सर्वाधिक पढ़ी गईं

RBI बूस्टर 2.0: बैंक, NBFC और माइक्रोफाइनेंस कंपनियों को फायदा, कमाई के लिए इन 5 शेयरों पर रखें नजर

RBI के लिक्विडिटी बूस्टर पार्ट 2 के बाद इन शेयरों को मिल सकता है फायदा.

April 21, 2020 8:31 AM
Bank, NBFCs, microfinance companies stocks, Liquidity Booster, keep eyes on these 5 stocks, best stock tips, TLTRO 2.0, reverse repo rateRBI के लिक्विडिटी बूस्टर पार्ट 2 के बाद इन शेयरों को मिल सकता है फायदा

पिछले हफ्ते रिजर्व बैंक आफ इंडिया ने सिस्टम में लिक्विडिटी बढ़ाने के लिए कुछ बड़े एलान किए. आरबीआई ने 50 हजार करोड़ के टारगेटेड लांग टर्म रेपो आपरेशन (TLTRO) 2.0 की शुरूआत की, जिसे जरूरत पड़ने पर 50 हजार करोड़ और बढ़ाने की बात कही. वहीं रिवर्स रेपो रेट में 25 अंकों की कटौती की है. कोरोना वायरस महामारी के चलते अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए आरबीआई के एलानों से जहां सिस्टम में लिक्विडिटी बढ़ने में आसानी होगी. वहीं इससे बैंक, एनबीएफसी और माइक्रो फाइनेंस कंपनियों को फायदा होगा. ब्रोकरेज हाउस इसके बाद से इन सेक्टर्स के कुछ खास शेयरों पर नजर रखने की सलाह दे रहे हैं, जिनमें इन उपायों के बाद ग्रोथ देखने को मिल सकती है.

उपायों से क्रेडिट ग्रोथ बढ़ेगा

ब्रोकरेज हाउस मोतीलाल ओसवाल के मुताबिक आरबीआई ने टारगेटेड लांग टर्म रेपो आपरेशन (TLTRO) 2.0 की शुरूआत 50 हजार करोड़ रुपये से की है. जरूरत पड़ने पर इसे 50 हजार करोड़ से ज्यादा भी बढ़ाया जा सकता है. बैंकों को इसके जरिए जो फंड मिलेंगे, उनका 50 फीसदी निवेश 1 महीने के अंदर उन्हें एनबीएफसी में करना होगा. ब्रोकरेज रिपोर्ट के अनुसार यह पैसा बैंक एनबीएफसी के बांड, एनसीडी आदि खरीदने में लगाएंगे. इससे एनबीएफसी को फायदा होगा, वहीं कॉरपोरेट बांड मार्केट को भी बूस्ट मिलेगा.

आरबीआई ने रिवर्स रेपो रेट में 25 अंकों की कटौती कर दी है. इससे लिक्विडिटी बढ़ाने के साथ लोन देने की क्षमता भी बढ़ेगी, जिसका फायदा बैंकों के साथ एनबीएफसी को भी होगा. सिडबी, नबार्ड और एनएचबी के जरिए स्पेशन रीफाइनेंस फैसिलिटी भी दी है.

इन 5 शेयरों पर रखें नजर

ब्रोकरेज हाउस एमके ग्लोबल के अनुसार आरबीआई ने एनपीए नियमों में बैंकों को 90 दिन की राहत दी है. मोरेटोरियम पीरियड में एनपीए को नहीं गिना जाएगा. इससे बैंक लोन का एनपीए में बदलने का डर खत्म होगा. वहीं आरबीआई के उपायों से लिक्विडिटी बढ़ाने में मदद मिलेगी. हालासंकि एनबीएफसी पर अभी लिक्विडिटी प्रेशर बना रहेगा. वहीं प्रोविजनिंग को लेकर भी चिंता रहेगी. ब्रोकरेज के अनुसार कोविड 19 को लेकर अनिश्चितता से बैंकिंग और एनबीएफसी में अभी दबाव रहेगा, लेकिन इन उपायों के बाद कुछ क्वालिटी शेयरों नजर रख सकते हैं. एनबीएफसी सेग्मेंट में ब्रोकरेज ने HDFC और बजाज फाइनेंस पर भरोसा जताया है. वहीं बैंकिंग सेक्टर में ICICI बैंक, HDFC बैंक और SBI में निवेश की सलाह दी है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. RBI बूस्टर 2.0: बैंक, NBFC और माइक्रोफाइनेंस कंपनियों को फायदा, कमाई के लिए इन 5 शेयरों पर रखें नजर

Go to Top