Market Outlook for this Week: रूस-यूक्रेन युद्ध, फेडरल रिजर्व के ब्याज दर पर निर्णय से तय होगी बाजार की दिशा, जानें क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स

Market Outlook for this Week: एक्सपर्ट्स का कहना है कि फेडरल ओपन मार्केट कमिटी (FOMC) की बैठक, रूस-यूक्रेन संघर्ष इस सप्ताह बाजार के लिए अहम ग्लोबल फैक्टर्स रहेंगे.

Market Outlook for this Week
रूस-यूक्रेन युद्ध, ब्याज दर पर अमेरिकी केंद्रीय बैंक के निर्णय और डोमेस्टिक इन्फ्लेशन डाटा से इस सप्ताह शेयर बाजारों की दिशा तय होगी.

Market Outlook for this Week: रूस-यूक्रेन युद्ध, ब्याज दर पर अमेरिकी केंद्रीय बैंक के निर्णय और डोमेस्टिक इन्फ्लेशन डाटा से इस सप्ताह शेयर बाजारों की दिशा तय होगी. एनालिस्ट्स का मानना है कि बाजार में अभी उतार-चढ़ाव का सिलसिला बना रहेगा. स्वस्तिका इन्वेस्टमार्ट के रिसर्च हेड संतोष मीणा ने कहा, ‘‘FOMC की बैठक, रूस-यूक्रेन संघर्ष इस सप्ताह बाजार के लिए अहम ग्लोबल फैक्टर्स रहेंगे. अभी रूस-यूक्रेन तनाव को लेकर अनिश्चितता बनी हुई है. फेडरल ओपन मार्केट कमिटी (FOMC) की बैठक के नतीजे 16 मार्च को आएंगे.’’

मीणा ने कहा कि इन सबके बीच कच्चे तेल की कीमतें और विदेशी निवेशकों का रुख भी भारतीय बाजारों की नज़रिए से अहम होगा. इन्फ्लेशन के आंकड़े 14 मार्च को आएंगे. होली के मौके पर शुक्रवार यानी 18 मार्च को बाजार बंद रहेंगे. बीते सप्ताह बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 1,216.49 अंक या 2.23 प्रतिशत चढ़ा. वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 385.10 अंक या 2.37 प्रतिशत के लाभ में रहा.

FPI की भारतीय बाजारों से लगातार छठे महीने निकासी जारी, मार्च में अब तक 45,608 करोड़ निकाले

बाजार को लेकर एक्सपर्ट्स की राय

  • रेलिगेयर ब्रोकिंग के VP रिसर्च अजित मिश्रा ने कहा, ‘‘यह कम कारोबारी सत्रों वाला सप्ताह रहेगा. सोमवार को बाजार भागीदार औद्योगिक उत्पादन (IIP) के आंकड़ों पर प्रतिक्रिया देंगे. इसी तरह उपभोक्ता मूल्य सूचकांक और थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति के आंकड़े भी आने हैं. अमेरिकी केंद्रीय बैंक की बैठक के नतीजे 16 मार्च को आएंगे. इनपर सभी की निगाह रहेगी.’’
  • मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज के रिटेल रिसर्च हेड सिद्धार्थ खेमका ने कहा, ‘‘विधानसभा चुनाव के नतीजे आ चुके हैं और अब निकट भविष्य में बाजार अन्य अहम फैकटर्स पर प्रतिक्रिया देगा. रूस-यूक्रेन जियो-पॉलिटिकल टेंशन, कच्चे तेल की कीमतों में तेजी, अर्थव्यवस्था पर मुद्रास्फीति दबाव को लेकर रिजर्व बैंक की प्रतिक्रिया आदि पर अब बाजार की निगाह रहेगी. इनके अनुकूल होने तक बाजार में उतार-चढ़ाव कायम रहेगा.’’

LIC IPO: दाखिल दस्तावेजों के आधार पर 12 मई तक लाया जा सकता है आईपीओ, सरकार SEBI में जल्द जमा करेगी फाइनल पेपर

ये फैक्टर्स भी बाजार को कर सकते हैं प्रभावित

रुपये का उतार-चढ़ाव, कच्चे तेल के दाम और फॉरेन इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स का रुख भी बाजार की दिशा को प्रभावित करेगा. सैमको सिक्योरिटीज में इक्विटी रिसर्च हेड येशा शाह ने कहा, ‘‘रूस-यूक्रेन युद्ध और अमेरिकी केंद्रीय बैंक की बैठक इस सप्ताह बाजार के लिए अहम होंगे. डोमेस्टिक इन्फ्लेशन डाटा भी बाजार की दिशा के लिए अहम होगा.’’

(इनपुट-पीटीआई)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

TRENDING NOW

Business News