LIC के शेयर में घाटे की होगी भरपाई! तिमाही नतीजों के बाद तेजी का अनुमान, कहां तक जाएगा भाव

Buy or Sell or Hold LIC: ब्रोकरेज हाउस ने LIC के शेयरों में निवेश की सलाह दी है. ब्रोकरेज का कहना है कि कंपनी में यह क्षमता है कि वह अपने सेक्टर में खुद को मार्केट लीडर बनाए रख सकती है.

LIC के शेयर में घाटे की होगी भरपाई! तिमाही नतीजों के बाद तेजी का अनुमान, कहां तक जाएगा भाव
should you buy LIC: तिमाही नतीजों के बाद LIC के शेयरों में आज तेजी देखने को मिल रही है. (reuters)

LIC Stock Price: LIC के शेयरों में आज तेजी देखने को मिल रही है. आज शेयर 3 फीसदी से ज्यादा मजबूत होकर 704 रुपये पर पहुंच गया. जबकि शुक्रवार को यह 682 रुपये पर बंद हुआ था. कंपनी के तिमाही नतीजे बेहद शानदार रहे हैं. जून तिमाही में कंपनी का मुनाफा सालाना आधार पर 250 गुना से ज्यादा बढ़कर 682.9 करोड़ रुपये रहा है, जबकि पिछले साल की इसी अवधि के दौरान कंपनी का शुद्ध लाभ महज 2.6 करोड़ रुपये था. तिमाही नतीजों के बाद ब्रोकरेज हाउस ने शेयर में निवेश की सलाह दी है. ब्रोकरेज हाउस का कहना है कि कंपनी के पास सेकटर में खुद को मार्केट लीडर बनाए रखने की पूरी क्षमता है, खासतौर से ज्यादा मुनाफे वाले सेग्मेंट में.

मार्केट लीडर बनाए रखने की क्षमता

ब्रोकरेज हाउस मोतीलाल ओसवाल ने LIC के शेयरों में निवेश की सलाह दी है. ब्रोकरेज ने शेयर के लिए 830 रुपये का टारगेट रखा है. करंट प्राइस 682 रुपये के लिहाज से इसमें 22 फीसदी रिटर्न संभव है. ब्रोकरेज हाउस का कहना है कि कंपनी में यह क्षमता है कि वह अपने सेक्टर में खुद को मार्केट लीडर बनाए रख सकती है. खसतौर से ज्यादा मुनाफा देने वाले सेग्मेंट में भी वह मार्केट लीडर है. हालांकि, इतने विशाल संगठन के लिए गियर बदलने के लिए एक बेहतर और अच्छे तरीके से निष्पादन की जरूरत है. ब्रोकरेज हाउस का अनुमान है कि LIC FY22-24 के दौरान APE में 13 फीसदी CAGR ग्रोथ दिखा सकती है. जबकि VNB मार्जिन सुधरकर 14.6 फीसदी रह सकता है. RoEV के 12.4 फीसदी पर रहने का अनुमान है. LIC का वैल्युएशन 0.7x FY24E EV पर है जो रिजनेबल लग रहा है. यहां से शेयर में अचछी ग्रोथ आ सकती है.

Rakesh Jhunjhunwala के Titan, Star Health, Metro Brands, NCC, Tata Motors पर ताजा अपडेट, किसमें गिरावट तो किसमें तेजी

IPO प्राइस से अभी भी 28% कमजोर

LIC का शेयर अपने आईपीओ प्राइस से अभी भी 27 फीसदी कमजोर दिख रहा है. आईपीओ प्राइस 949 रुपये था. जबकि शुक्रवार को यह 682 रुपये पर बंद हुआ था. हालांकि आज के कारोबार में यह 704 रुपये पर पहुंच गया. यह शेयर लिस्ट होने के बाद से कभी भी आईपीओ प्राइस को टच नहीं कर पाया. शेयर के लिए 919 रुपये 1 साल का हाई है, जबकि 650 रुपये अबतक का लो लेवल है.

तिमाही आधार पर मुनाफा घटा

LIC का मुनाफा सालाना आधार पर जून तिमाही में 263 गुना बढ़कर 682.9 करोड़ रुपये रहा है, जबकि पिछले साल की इसी अवधि के दौरान कंपनी का शुद्ध लाभ महज 2.6 करोड़ रुपये था. हालांकि तिमाही आधार पर मुनाफे में गिरावट आई है. मार्च 2022 में खत्म तिमाही में एलआईसी ने 2,371.5 करोड़ रुपये का मुनाफा कमाया था. कंपनी मैनेजमेंट का कहना है कि आने वाले दिनों में उसके मुनाफे में स्थिरता आएगी. कंपनी की कुल आय बढ़कर 1,68,881 करोड़ रुपये रही. जबकि पिछले साल की इसी तिमाही के दौरान यह 1,54,153 करोड़ रुपये थी.

प्रीमियम इनकम में 20 फीसदी का इजाफा

पॉजिटिव यह है कि जून तिमाही के दौरान उसकी प्रीमियम इनकम में 20 फीसदी का इजाफा हुआ है. कंपनी के प्रदर्शन में इस सुधार की एक वजह कोविड महामारी से जुड़ी पाबंदियों का हटना भी है. कंपनी के चेयरमैन एम आर कुमार का कहना है कि हालात सामान्य होने की वजह से अब उनका एजेंट आधारित बिजनेस मॉडल फिर पहले की तरह काम करने लगा है, जिसका फायदा कंपनी की नेट प्रीमियम इनकम में ग्रोथ के तौर पर देखने को मिल रहा है. जून तिमाही के दौरान एलआईसी का ग्रॉस वैल्यू ऑफ न्यू बिजनेस (VNB) बढ़कर 1861 करोड़ रुपये हो गया, जबकि वीएनबी मार्जिन 13.6 फीसदी रहा.

(Disclaimer: स्टॉक में निवेश की सलाह ब्रोकरेज हाउस के द्वारा दी गई है. यह फाइनेंशियल एक्सप्रेस के निजी विचार नहीं हैं. बाजार में जोखिम होते हैं, इसलिए निवेश के पहले एक्सपर्ट की राय लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

TRENDING NOW

Business News