सर्वाधिक पढ़ी गईं

Macrotech Developers IPO: FY22 का पहला आईपीओ, 483-486 रु है प्राइस बैंड; निवेश के पहले जानें सबकुछ

Lodha Developers IPO Open Today: मुंबई बेस्ड भारत की दिग्गज रियल एस्टेट कंपनी मैक्रोटेक डेवलपर्स लिमिटेड का IPO 7 अप्रैल को खुल रहा है.

April 7, 2021 9:02 AM
Lodha Developers IPO Open TodayLodha Developers IPO Open Today: मुंबई बेस्ड भारत की दिग्गज रियल एस्टेट कंपनी मैक्रोटेक डेवलपर्स लिमिटेड का IPO 7 अप्रैल को खुल रहा है.

Lodha Developers IPO Open Today: मुंबई बेस्ड भारत की दिग्गज रियल एस्टेट कंपनी मैक्रोटेक डेवलपर्स लिमिटेड (Macrotech Developers) का IPO 7 अप्रैल को खुल रहा है. यह वित्त वर्ष 2022 का पहला आईपीओ है. इस आईपीओ में 7 से 9 अप्रैल तक पैसा लगाया जा सकता है. मैक्रोटेक डेवलपर्स लिमिटेड को पहले लोढ़ा डेवलपर्स (Lodha Developers) के नाम से जानते थे. कंपनी का आईपीओ के जरिए 2500 करोड़ रुपये जुटाने का लक्ष्य है. वहीं, इस आईपीओ के लिए कंपनी ने प्राइस बैंड 483-486 रुपये तय किया है. क्या आपको इस आईपीओ में पैसे लगाने चाहिए, निवेश से पहले जान लें जरूरी बातें….

एंकर निवेशकों से जुटाए 740 करोड़

मैक्रोटेक डेवलपर्स लिमिटेड ने आईपीओ आने से पहले ही एंकर इंवेस्टरों से 740 करोड़ रुपये जुटा लिया है. शेयर बाजार को दी गई सूचना के अनुसार कंपनी का कहना है कि उसने 14 एंकर निवेशकों से 740 करोड़ रुपये जुटाए हैं. उसने 486 रुपये प्रति इक्विटी के भाव पर 1.52 करोड़ शेयर एंकर इंवेस्टरों को जारी किये हैं.

लॉट साइज

इस आईपीओ का लॉट 30 शेयर का है. यानी कम से कम 30 शेयरों के लिए बोली लगानी होगी. अपर प्राइस बैंड 480 रुपये के लिहाज से आईपीओ में कम से कम 14580 रुपये लगाने होंगे. इसके बाद 30 के गुणक में बोली लगाई जा सकती है.

किसके लिए कितना रिजर्व

इस IPO में 50 फीसदी शेयर क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल बायर्स (QIPs) के लिए आरक्षित होंगे. वहीं, नॉन-इंस्टीट्यूशनल बायर्स के लिए 15 फीसदी और रिटेल इंवेस्टर्स के लिए 35 फीसदी शेयर आरक्षित होंगे. साथ ही 30 करोड़ रुपये के शेयर कंपनी के कर्मचारियों के लिए रिजर्व हैं.

फंड का कहां होगा इस्तेमाल

इस IPO के जरिए मिलने वाले फंड का इस्तेमाल कंपनी अपना कर्ज घटाने में करेगी. साथ ही कुछ फंड का इस्तेमाल जमीन खरीद और सामान्य कॉर्पोरेट जरूरतों को पूरा करने में होगा. दिसंबर, 2020 तक कंपनी पर 18,662.19 करोड़ रुपये का कुल कर्ज है.

कंपनी ने इस IPO के लिए करीब 10 इंवेस्टमेंट फर्म्स को अपनी लीड मैनेडर नियुक्त किया है. इनमें एक्सिस कैपिटल लिमिटेड, जेपी मॉर्गन इंडिया और कोटक महिंद्रा कैपिटल ग्लोबल कोऑर्डिनेटर्स और बुक रनिंग लीड मैनेजर्स हैं.

साथ ही ICICI Securities, Edelweiss फाइनेंशियल सर्विसेज, IIFL सिक्योरिटीज, जेएम फाइनेंशियल, Yes सिक्योरिटीज, SBI कैपिटल मार्केट्स और बैंक ऑफ बड़ौदा कैपिटल मार्केट्स लीड मैनेजर हैं.

आईपीओ की तीसरी कोशिश

लोढ़ा डेवलपर्स का आईपीओ लाने की यह तीसरी कोशिश है. इसके पहले कंपनी साल 2009 और 2018 में यह प्रयास किया था. एक बार मंदी और दूसरी बार मार्केट सेंटीमेंट कमजोर होने के चलते कंपनी ने हाथ पीछे खींच लिए थे.

कंपनी के बारे में

लोढ़ा ग्रुप को मुंबई में ट्रंप टॉवर्स और लंदन में ग्रोसेवनर स्कॉयर जैसे लग्जरी प्रोजेक्टस के लिए जाना जाता है. दिसंबर तिमाही में कंपनी का टोटल रेवेन्यू 3,160.49 करोड़ रुपये था, जबकि कंपनी को 264.30 करोड़ रुपये का नेट लॉस हुआ था.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Macrotech Developers IPO: FY22 का पहला आईपीओ, 483-486 रु है प्राइस बैंड; निवेश के पहले जानें सबकुछ
Tags:IPO

Go to Top