सर्वाधिक पढ़ी गईं

मुनाफे में आने के लिए MTNL ने संपत्तियां बेचना, किराए पर देना किया शुरू, 23,000 करोड़ रु है कीमत

सभी संपत्तियां दिल्ली और मुंबई में मुख्य स्थानों पर हैं.

January 2, 2020 8:32 PM

MTNL starts Rs 23,000 cr asset monetisation through DIPAM

सरकारी दूरसंचार कंपनी MTNL ने 23,000 करोड़ रुपये की परिसंपत्ति को भुनाने (किराए पर चढ़ाने या बेचने) की प्रक्रिया शुरू कर दी है. कंपनी की योजना अगले वित्त वर्ष में लाभ की स्थिति में आना है. कंपनी पहले ही 6,200 करोड़ रुपये की परिसंपत्तियों को बेचने या किराए पर चढ़ाने के लिए निवेश और लोक परिसपत्ति प्रबंधन विभाग (दीपम) को योजना सौंप चुकी है. इसमें मुंबई में 36 एकड़ भूमि, दिल्ली में दुकान व कार्यालय, नोएडा में आवासीय मकान इत्यादि शामिल हैं.

MTNL के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक सुनील कुमार ने बताया, “हमने 23,000 करोड़ रुपये की परिसंपत्तियों की पहचान की है, जिसे किराए पर चढ़ाया जा सकता है या फिर बिक्री की जा सकती है. ये सभी संपत्तियां दिल्ली और मुंबई में मुख्य स्थानों पर हैं. हमने दीपम को 6,200 करोड़ रुपये की संपत्ति को बेचने या किराए पर चढ़ाने की योजना सौंपी है. VRS और परिसंपत्ति बिक्री प्रक्रिया के पूरा होने के साथ हमें अगले वित्त वर्ष में लाभ की स्थिति में आने की उम्मीद है.”

14,387 कर्मचारियों ने दिखाई VRS में रुचि

कंपनी के 14,387 कर्मचारियों ने स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना (VRS) में रुचि दिखाई है. कुमार को उम्मीद है कि इससे MTNL को सालाना 1,700 करोड़ रुपये की बचत होगी. घाटे में चल रही इस सरकारी दूरसंचार कंपनी में कुल 18,422 कर्मचारी हैं. उन्होंने कहा कि हम रियल एस्टेट परिसंपत्तियों की बिक्री करके या किराए पर चढ़ाकर 2020-21 में 7,000 करोड़ रुपये जुटाने का लक्ष्य रख रहे हैं. यह पुनरुद्धार योजना का हिस्सा है. इसका इस्तेमाल लोन रिस्ट्रक्चरिंग के साथ-साथ आधुनिकीकरण में किया जाएगा.

HDFC एर्गो की होगी अपोलो म्यूनिख, 1,347 करोड़ में खरीदेगी 50% से ज्यादा हिस्सेदारी

मुंबई की जमीनों की बिक्री से 5,000 करोड़ आने का अनुमान

कंपनी को मुंबई के प्रमुख स्थानों जैसे वसई हिल, मुलुंड, सिम्फोली इत्यादि में अपने भूखंडों की बिक्री से लगभग 5,000 करोड़ रुपये मिलने का अनुमान है. कुमार ने कहा कि MTNL की परिसंपत्तियां प्रमुख स्थानों पर हैं. इन संपत्तियों पर आवासीय के साथ-साथ कमर्शियल परिसर बनाए जा सकते हैं. दिल्ली में भी करीब 1,000 करोड़ रुपये की परिसंपत्तियों को किराए पर चढ़ाने या फिर बेचने की प्रक्रिया शुरू की गई है.

उन्होंने कहा कि MTNL की दिल्ली में सात डीडीए मार्केट में दुकान व कार्यालय, नोएडा में 96 क्वाटर (आवास) और मुंबई में विभिन्न आवासीय परिसरों में 398 मकान हैं. इन्हें इस प्रक्रिया के पहले चरण में शामिल किया जाएगा. कंपनी ने जनपथ में प्राइम ऑफिस स्पेस खुर्शीद लाल और सीजीओ बिल्डिंग में अपने कॉर्पोरेट ऑफिस के कुछ हिस्सों को खाली करना शुरू कर दिया है.

किराए से हर साल 500-600 करोड़ आने की उम्मीद

कुमार ने कहा, “मैं कॉरपोरेट कार्यालय को भी काफी हद तक खाली करने जा रहा हूं. MTNL को किराए के जरिए हर साल 500-600 करोड़ रुपये आने की उम्मीद है.” कंपनी को 2018-19 में 3,388.07 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था और आय 2,085.41 करोड़ रुपये थी. उस पर करीब 20,000 करोड़ रुपये का कर्ज है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. मुनाफे में आने के लिए MTNL ने संपत्तियां बेचना, किराए पर देना किया शुरू, 23,000 करोड़ रु है कीमत
Tags:MTNL

Go to Top