मुख्य समाचार:

Monsoon Stocks: बेहतर मानसून से कम होगा COVID-19 का असर! ये शेयर दे सकते हैं अच्छा रिटर्न

Monsoon Stocks 2020: एक्सपर्ट भी मान रहे हैं कि निश्चित तौर पर बेहतर मॉनसून से महामारी से होने वाले नुकसान की कुछ हद तक भरपाई जरूर होगी.

Updated: Sep 02, 2020 10:30 AM
Monsoon Stocks, Better Monsoon in India, commodity stocks, what importance of better monsoon for stock market, best monsoon stocks, consumer based stocks, FMCG stocks, auto stocks, rainfall in indiaMonsoon Stocks: एक्सपर्ट भी मान रहे हैं कि निश्चित तौर पर बेहतर मॉनसून से महामारी से होने वाले नुकसान की कुछ हद तक भरपाई जरूर होगी.

Monsoon Dependent Stocks 2020: COVID-19 ने देश की अर्थव्यवस्था पर गहरा असर डाला है और जून तिमाही में जीडीपी ग्रोथ निगेटिव 23.9 फीसदी रही है. कोरोना वायरस महामारी रोकने के लिए अभी कोई कारगर उपाय बाजार में नहीं आ सका है, इसलिए आगे भी अर्थव्यवस्था को लेकर अनिश्चितता है. लेकिन इस अनिश्चितता के बीच बेहतर मॉनसून से अर्थव्यवस्था में रिकवरी की उम्मीद जगाई है. एक्सपर्ट भी मान रहे हैं कि निश्चित तौर पर बेहतर मॉनसून से महामारी से होने वाले नुकसान की कुछ हद तक भरपाई जरूर होगी. खासतौर से रूरल एरिया से डिमांड बढ़ने से कंज्यूमर फोकस्ड और रूरल सेक्टर से जुड़ी कंपनियों को फायदा होगा.

इस साल जमकर हुई बारिश

इस साल अगस्त महीने में देशभर में सामान्य से 27 फीसदी ज्यादा बारिश हुई है. भारत मौसम विभाग (IMD) के अनुसार यह 120 साल में सबसे ज्यादा बारिया के मामले में चौथे नंबर पर है. ओवरआल बारिश देखें तो 1 जून से 31 अगस्त के बीच देशभर में सामान्य से 10 फीसदी ज्यादा बारिश हुई है. पूरे सीजन के दौरान सामान्य से 104 फीसदी बारिश का अनुमान है. फिलहाल बेहतर मानसून इस मंदी के दौर में रूरल एरिया के लिए वरदान से कम नहीं है. इससे न सिर्फ खरीफ की पैदावार ज्यादा होगी, रूरल इनकम भी बढ़ेगी. जिससे मांग बढ़ाने में सफलता मिलेगी.

इस साल बेहतर मानसून के क्या मायने

फॉर्चून फिस्कल के डायरेक्टर जगदीश ठक्कर का कहना है कि इस साल बेहतर मानसून कई मायने में महत्वपूर्ण हो जाता है, जब देश की अर्थव्यवस्था निगेटिव में चल रही है. अच्छी बारिश होने से किसानों ने इस बार जमकर बुआई की है. फसलों का रकबा बढ़ा है. खरीफ की फसलों की अच्छी पैदावार से रूरल आय में बढ़ोत्तरी होगी. वहीं इससे रोजगार भी बढ़ेंगे. लोगों के पास पैसे आएंगे तो डिमांड बढ़ेगी. इससे कंज्यूमर बेस्ड कंपनियों के साथ ही फाइनेंस कंपनियों और रूरल सेक्टर पर फोकस कंपनियों को भी फायदा होगा. ऐसे में कमजोर मांग के दौर में मानसून ने बेहतर उम्मीद जताई है.

बता दें कि देश की अर्थव्यवस्था में रूरल सेक्टर का बड़ा योगदान है. रूरल इंडिया का देश की जीडीपी में 53 फीसदी योगदान है. वैसे भी रूरल एरिया पर अर्बन एरिया की तरह लॉकडाउन का असर नहीं है.

कई सेक्टर को फायदा

केडिया कमोडिटी के एडवाइजर अजय केडिया कहना है कि इस बार मॉनूसन सामान्य से बेहतर रहा है, जिससे खेती किसानी में तेजी आई है. इससे बीज, फर्टिलाइजर, कृषि के उपकरण, पंप आदि की मांग बेहतर रही है. इस वजह से इनसे जुड़ी कंपनियां आगे बेहतर नतीजे दे सकती हैं. वहीं, अच्छी पैदावार की वजह से रूरल इनकम बढ़ी तो मांग बढ़ेगी. इससे एफएमसीजी, आटो सेक्टर खासतौर से टू व्हीलर और कज्यूमर गुड्स की मांग बढ़ती है. यानी मॉनसून से कई सेक्टर को फायदा होता है.

किन शेयरों में मिल सकती है ग्रोथ

चोलामंडलम सिक्युरिटीज ने कावेरी सीड्स में 706 रुपये के लक्ष्य के साथ निवेश की सलाह दी है. शेयर का करंट प्राइस 582 रुपये है, इस लिहाज से शेयर में 21 फीसदी रिटर्न मिल सकता है.

केडिया एडवाइजरी के डायरेक्टर अजय केडिया ने हीरो मोटोकॉर्प में 3800 रुपये के लक्ष्य के हिसाब से निवेश की सलाह दी है. शेयर का करंट प्राइस 3000 रुपये है, इस लिहाज से इसमें 27 फीसदी रिटर्न मिल सकता है. इसके अलावा केडिया ने एस्कार्ट लिमिटेड में 1600 रुपये के लक्ष्य के साथ निवेश की सलाह दी है. करंट प्राइस 1117 रुपये के लिहाज से शेयर में 43 फीसदी रिटर्न मिल सकता है.

ब्रोकरेज हाउस मोतीलाल ओसवाल ने आयशर मोटर्स में 24,750 रुपये, कोलगेट में 1660 रुपये और वोल्टास में 700 रुपये का लक्ष्य दिया है.  ब्रोकरेज हाउस जियोजीत ने कोरोमंडल इंटरनेशनल में 942 रुपये का लक्ष्य दिया है.

(नोट: शेयर में हमने सलाह एक्सपर्ट और ब्रोकरेज हाउस की बात चीत के आधार पर दी है. बाजार के जोखिम को देखते हुए निवेश के पहले एक्सपर्ट की राय लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Monsoon Stocks: बेहतर मानसून से कम होगा COVID-19 का असर! ये शेयर दे सकते हैं अच्छा रिटर्न

Go to Top