सर्वाधिक पढ़ी गईं

आगे लॉर्जकैप मार्केट को देंगे नई दिशा! लंबी अवधि के लिए ऐसे बनाएं स्ट्रैटेजी

घरेलू स्तर पर मैक्रो इकोनॉमिक एन्वायरमेंट बेहतर होता है तो विदेशी निवेशक फिर बाजार में लौटेंगे.

October 25, 2018 7:05 AM
stock market, large cap stocks, invest, return, large cap outlook, stock market outlook, earning, FII, FPIघरेलू स्तर पर मैक्रो इकोनॉमिक एन्वायरमेंट बेहतर होता है तो विदेशी निवेशक फिर बाजार में लौटेंगे.

पिछले 2 महीनों से शेयर बाजार में उतार-चढ़ाव के बीच 30 प्रमुख शेयरों वाला सेंसेक्स 4900 अंक टूट चुका है. इस दौरान कई बेहतर लॉर्जकैप भी गिरावट के बाद आकर्षक वैल्युएशन पर हैं. एक्सपर्ट का मानना है कि सितंबर तिमाही के लिए अर्निंग सीजन बेहतर जा रहा है. आगे घरेलू स्तर पर मैक्रो इकोनॉमिक एन्वायरमेंट बेहतर होता है तो इन दोनों कारणों से विदेशी निवेशक फिर बाजार में लौटेंगे. ऐसे में लॉर्जकैप बाजार को फिर से ड्राइव कर सकते हैं. एक्सपर्ट का कहना है कि लंबी अवधि के नजरिए से मौजूदा समय में लॉर्जकैप सेफ साबित हो सकते हैं.

3 महीने में 45% तक टूटे लॉर्जकैप

पिछले 3 महीने की बात करें तो कई लॉर्जकैप सस्ते हो चुके हैं. इनमें 45 फीसदी तक गिरावट आ चुकी है. जिन शेयरों में सबसे ज्यादा गिरावट रही है, उनमें यस बैंक, टाटा मोटर्स, मारूति सुजुकी, बीपीसीएल, बजाज फिनसर्व, इंडसइंड बैंक, ग्रैसिम, आयशर मोटर्स, महिंद्रा एंड महिंद्रा, अल्ट्राटेक सीमेंट और बजाज फाइनेंस शामिल हैं.

अर्निंग सीजन बेहतर रहने का मिलेगा फायदा

फॉर्च्यून फिस्कल के डायरेक्टर जगदीश ठक्कर का कहना है कि अगर ग्लोबल सेंटीमेंट की बात करें तो रुपये और क्रूड में सुधार हुआ है, हालांकि ट्रेड वार और कुछ अन्य फैक्टर मार्केट में उतार—चढ़ाव जारी रख सकते हैं. लेकिन इस बार जैसे अर्निंग सीजन जा रहा है, ओवरआॅल बेहतर रहने की उम्मीद है. फार्मा और आईटी सेक्टर के भी परफॉर्म करने की उम्मीद है. आगे घरेलू स्तर पर बेहतर मैक्रो वातावरण बनता है तो लॉर्जकैप बेहतर कर सकते हैं. निवेशक अगर इंतजार कर सकते हैं तो सस्ते मिल रहे अच्छे लॉर्जकैप में निवेश करें. शेयर चुनते समय ध्यान रखें कि उनमें मुनाफा आ रहा हो और कोई निगेटिव इश्यू न हो.

बाजार स्थिर होने पर लौटेंगे विदेशी निवेशक

ट्रेड स्विफ्ट के रिसर्च हेड संदीप जैन का कहना है कि लिक्विडिटी घटने का एक बड़ा कारण विदेशी निवेशकों का बाजार से निकलना है. हालांकि इमर्जिंग बाजारों में भारत की स्थिति मजबूत है. बाजार को लेकर सेंटीमेंट बेहतर होने से विदेशी निवेशक फिर घरेलू शेयर बाजार में लौटेंगे. विदेशी निवेशकों और बड़े इन्वेस्टर्स का फोकस लॉर्जकैप पर होता है. ऐसे में बाजार के स्थिर होने पर लॉर्जकैप द्वारा फिर मार्केट को ड्राइव करने की उम्मीद है. उनका कहना है कि लंबी अवधि के लिहाज से अच्छे फंडामेंटल वाले लॉर्जकैप शेयरों में निवेश करना चाहिए. वैसे भी लॉर्जकैप में उतार—चढ़ाव का उतना असर नहीं होता, जितना मिडकैप या स्मालकैप में.

किन शेयरों में मिल सकता है रिटर्न

इंडसइंड बैंक

इंडसइंड बैंक में ब्रोकरेज हाउस अरिहंत कैपिटल ने 1743 रुपये का लक्ष्य रखा है. मौजूदा कीमत 1520 रुपये के लिहाज से शेयर में 15 फीसदी रिटर्न मिल सकता है. बैंक मुनाफे में है और एसेट क्वालिटी में लगातार सुधार हो रहा है. वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में इंडसइंड बैंक का मुनाफा 4.6 फीसदी बढ़कर 920.2 करोड़ रुपए रहा. वहीं, तिमाही आधार पर बैंक का ग्रॉस एनपीए 1.15 फीसदी से घटकर 1.09 फीसदी रहा. नेट एनपीए 0.51 फीसदी से घटकर 0.48 फीसदी रहा है.

HCL टेक

वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में HCL टेक का मुनाफा 5.7 फीसदी बढ़कर 2540 करोड़ रुपये रहा है. रेवेन्यू 19.5 फीसदी बढ़कर 14860 करोड़ रुपये रहा है. डॉलर आय भी बढ़ी है. बोर्ड ने 2 रुपये प्रति शेयर डिविडेंड देने का भी ऐलान किया है. कंपनी का EBIT मार्जिन 19.7 फीसदी से बढ़कर 19.9 फीसदी रहा है. ब्रोकरेज हाउस शेयर खान ने स्टॉक में 1215 रुपये और ब्रोकरेज हाउस प्रभुदास लीलाधर ने 1255 रुपये का लक्ष्य दिया है. करंट प्राइस 986 रुपये के लिहाज से शेयर में 28 फीसदी रिटर्न मिल सकता है.

HDFC बैंक

ब्रोकरेज हाउस दोलत कैपिटल ने शेयर के लिए 2400 रुपये और ब्रोकरेज हाउस केआर चौकसे ने 2350 रुपये का लक्ष्य रखा है. करंट प्राइस 1991 रुपये के लिहाज से शेयर में 21 फीसदी रिटर्न मिल सकता है. दूसरी तिमाही में बैंक के नतीजे उम्मीद के मुताबिक रहे हैं. बैंक का मुनाफा 21 फीसदी बढ़कर 5006 करोड़ रुपये रहा है. नेट एनपीए घटा है. डिपॉजिट और लोन ग्रोथ बेहतर है. एसेट क्वालिटी लगातार बेहतर हो रही है.

(नोट-निवेश की सलाह एक्सपर्ट्स व ब्रोकरेज हाउस के द्वारा दी गई हैं. कृपया अपने स्तर पर या अपने एक्सपर्ट्स के जरिए किसी भी तरह की सलाह की जांच कर लें. मार्केट में निवेश के अपने जोखिम हैं, इसलिए सतर्कता जरूरी है.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. आगे लॉर्जकैप मार्केट को देंगे नई दिशा! लंबी अवधि के लिए ऐसे बनाएं स्ट्रैटेजी

Go to Top