कंपनी सिल्वर लेक पार्टनर्स ने 1.75 फीसदी हिस्सेदारी के बदले 7,500 करोड़ रुपये का भुगतान किया है. रिलायंस इंडस्ट्रीज ने शनिवार को इसकी जानकारी दी. रिलायंस इंडस्ट्रीज ने 9 सितंबर को इस समझौते का एलान किया था. कंपनी ने उस समय कहा था कि सिल्वर लेक उसकी इकाई रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL) में 7,500 करोड़ रुपये का निवेश करेगी.

RIL ने शनिवार को शेयर बाजारों को बताया कि RRVL को SLP रेनबो होल्डिंग्स प्राइवेट लिमिटेड (सिल्वर लेक) से 7,500 करोड़ रुपये की राशि मिली है.

RIL में सिल्वर लेक का इस साल दूसरा निवेश

शेयर के आवंटन के बाद SLP रेनबो होल्डिंग्स के पास आरआरवीएल की 1.75 फीसदी हिस्सेदारी हो गई है. इस डील में आरआरवीएल का मूल्यांकन 4.21 लाख करोड़ रुपये का किया गया. यह रिलांयस इंडस्ट्रीज की किसी इकाई में सिल्वर लेक का इसी साल में अरबों डॉलर का दूसरा निवेश है. इससे पहले सिल्वर लेक ने जियो प्लेटफॉर्म्स में 1.35 अरब डॉलर निवेश करने का एलान किया था. सिल्वर लेक टेक्नोलॉजी क्षेत्र में निवेश करने वाली अग्रणी वैश्विक कंपनी है. सिल्वर लेक के पास प्रबंधित संपत्तियों और प्रतिबद्ध पूंजी मिलाकर 60 अरब डॉलर से ज्यादा की पूंजी है.

सिल्वर लेक के पास पहले से ही Airbnb, अलीबाबा, अल्फाबेट की Verily और Waymo यूनिट्स, डेल टेक्नोलॉजीज, ट्विटर और कई दूसरी ग्लोबल टेक्नोलॉजी कंपनियों में निवेश है. रिलायंस इंडस्ट्रीज ने अपने खुदरा कारोबार को बढ़ावा देने के लिये पिछले महीने फ्यूचर ग्रुप के खुदरा और लॉजिस्टिक व्यवसायों का 24,713 करोड़ रुपये में अधिग्रहण किया था. जियो प्लेटफॉर्म्स में 9.9 फीसदी की हिस्सेदारी के बदले फेसबुक के द्वारा 43,573.62 करोड़ रुपये का निवेश करने के बाद सिल्वर लेक उसमें (जियो प्लेटफॉर्म्स में) पैसा लगाने वाली अमेरिका की पहली निजी इक्विटी कंपनी रही है.

WhatsApp पर आपकी चैट कितनी सुरक्षित, एंड टू एंड एनक्रिप्शन का क्या है मतलब

सिल्वर लेक ने जियो प्लेटफॉर्म्स में किया था 10 हजार करोड़ का निवेश

सिल्वर लेक ने दो किश्तों में जियो प्लेटफॉर्म्स में कुल 10,202.55 करोड़ रुपये में 2.08 फीसदी हिस्सेदारी की खरीद की है. इसके बाद प्रतिद्वंद्वी निजी इक्विटी कंपनियां केकेआर, विस्टा और जनरल अटलांटिक ने भी जियो की हिस्सेदारी खरीदने के मामले में सिल्वर लेक का अनुसरण किया. जियो के दूसरे उल्लेखनीय निवेशकों में गूगल और अबू धाबी के सॉवरेन वेल्थ फंड मुबाडाला भी शामिल हैं.

इससे पहले दुनिया की दिग्गज इन्वेस्टमेंट कंपनी KKR ने बुधवार को एलान किया था कि वह रिलायंस रिटेल (RRVL) में 5550 करोड़ रुपये निवेश करेगी. इसके बदले कंपनी को रिलायंस रिटेल में 1.28 फीसदी हिस्सेदारी मिलेगी.

बता दें कि RRVL की सहायक कंपनी रिलायंस रिटेल लिमिटेड भारत के सबसे तेजी से बढ़ रहे रिटेल बिजनेस का संचालन करती है. रिलायंस इंडस्ट्रीज के डिजिटल आर्म जियो प्लेटफॉर्म्स की कुछ हिस्सेदारी बेचने के बाद मुकेश अंबानी अपने रिटेल बिजनेस को मजबूत करने की दिशा में बढ़ रहे हैं. इसके लिए उन्हें मजबूत निवेशकों की तलाश है. माना जा रहा है कि रिलायंस इंडस्ट्रीज अपनी सहयोगी कंपनी रिलायंस रिटेल में करीब 10 फीसदी हिस्सेदारी बेचना चाहती है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. मुकेश अंबानी की रिलायंस रिटेल को सिल्वर लेक से मिले 7,500 करोड़, 1.75% हिस्सेदारी के लिए डील

Go to Top