सर्वाधिक पढ़ी गईं

LTC स्कीम: एडवांस ऑटो लोन से चुकाएं डाउन पेमेंट, पूरा करिए कार का सपना

LTC स्कीम के तहत पूरा फायदा उठाने के लिए यह जरूरी है कि इस राशि से 12% से अधिक GST वाली वस्तुओं या सेवाओं का उपभोग किया जा सकता है.

November 21, 2020 8:34 AM
LTC Scheme PERSON CAN take LTC advance auto loan to buy a car WITH SOME CONDITIONSमोटर व्हीकल पर 12% से अधिक जीएसटी रेट है, इसलिए एलटीसी स्कीम के तहत इसे लिया जा सकता है. (Representational Image)

लीव ट्रैवल कंसेशन (LTC) कैश वाउचर स्कीम का फायदा उठाने के लिए एक केंद्रीय कर्मचारी कौशल डे (नाम बदला हुआ) अपनी पसंद की कार खोज रहे थे. उन्हें 40 लाख की एक स्पोर्ट्स यूटिलिटी व्हीकल्स (SUV) पसंद आई है. लीव ट्रैवल कंसेशन (LTC) के बदले में उन्हें जो राशि मिलेगी, कार की कीमत उससे बहुत अधिक है. ऐसे में कौशल को कार खरीदने के लिए ऑटो लोन की जरूरत पड़ेगी. उन्हें यह राशि एलटीसी कैश वाउचर के तहत एडवांस में भी मिल सकती है.

LTC योजना के तहत 100% तक नकदीकरण

एलटीसी योजना के तहत कर्मचारी को 100 फीसदी तक की राशि का इनकैशमेंट या नकदीकरण होता है और फेयर वैल्यू का 50 फीसदी कर्मचारी को एडवांस में भुगतान होता है. हालांकि अगर इस एडवांस का अगर यूटिलाइज नहीं हो पाता है या पूरी राशि यूटिलाइज नहीं होती है तो इसे एलटीसी एडवांस के प्रावधान के तहत ड्राइंड एंड डिस्टर्बिंग ऑफिसर्स (DDOs) के पास चला जाएगा.

तीन गुने के बराबर राशि खर्च करना अनिवार्य

अगर कोई कर्मचारी एलटीसी एडवांस लेने के बाद सिर्फ एडवांस अमाउंट ही खर्च कर क्लेम करता है तो इसे अंडर-यूटिलाइजेशन के तहत माना जाएगा. ऐसे मामले में बैलेंस अमाउंट को कर्मचारी से रिकवर किया जाएगा.

यह ध्यान रखना जरूरी है कि एलटीसी कैश वाउचर स्कीम के तहत पूरा फायदा उठाने के लिए कर्मचारी को फेयर वैल्यू और लीव इनकैशमेंट की राशि के तीन गुने के बराबर राशि खर्च करनी होगी. यह एलटीसी स्लैब और कर्मचारी के घर के सदस्यों की संख्या पर निर्भर करेगा. इसके अलावा लीव इनकैशमेंट पे-स्केल पर निर्भर करेगा.

12% से अधिक GST वाली वस्तुओं पर उठा सकेंगे फायदा

कौशल के मामले में कार की कीमत 40 लाख है और यह पूरी राशि यूटीलाइज हो जाएगी लेकिन क्या यह योजना किसी कर्मचारी को एलटीसी एडवांस और ऑटो लोन के जरिए कार खरीदने में मदद करती है? इसे यहां समझ सकते हैं कि एलटीसी स्कीम के तहत पूरा फायदा उठाने के लिए यह जरूरी है कि इस राशि से 12 फीसदी से अधिक जीएसटी वाली वस्तुओं या सेवाओं का उपभोग किया जा सकता है. यह भुगतान डिजिटल मोड में किया जाना जरूरी है.

मोटर वेहिकल पर 12 फीसदी से अधिक जीएसटी रेट है, इसलिए एलटीसी स्कीम के तहत इसे लिया जा सकता है. आरएसएम इंडिया के फाउंडर डॉ सुरेश सुराना के मुताबिक योजना के तहत कार खरीदने के लिए एलटीसी एडवांस फैसिलिटी लेकर डाउनपेमेंट चुकाया जा सकता है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. LTC स्कीम: एडवांस ऑटो लोन से चुकाएं डाउन पेमेंट, पूरा करिए कार का सपना

Go to Top