मुख्य समाचार:

Cafe Coffee Day: वीजी सिद्धार्थ कैसे बने कॉफी किंग? 5 लाख से अरबपति बनने की कहानी

वीजी सिद्दार्थ के कॉफी किंग बनने की कहानी

July 30, 2019 1:08 PM
VG Sidhartha, success story of VG Sidhartha, CCD, coffee cafe day, coffee day enterprises, वीजी सिद्दार्थ, how VG Sidhartha become coffee kingवीजी सिद्दार्थ के कॉफी किंग बनने की कहानी

देश के कॉफी किंग यानी कैफे चेन CCD (कॉफी कैफे डे) के मालिक वीजी सिद्धार्थ अचानक से लापता हो गए हैं. पिछले कुछ दिनों से कारोबार को लेकर उन पर काफी दबाव था. साल 2017 से ही वह अघोषित संपत्ति को लेकर इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की जांच के घेरे में भी हैं. फिलहाल लापता होने के पहले उन्होंने एक लेटर भी लिखा है, जिसमें उन्होंने जिक्र किया है कि उन्होंने संघर्ष बहुत किया लेकिन कारोबार को मुनाफे में नहीं ला पाए. भले ही उन्होंने कारोबारी के रूप में खुद की असफलता का जिक्र किया हो, वह बिजनेस में एक मिसाल भी बने हैं. जानते हैं उनका सफर…..

परिवार से मिली विरासत को नहीं बनाया सहारा

कर्नाटक के चिकमंगलुरू में जन्मे सिद्धार्थ का नाता ऐसे परिवार से है, जो लंबे समय से कॉफी बिजनेस से जुड़ा था. उनके परिवार के पास कॉफी के बागान थे, जिसमें महंगी कॉफी उगाई जाती थी. हालांकि उन्होंने परिवार से मिली इस विरासत को अपना सहारा नहीं बनाया और मंगलुरू यूनिवर्सिटी से इकोनॉमिक्स में मास्टर डिग्री ली. वह बाद में मुंबई आ गए और जेएम फाइनेंशियल सर्विसेज (अब जेएम मॉर्गन स्टैनली) में मैनेजमेंट ट्रेनी के रूप में काम की शुरुआत की. यहां से उन्होंने शेयर बाजार की अच्छी समझ डेवलप की.

कारोबारी बनने का सफर

मुंबई से मंगलुरू लौटने पर पिता ने उन्हें 5 लाख रुपये बिजनेस शुरू करने के लिए दिए. सबसे पहले उन्होंने सिवान सिक्युरिटीज के नाम से फाइनेंशियल कंपनी शुरू की, जिसका नाम बाद में Way2wealth सिक्युरिटीज लिमिटेड हो गया. यह कंपनी देश की बड़ी फाइनेंशियल और स्टॉक ब्रोकिंग कंपनी बनी.

शुरू किया कॉफी बिजनेस

इसके बाद सिद्धार्थ ने कर्नाटक में कॉफी बिजनेस शुरू किया. उन्होंने घरेलू और ग्लोबल स्तर पर कॉफी बेचना शुरू किया. उनकी कॉफी ट्रेडिंग कंपनी अमलगामेटेड बीन कंपनी (ABC) का सालाना टर्नओवर 2500 करोड़ हो गया.

कॉफी कैफे डे की शुरुआत

सिद्धार्थ ने 1996 में कॉफी कैफे डे की शुरुआत की. उनका यह कारोबार बेहद सफल रहा और वह देश में कॉफी किंग के नाम से मशहूर हो गए. कंपनी के पास आज 1750 कैफे हैं. भारत के अलावा ऑस्ट्रिया, कराची, दुबई और चेक रिपब्लिक में भी कंपनी के आउटलेट हैं. हालांकि, पिछले 2 साल में सीसीडी के विस्तार की रफ्तार घटी है. कंपनी पर कर्ज भी बढ़ा है. कंपनी के कुछ स्टोर बंद भी हुए.

अन्य बिजनेस

सीसीडी के अलावा उन्होंने माइंडड्री, ग्लोबल टेक्नोलॉजी वेंचर्स लिमिटेड, डार्क फॉरेस्ट फर्नीचर कंपनी, SICAL लॉजिलिस्टिक्स में भी निवेश किया. उन्होंने 3000 एकड़ जमीन पर केले के पेड़ लगाए और केले का निर्यात भी करने लगे.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Cafe Coffee Day: वीजी सिद्धार्थ कैसे बने कॉफी किंग? 5 लाख से अरबपति बनने की कहानी

Go to Top