कोटक महिंद्रा बैंक और फेडरल बैंक के शेयर पर रहें अलर्ट, ऐसे बनाएं मुनाफे की स्‍ट्रैटेजी | The Financial Express

Investors Alert: कोटक बैंक और फेडरल बैंक का होगा मर्जर! शेयर को लेकर कैसे बनाएं स्‍ट्रैटेजी

Kotak Mahindra bank, Federal Bank Stock: ब्रोकरेज हाउस एमके ग्‍लोबल का कहना है कि अगर मर्जर होता है तो यह कोटक बैंक और फेडरल बैंक दोनों बैंकों के लिए फायदे का सौदा होगा.

Investors Alert: कोटक बैंक और फेडरल बैंक का होगा मर्जर! शेयर को लेकर कैसे बनाएं स्‍ट्रैटेजी
Banking Stocks: ऐसी खबरें हैं कि फेडरल बैंक के अधिग्रहण के लिए कोटक बैंक बातचीत कर रहा है.

Kotak Mahindra Bank, Federal Bank Merger News: बड़े बैंकों (HDFC Bank-HDFC, एक्सिस बैंक-सिटी कंज्यूमर बैंकिंग) के बीच मर्जर/कंसोलिडेशन के बीच, ऐसी खबरें आ रही हैं कि फेडरल बैंक (Federal Bank) के अधिग्रहण के लिए कोटक महिंद्रा बैंक (Kotak Mahindra Bank ) शुरूआती बातचीत कर रहा है. एक एसओपी के रूप में, फेडरल बैंक ने एक्सचेंज फाइलिंग में स्पष्ट किया है कि यह खबर महज काल्‍पनिक है आज तक, कंपनी के पास ऐसी कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है, जिसे सेबी के मौजूदा दिशानिर्देशों के अनुसार रिपोर्ट करने की आवश्यकता हो. वहीं कोटक बैंक ने ऐसा कोई क्‍लेरिफिकेशन नहीं दिया है. ब्रोकरेज हाउस एमके ग्‍लोबल का कहना है कि अगर मर्जर होता है तो यह दोनों बैंकों के लिए फायदे का सौदा होगा. हालांकि इसके रास्‍ते में कई चुनौतियां हैं.

दोनों शेयरों पर खरीदारी की सलाह

ब्रोकरेज हाउस ने Federal Bank में खरीदारी की सलाह देते हुए 142 रुपये का टारगेट दिया है. पहले इस बैंक पर ब्रोकरेज का टारगेट 142 रुपये था. वहीं ब्रोकरेज हाउस ने Kotak Mahindra Bank में निवेश करने की सलाह दी है और 2,230 रुपये का टारगेट दिया है. पहले इस शेयर के लिए 2,180 रुपये था.

Dreamfolks ServicesIPO Listing: ड्रीमफॉक सर्विसेज की बाजार में दमदार एंट्री, लिस्टिंग पर 55% मिला रिटर्न, शेयर में बने रहें या बेच दें?

मर्जर दोनों बैंकों के लिए फायदेमंद

ब्रोकरेज हाउस एमके ग्‍लोबल के अनुसार यह डील दोनों ही बैंकों के लिए पारस्‍परिक रूप से फायदेमंद हो सकता है. फेडरल बैंक की बात करें तो मर्जर के बारद बड़ा बैंकिंग/प्रोडक्‍ट प्‍लेटफॉर्म हासिल होगा. इसके अलावा बैंक को कैपिटल और प्रोडक्टिविटी गेंस भी हासिल होगा. टेक्‍नोलॉजी इंटीग्रेशन भी ज्‍यादा चुनौती नहीं होगी, क्‍योंकि दोनों बैंक तकनीकी रूप से चुस्त होने के साथ-साथ समान सीबीएस प्लेटफॉर्म पर काम कर रहे हैं.

मर्जर के रास्‍ते में चुनौतियां

ब्रोकरेज का कहना है कि Federal Bank के प्रमोटर्स नहीं हैं, लेकिन उनके शेयरहोल्‍डर्स में ICICI Pru MF (5.8%), HDFC MF (4.6%), रिलायंस कैपिटल ट्रस्‍टी (3.8%), राकेश (3.6%) और यूसुफ अली (Lulu Group) जैसे नाम हैं, जो विलय में बड़ी रुकावट बन सकते हैं. वहीं फेडरल बैंक के कर्मचारी संघ का भी इसे लेकर प्रतिरोध है. फेडरल बैंक के लगभग 80 फीसदी कर्मचारी यूनियनों का हिस्सा हैं. कर्मचारी संघ ऐसे किसी भी अधिग्रहण को रोक सकते हैं. ऐसे में यह डील आसान नहीं लग रही है.

रिपोर्ट के अनुसार इसके पहले ICICI Bank की योजना Federal Bank के अधिग्रहण की थी, लेकिन कर्मचारी यूनियन के विरोध की वजह से ऐसा नहीं हो पाया.

(Disclaimer: स्टॉक में निवेश की सलाह ब्रोकरेज हाउस के द्वारा दी गई है. यह फाइनेंशियल एक्सप्रेस के निजी विचार नहीं हैं. बाजार में जोखिम होते हैं, इसलिए निवेश के पहले एक्सपर्ट की राय लें.)  

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

TRENDING NOW

Business News