मुख्य समाचार:

लॉकडाउन के दौरान एक महीने में मुकेश अंबानी ने जुटाए 10 अरब डॉलर, जियो में दुनिया की बड़ी कंपनियों का निवेश

मुकेश अंबानी ने एक महीने में 10 अरब डॉलर से ज्यादा का निवेश डिजिटल प्लेटफॉर्म के लिए आकर्षित किया है.

May 23, 2020 2:34 PM
mukesh ambani owned company jio had investment of more than 10 billion dollar in one month during lockdownमुकेश अंबानी ने एक महीने में 10 अरब डॉलर से ज्यादा का निवेश डिजिटल प्लेटफॉर्म के लिए आकर्षित किया है.

एशिया के सबसे अमीर आदमी मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) ने एक महीने में 10 अरब डॉलर से ज्यादा का निवेश अपने भारत में आधारित डिजिटल प्लेटफॉर्म के लिए आकर्षित किया है. यह ऐसे समय में है जब अर्थव्यवस्था को कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए लागू दुनिया के सबसे सख्त लॉकडाउन की वजह से झटका लगा है. न्यू यॉर्क में आधारित KKR एंड कंपनी लेटेस्ट प्राइवेट इक्विटी कंपनी है जिसने जियो प्लेटफॉर्म्स लिमिटेड में निवेश किया है, जो अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड द्वारा कंट्रोल किए जाने वाली कंपनी है.

KKR का जियो में 1.5 अरब डॉलर का निवेश

इस प्राइवेट इक्विटी कंपनी ने जियो में 2.3 फीसदी हिस्सेदारी के लिए 1.5 अरब डॉलर का निवेश किया है. अंबानी जियो में अपनी हिस्सेदारी को बेच रहे हैं जिससे वे मार्च 2021 से पहले अपने ऑयल, रिटेल और टेलिकम्यूनिकेशंस ग्रुप के नेट कर्ज को 20 अरब डॉलर से शून्य पर ला सकें. अमेरिका की बड़ी कंपनियों जैसे फेसबुक, सिल्वर लेक आदि से अंबानी तेल और पेट्रोकेमिकेमिकल के बिजनेस से तेजी से बढ़ते कंज्यूमर बिजनेस की ओर जाना चाहते हैं.

IDBI में इंस्टीट्यूशनल रिसर्च के हेड सुदीप आनंद ने कहा कि रिलायंस इंडस्ट्रीज खुद को ग्लोबल टेक्नोलॉजी कंपनी की तरह पेश कर रही है जिसके साथ इंटरनेशनल टेक्नोलॉजी कंपनियां और निजी इक्विटी कंपनियां जियो में हिस्सेदारी लेना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि यह बिक्री कंपनी द्वारा कैलेंडर ईयर 2020 तक जीरो नेट डेट कंपनी बनने की ओर एक कदम है.

KKR 11,367 करोड़ में खरीदेगी जियो प्लेटफॉर्म्स की 2.32% हिस्सेदारी, 1 माह में 78562 करोड़ का आया निवेश

जियो ने दुनिया की बड़ी कंपनियों को किया आकर्षित

जहां दुनिया की बड़ी कंपनियों जैसे अमेजन और वालमार्ट ने भी भारतीय उपभोक्ता बाजार में ग्रोथ पर बड़ा दांव लगाया है, कंपनियों को भारत में अपने मॉडल को ऑनलाइन बढ़ाने में चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है क्योंकि प्रतिबंध छोटे व्यापारियों की रक्षा करते हैं. अंबानी की योजना ऐसा ई-कॉमर्स बिजनेस विकसित करने की है जहां किराना दुकानें उसके पार्टनर की तरह काम करें.

KKR ने कहा कि जियो में उसका निवेश एशिया में सबसे बड़ा है और अंबानी के लक्ष्यों ने उनके जल्द फैसला लेने में मुख्य भूमिका निभाई है. KKR के भारतीय बिजनेस के प्रमुख संजय नायर ने कहा कि बिजनेस मॉडल भारतीयों की मांग को पूरा करने में सक्षम है. उन्होंने कहा कि कंपनी ने समझौते को 10 दिन में पूरा कर लिया था. उन्होंने कहा कि हमने मुकेश अंबानी के कारोबार के विजन में निवेश किया है जिसके साथ विश्व स्तरीय प्रबंधन भी है. फंड ने टेक कंपनियों में भी किया है जिसमें बीएमसी सॉफ्टवेयर, टिक-टॉक की मालिक ByteDance लिमिटेड आदि शामिल हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. लॉकडाउन के दौरान एक महीने में मुकेश अंबानी ने जुटाए 10 अरब डॉलर, जियो में दुनिया की बड़ी कंपनियों का निवेश

Go to Top