सर्वाधिक पढ़ी गईं

नतीजों के बाद RIL 4 % टूटा, क्‍या आपको लगाना चाहिए दांव या अभी करें इंतजार

तिमाही नतीजों के बाद ब्रोकरेज हाउस भी RIL के शेयर को लेकर अपनी राय बना रहे हैं. जानते हैं कि क्‍या आरआईएल में पैसा लगाना चाहिए या अभी इंतजार करना चाहिए.

Updated: Jan 25, 2021 11:53 AM
mukesh ambani, RIL stocks, RIL Q3 results, reliance industries limited, RIL investors, ril share, brokerage house on RIL, Jio Q3 results, reliance jio, motilal oswal, goldman sachsRIL की टेलिकॉम यूनिट Jio का बिजनेस भी उम्‍मीद से सुस्‍त रहा है.

RIL Stocks: दिसंबर तिमाही के नतीजों के बाद रिलायंस इंडस्‍ट्रीज (RIL) के शेयरों में भारी गिरावट देखने को मिल रही है. 25 जनवरी यानी सोमवार के कारोबार में RIL का शेयर करीब 4 फीसदी टूटकर 1953 रुपये के भाव पर आ गया. शुक्रवार को शेयर 2050 रुपये पर बंद हुआ था. असल में रिलायंस इंडस्‍ट्रीज का एबिटडा उम्‍मीद से कमजोर रहा है. इसके अलावा टेलिकॉम आर्म जियो (Jio) का बिजनेस भी उम्‍मीद से सुस्‍त रहा है. जिसके चलते निवेशक बिकवाली कर रहे हैं. तिमाही नतीजों के बाद ब्रोकरेज हाउस भी आरआईएल के शेयर को लेकर अपनी राय बना रहे हैं. जानते हैं कि क्‍या आरआईएल में पैसा लगाना चाहिए या अभी इंतजार करना चाहिए.

EBITDA उम्‍मीद से कमजोर

रिलायंस इंडस्‍ट्रीज का तीसरी तिमाही में कंसो और स्‍टैंडअलोन EBITDA सालाना आधार पर 5 फीसदी और 33 फीसदी कमजोर हुआ है. जियो का EBITDA में उम्‍मीद के अनुरूप सालाना आधार पर 45 फीसदी ग्रोथ रही है. हालांकि रिटेल बिजनेस में ग्रोथ ने सबको चौंकाया है. जबकि रिटेल बिजनेस में रेवेन्‍यू कमजोर हुआ है.

रेवेन्‍यू पर दबाव

आरआईएल का रेवेन्‍यू मौजूदा वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में गिरकर 1.28 लाख करोड़ पर पहुंच गया, जो एक साल पहले 1.57 लाख करोड़ पर था.  रिफाइनिंग और पेट्रोकेमिकल कारोबार का रेवेन्यू गिरकर 83,838 करोड़ रुपये रहा है. जियो के रेवेन्‍यू ग्रोथ में भी सुस्‍ती रही और यह तिमाही आधार पर 6 फीसदी ही ज्‍यादा रहा है. रिटेल बिजनेस का रेवेन्‍यू 9 फीसदी कमजोर हुआ है.
जियो का सब्‍सक्राइबर ग्रोथ सुस्‍त

रिलायंस जियो की सब्‍सक्राइबर ग्रोथ सुस्‍त रही है. तीसरी तिमाही में कंपनी ने 52 लाख नए सब्‍सक्राइबर्स जोडे हैं और इसमें महज 1 फीसदी ग्रोथ रही है. वहीं एआरपीयू में भी भी 4 फीसदी ही ग्रोथ रही जो उम्‍मीद से कमजोर है. कंपनी का एआरपीयू 151 रुपये हो गया है. आगे जियो की नजर नए ग्रोथ इंजन पर होगा. जियो के कारोबार में तीसरी तिमाही के दौरान सुस्‍ती रही है.

क्‍या है एक्‍सपर्ट की राय?

ब्रोकरेज हाउस मोतीलाल ओसवाल ने शेयर में खरीद की सलाह दी है. ब्रोकरेज ने शेयर के लिए 2325 रुपये का लक्ष्‍य रखा है. शुक्रवार को बंद भाव 2050 के लिहाज से इसमें 13 फीसदी ग्रोथ मिल सकती है. वहीं सोमवार के लो 1953 से इसमें 19 फीसदी ग्रोथ रह सकती है.

ब्रोकरेज हाउस गोल्‍डमैन सेक्‍स ने शेयर में खरीद की सलाह देते हुए लक्ष्‍य 2390 रुपये रखा है. ग्रोकरेज के अनुसार वित्‍त वर्ष 2022 में एबिटडा ग्रोथ 59 फीसदी रह सकती है. वहीं ब्रोकरेज हाउस क्रेडिट सूइस ने शेयर में न्‍यूट्रल रेअिंग देते हुए लक्ष्‍य को 1930 रुपये कर दिया है. ब्रोकरेज के अनुसार O2C और जियो के लिए दिसंबर तिमाही कमजोर रहा है. हालांकि जियो मार्ट और फैशन सेग्‍मेंट में ग्रोथ रही है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. नतीजों के बाद RIL 4 % टूटा, क्‍या आपको लगाना चाहिए दांव या अभी करें इंतजार

Go to Top