मुख्य समाचार:
  1. Gold Prices: 23 दिन में सोना 1865 रुपये हुआ सस्ता, अब 10 ग्राम की कितनी रह गई कीमत

Gold Prices: 23 दिन में सोना 1865 रुपये हुआ सस्ता, अब 10 ग्राम की कितनी रह गई कीमत

Gold: जानिए 10 ग्राम सोने का कितना रह गया भाव

March 15, 2019 5:53 PM
Gold, Gold Prices, Delhi Gold Prices, Bullion Market, सोना, India Gold Prices, 10 ग्राम सोने का भाव, सर्राफा बाजार, Silver Prices, Silver, चांदीGold: जानिए 10 ग्राम सोने का कितना रह गया भाव

Gold Prices Update: आभूषण कारोबारियों की सुस्त मांग के चलते सर्राफा बाजार में सोने में गिरावट रही है. शुक्रवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना 260 रुपये गिरकर 33,110 रुपये प्रति दस ग्राम रह गया. चांदी में भी सुस्ती देखी गई है. चांदी 130 रुपये गिरकर 39,170 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गई है. बता दें कि सर्राफा बाजार में 20 फरवरी को सोना 34975 रुपये के भाव पर पहुंच गया था जो इसका हाई था.

20 फरवरी के बाद 1865 रुपये सस्ता

पिछले महीने सोने में शानदार तेजी देखने को मिली थी. 20 फरवरी को एमसीएक्स पर जहां सोना 34031 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया, वहीं दिल्ली सर्राफा बाजार में सोने ने 34975 का हाई टच किया. हालांकि 20 फरवरी के बाद से सोने में बड़ी गिरावट आ चुकी है. 20 फरवरी से अबतक दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना करीब 1865 रुपये सस्ता हो गया है.

सर्राफा कारोबारियों ने क्या कहा

सर्राफा कारोबारियों ने कहा कि स्थानीय आभूषण कारोबारियों की कमजोर लिवाली से सोने की चमक फीकी पड़ी. हालांकि, वैश्विक स्तर पर मजबूत रुख ने गिरावट को थामने का प्रयास किया. अखिल भारतीय सर्राफा संघ ने कहा कि औद्योगिक इकाइयों और सिक्का निर्माताओं के कम उठाव से चांदी भी 130 रुपये गिरकर 39,170 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गई.

वैश्विक स्तर पर Gold

वैश्विक स्तर पर न्यूयॉर्क में सोना बढ़कर 1303.18 डॉलर प्रति औंस पर रहा जबकि चांदी 15.35 डॉलर प्रति औंस पर स्थिर रही.

प्योरिटी के हिसाब से

दिल्ली सर्राफा बाजार में 99.9 फीसदी और 99.5 फीसदी शुद्धता वाला सोना 260-260 रुपये गिरकर 33110 रुपये और 32,940 रुपये प्रति दस ग्राम पर आ गया. हालांकि, 8 ग्राम वाली गिन्नी 26,400 रुपये प्रति इकाई के पूर्वस्तर पर रही.

चांदी हाजिर 130 रुपये गिरकर 39,170 रुपये प्रति किलोग्राम और साप्ताहिक डिलिवरी 319 रुपये लुढ़क कर 38,342 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गई. चांदी सिक्का लिवाल और बिकवाल 80,000 रुपये और 81,000 रुपये प्रति सैकड़ा के पूर्वस्तर पर रहा.

क्यों आई गिरावट

एक्सपर्ट के अनुसार पिछले दिनों अमेरिका और चीन में ट्रेड वार कम होने का एक सेंटीमेंट बना, जिससे सोने की डिमांड में अचानक से कमी आ गई. वहीं यूएस में डाटा बेहतर आया, जिससे डॉलर को लेकर सेंटीमेंट बदला. विदेशी सर्राफा बाजार में कमजोरी के रुख के बाद घरेलू बाजार में भी डिमांड कमजोर रही. एक और बड़ा कारण था कि दुनियाभर के शेयर बाजारों में तेजी रही, जिससे बुलियन मार्केट की धारणा प्रभावित हुई.

क्यों तेजी के आसार

ग्लोबल अनसर्टेनिटी अभी पूरी तरह से दूर नहीं हुई है. वहीं यूएस और चीन के बीच ट्रेड वार बढ़ने का डर कम जरूर हुआ है लेकिन यह अभी सुलझा नहीं है. क्रूड की कीमतों को लेकर भी अनिश्चितता है, आगे दाम बढ़ सकते हैं. देश का करंट अकाउंट डेफिसिट (CAD) बढ़ने का डर है.

इसके अलावा आने वाले दिनों में अक्षय तृृतीया है, जिसके बाद दशहर और दिवाली को देखते हुए डिमांड बढ़ेगी. यूएस और भारत में इलेक्शन भी होने हैं. ऐसे में बाजार पर भी दबाव रहने की आशंका है. इंडिया और पड़ोसी देश पाकिस्तान में तनाव पूरी तरह कम नहीं हुआ है. इन वजहों से सोने की कीमतों में तेजी आएगी.

Go to Top